Cricketers who announced his retirement form international cricket in the year 2018

इस साल क्रिकेट के मैदान पर कई रिकॉर्ड बने तो रिकॉर्ड बनाने वाले कई खिलाड़ियों ने क्रिकेट को अलविदा भी कहा। दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज एबी डिविलियर्स हो या फिर गौतम गंभीर इनके संन्यास एक पल के लिए फैंस को सन्न जरूर कर दिया। चलिए जानते हैं ऐेसे ही कुछ दिग्गजों के बारे में जिन्होंने साल 2018 में क्रिकेट से की संन्यास की घोषणा।

गौतम गंभीर

भारतीय टीम को दो विश्व कप खिताब दिलाने में अहम किरदार निभाने वाले गौतम गंभीर ने साल के आखिरी में क्रिकेट को अलविदा कह दिया। 3 दिसंबर को गंभीर ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी। गंभीर ने भारत की तरफ से 58 टेस्ट, 147 वनडे और 37 टी-20 खेले। गंभीर के नाम टेस्ट में 41.95 की औसत से 4154, वनडे में 5238 जबकि टी-20 में 932 रन हैं।

Alastair Cook Getty Images

एलिस्टर कुक

टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के सबसे सफल बल्लेबाज और पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक ने भी इस साल भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद क्रिकेट को अलविदा कह दिया। कुक ने अपने आखिरी टेस्ट में 147 रन की पारी खेली और शतक के साथ करियर खत्म करने वाले दुनिया के पांचवें बल्लेबाज बने। इंग्लैंड की तरफ ने 161 टेस्ट मैच में 45.35 की औसत से 12272 रन बनाए जिसमें 33 शतक शामिल थे। 92 वनडे कुक ने कुल 3204 रन बनाए जबकि उन्होंने चार टी20 मैच भी खेला।

AB de Villiers  Getty Images

एबी डिविलियर्स

मिस्टर 360 के नाम से मशहूर दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट लीजेंड एबी डिविलियर्स ने इस साल मई में अचानक इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह सबको चौंका दिया। डिविलियर्स ने तीनों फॉर्मेट ही फॉर्मेट से संन्यास की घोषणा कर ली लेकिन घरेलू और लीग क्रिकेट खेलना जारी रखने का एलान किया। एबी ने 114 टेस्ट में 8765 जबकि 228 वनडे में 9577 रन बनाए वहीं टी20 में उनके नाम 1672 रन हैं। उन्होंने टेस्ट में 22 जबकि वनडे में 25 शतकीय पारी खेली।

केविन पीटरसन

इंग्लैंड के विवादित क्रिकेटर केविन पीटरसन ने लंबे समय से टीम में जगह ना मिलने के बाद मार्च में संन्यास का एलान कर दिया। जनवरी 2014 में आखिरी मैच खेलने वाले पीटरसन ने इंग्लैंड के लिए कुल 104 टेस्ट में 47 की औसत से 8181 रन बनाए जबकि 136 वनडे में उनके नाम 4440 रन हैं। टेस्ट में पीटरसन ने 23 जबकि वनडे में 9 शतक हैं। टी20 विश्व जीतने वाली टीम का हिस्सा रहे पीटरसन ने इस फॉर्मेट में 1176 रन बनाए हैं।

मोहम्मद कैफ

भारत को इंग्लैंड के नेटवेस्ट ट्रॉफी का यादगार फाइनल मैच जिताने वाले बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने भी इस साल जुलाई में संन्यास ले लिया। कैफ ने नवंबर 2006 में भारत की तरफ से आखरी वनडे खेला था। कैफ ने भारत की तरफ से 13 टेस्ट और 125 वनडे मैच खेले। टेस्ट में कैफ के नाम 624 जबकि वनडे 2753 रन हैं।

आरपी सिंह

2007 टी20 विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा रहे तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने सितंबर में क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट से रिटायरमेंट की घोषणा की दी। आरपी ने साल 2011 में इंग्लैंड के खिलाफ अंतिम वनडे मैच खेला था। आर पी ने भारत की तरफ से कुल 14 टेस्ट, 58 वनडे और 10 टी-20 मैच खेले।

praveen kumar

प्रवीण कुमार

मेरठ के गेंदबाज प्रवीण कुमार ने अक्टूबर में क्रिकेट के सभी फॉर्मेट को अलविदा कह दिया। प्रवीण ने भारत के लिए 11 टेस्ट में 27 विकेट लिए जबकि 67 वनडे पारियों में 77 विकेट हासिल किए। भारत की तरफ से 10 टी-20 में उनके नाम 8 विकेट हैं।

मुनाफ पटेल

विश्‍व कप विजेता टीम के सदस्‍य रहे भारतीय तेज गेंदबाज मुनाफ पटेल ने नवंबर में क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्‍यास ले लिया। दाएं हाथ के 35 वर्षीय इस तेज गेंदबाज ने अपना अंतिम इंटरनेशनल मैच सितंबर, 2011 में इंग्‍लैंड के खिलाफ वनडे खेला था। उन्होंने भारत के लिए 13 टेस्ट, 70 वनडे और तीन टी-20 मैच खेले।

मोर्ने मोर्कल

दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्कल ने इसी साल अपने 12 साल लंबे क्रिकेट करियर को खत्म करना का एलान किया। भारत के खिलाफ साल 2006 में करियर की शुरुआत करने वाले मोर्कल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना आखिरी मैच खेला। मोर्कल ने प्रोटियाज टीम की तरफ से कुल 86 टेस्ट, 117 वनडे और 44 टी-20 खेले। टेस्ट में मॉर्कल ने 309, वनडे में 188 विकेट और टी-20 में 47 विकेट हासिल किए।

Rangna Herath ians

रंगना हेराथ

श्रीलंका क्रिकेट के दिग्गज स्पिनर रंगना हेराथ ने भी साल के अंत में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी। नवंबर में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज उनके करियर का आखिरी मुकाबला रहा। टेस्ट में हेराथ के नाम मुथैया मुरलीधरण के बाद सबसे ज्यादा विकेट हैं। श्रीलंका के लिए 93 टेस्ट खेलकर हेराथ ने कुल 433 विकेट हासिल किए इस दौरान 34 बार उन्होंने 5 या उससे ज्यादा विकेट हासिल किए। 71 वनडे में उन्होंने 74 जबकि 17 टी20 मुकाबलों में 18 विकेट हासिल किए।