इन खिलाड़ियों के रहते हुए सबसे ज्यादा बार जीती हैं इनकी टीमें
फोटो साभार: www.telegraph.co.uk

वनडे क्रिकेट साल 1971 से खेला जा रहा है और अब तक लगभग 5000 से ज्यादा वनडे क्रिकेट मैच खेले जा चुके हैं। इस दौरान सबसे ज्यादा वनडे खेलने वाली टीम, इंडिया है जिसने अब तक कुल 899 वनडे खेले हैं। इस दौरान वर्ल्ड में सबसे ज्यादा 454 वनडे मैच जीतने का रिकॉर्ड भी भारत के नाम ही है। अब ऐसे में सवाल उठता है कि दुनिया के ऐसे कौन से खिलाड़ी होंगे जो सबसे ज्यादा बार अपनी टीम की जीत में शामिल रहे हैं? जाहिर है कि इन खिलाड़ियों का टीम की सफलता अहम योगदान रहा होगा। तो आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ चुनिंदा खिलाड़ियों के बारे में।

5. इंजमाम उल हक:

Cricketers who have been the part of most wins by their respective teams
फोटो साभार: Getty Images

पाकिस्तान के बेहतरीन खिलाड़ियो में से एक इंजमाम उल हक ने पाकिस्तान के लिए साल 1991 से 2007 तक वनडे क्रिकेट खेली। इस दौरान उन्होंने 378 वनडे खेले जिसमें वह कुल 215 मौकों पर टीम की जीत का हिस्सा रहे। वैसे जिस काल में वह पाकिस्तान टीम की ओर से खेले वह बेहतरीन टीम रही। उनके टीम में रहते हुए पाकिस्तान ने साल 1992 का विश्व कप जीता और 1999 का वर्ल्डकप फाइनल भी खेला। इंजमाम पाकिस्तान टीम के कप्तान भी रहे और उन्होंने 90 वनडे मैचों में कप्तानी करते हुए कुल 34 मैचों में पाकिस्तान को जीत दिलवाई। इंजमाम के नाम वनडे में 11,739 रन दर्ज हैं जिसमें 10 शतक और 83 अर्धशतक शामिल हैं। [ये भी पढ़ें:]

4. महेला जयवर्धने:

Cricketers who have been the part of most wins by their respective teams
फोटो साभार: sportsmirchi.com

श्रीलंका के महेला जयवर्धने ने साल 1998 से 2015 तक श्रीलंका के लिए वनडे क्रिकेट खेली। इस दौरान उन्होंने 448 वनडे खेले और अपनी टीम की जीत का हिस्सा कुल 229 मौकों पर रहे। जयवर्धने के नाम वनडे में कुल रन 12,650 हैं। साथ ही वह 19 शतक और 77 अर्धशतक जड़ने में भी कामयाब हुए हैं। जयवर्धने को एक सफल बल्लेबाज माना जाता था लेकिन अगर उनके करियर बैटिंग औसत पर नजर डालें तो वह 33.37 का ही नजर आता है जो बहुत कम है। जयवर्धने ने बतौर खिलाड़ी दो विश्व कप फाइनल(2007 और 2011) खेले।

3. सनथ जयसूर्या:

Cricketers who have been the part of most wins by their respective teams
फोटो साभार: Getty Images

विश्व के विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक श्रीलंका के खब्बू बल्लेबाज सनथ जयसूर्या ने साल 1989 से 2011 तक श्रीलंका के लिए वनडे क्रिकेट खेली। इस दौरान उन्होंने 445 वनडे खेले और कुल 233 मौकों पर टीम की जीत का हिस्सा रहे। जयसूर्या ने अपने वनडे करियर में 32.36 की औसत के साथ 13430 रन बनाए जिसमें 28 शतक और 68 अर्धशतक शामिल हैं। जयसूर्या अपने समय के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक थे। उन्होंने साल 1996 में महज 17 गेंदों में अर्धशतक जड़ दिया था। यह रिकॉर्ड अगले डेढ़ दशक तक तोड़ा नहीं जा सका।

2. सचिन तेंदुलकर:

Cricketers who have been the part of most wins by their respective teams
फोटो साभार: timesofindia.indiatimes.com

भारत के मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर की फॉर्म को एक दौर में टीम इंडिया की जीत की गारंटी माना जाता था। ऐसा होता भी था कि अगर सचिन का बल्ला चल गया को विपक्षी टीमों के हौंसले पस्त हो जाते थे। अपने 24 साल के वनडे करियर में कुल 463 वनडे खेलने वाले सचिन तेंदुलकर कुल 234 मौकों पर भारतीय टीम की जीत का हिस्सा रहे। सचिन तेंदुलकर भारत की 2011 विश्व कप जीत का हिस्सा थे। सचिन के नाम वनडे में सबसे ज्यादा 18426 रन दर्ज हैं। सचिन के नाम वनडे में सर्वाधिक 49 शतक जड़ने का रिकॉर्ड है।

1. रिकी पोंटिंग:

Cricketers who have been the part of most wins by their respective teams
फोटो साभार: allin1platform.com

रिकी पोंटिंग दुनिया के उन चंद क्रिकेटरों में से एक हैं जो अपनी टीम की तीन विश्व कप जीतों का हिस्सा रहे। रिकी पोंटिंग के टीम में रहते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 1999, 2003 और 2007 का विश्व कप जीता। पोंटिंग ने अपने करियर में कुल 375 वनडे खेले जिनमें वह रिकॉर्ड 262 मैचों में टीम की जीत का हिस्सा रहे। पोंटिंग के नाम वनडे में कुल 13,704 रन दर्ज हैं। पोंटिंग ने अपने वनडे करियर में कुल 30 शतक जड़े हैं जो सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे नंबर पर हैं।