क्या आपको याद हैं सचिन और क्रिकेट से जुड़े ये विज्ञापन?
फोटो साभार: dnaindia.com

जमाना बदल गया है लेकिन 1990 से 2005 तक का जो दौर था वह आज भी हमारे जेहन में है। क्रिकेट से लेकर फिल्म/ विज्ञापनों तक इस दौर में जिस तरीके से प्रयोग देखने को मिले उसने अमूमन सभी के दिलों को बाग बाग कर दिया। 1990 के बाद से केबल और टेलीवीजन ने क्रिकेट को घर- घर तक तो पहुंचाया ही साथ ही नए नवेले विज्ञापन कैंपेनों ने क्रिकेट व क्रिकेटरों को आर्थिक रूप से भी संपन्न बनाया। चाहे व 1996 में दूसरी बार टीमों का मैदान पर रंगीन कपड़ों के साथ उतरना हो या इसी दौर में क्रिकेट से जुड़ा हुआ अमूल का चटखारे लेता हुआ विज्ञापन। हर बात अपने में कुछ खास रही। आज हम गुजरे जमाने के उन्हीं कुछ विज्ञापनों से आपको रूबरू कराने जा रहे हैं जो आपको उस खूबसूरत समय में फिर से वापस ले जाएंगे।

© Getty Images(thecricketmonthly.com)
© Getty Images(thecricketmonthly.com)

1. 1996 में दूसरी बार विश्व कप भारतीय उपमहाद्वीप में आयोजित किया गया और इस विश्व कप की ऑफिसियल ड्रिंक कोका- कोला थी। लेकिन पेप्सी ने अपने जबरदस्त कैंपेन के साथ मैदान के अंदर व बाहर लोगों को खूब लुभाया। कोका- कोला दूसरी बार भारतीय बाजार में इस विश्व कप के साथ लौटा था। इसके पहले साल 1977 में भारत सरकार ने कोक को भारतीय बाजार से बैन कर दिया था। लेकिन पेप्सी के ऑफिसियल वाले चर्चित एड ने कोक को पीछे छोड़ दिया। 

फोटो साभार: PA Photos(thecricketmonthly.com)
फोटो साभार: PA Photos(thecricketmonthly.com)

2. करेंट अफेयर्स मामलों से जुड़े हुए विज्ञापनों के लिए प्रसिद्ध डेरी प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनी अमूल का ये विज्ञापन साल 1993 का है। यह क्रिकेट के सबसे शुरुआती एड कैंपेन में से एक है। इसी साल इंग्लैंड टीम ने ग्राहम गूच की कप्तानी में 3 टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए भारत का दौरा किया था और अजहरुद्दीन की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने इंग्लैंड को 3-0 से बेरंग होकर लौटाया था। 

फोटो साभार: AFP(thecricketmonthly.com)
फोटो साभार: AFP(thecricketmonthly.com)

3. साल 2004 में जब भारतीय टीम ने लंबे समय बाद पाकिस्तान का दौरा किया तो विज्ञापनों की जैसे बाढ़ सी आ गई। कई विज्ञापन कंपनियों ने दोनों देशों के लोगों की देशप्रेम की भावनाओं को एड कैंपेन से खूब लुभाया। उन्हीं एड्स में से एक एड का पोस्टर है ये।

4. सचिन तेंदुलकर ने अपना पहला एड साल 1989 में जॉनसन एंड जॉनसन बैंड- एड के लिए किया था। इस एड में सचिन लोकल बच्चों के साथ खेलते नजर आ रहे हैं। जिसमें एक बच्चे को गेंद की फील्डिंग के वक्त चोट लग जाती है तो सचिन उसे बैं- एड लगाने की सलाह देते हैं। सचिन इस एड को करने के दौरान महज 16 साल के थे। साथ ही सचिन का यह टीवी पर पहला एड था।

5. साल 1999 के विश्व कप के दौरान सचिन ने इंडिया टीम के कई क्रिकेटरों के साथ मिलकर पेप्सी का एड किया। इस विज्ञापन में शाहरुख खान भी शामिल थे जो इंडियन ड्रेसिंग रूम में सचिन का नकली गेट- अप लगाकर घुस जाते हैं और पेप्सी चुरा लेते हैं, बाद में सचिन उनसे बड़ी चालाकी से पेप्सी ले लेते हैं। यह एड अपने आपमें मजेदार है।