इयोन मोर्गन (Eoin Moragn) की अगुआई वाली इंग्लैंड की टीम वनडे सीरीज में आयरलैंड (England vs Ireland) का ‘क्लीनस्वीप’ भले ही नहीं कर पाई हो लेकिन उनके शतक की बदौलत ही साउथैम्प्टन में खेले गए तीसरे और अंतिम वनडे में मेजबान टीम एक अच्छा टोटल खड़ा करने में सफल रही. एक समय इंग्लैंड की टीम 44 रन पर 3 विकेट गंवा चुकी थी. इसके बाद बाएं हाथ के मोर्गन ने टॉम बैंटम के साथ पारी को संभाला. मोर्गन ने 39 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया. इस दौरान उन्हें दूसरे छोर से बैंटन का अच्छा सपोर्ट मिला.

मोर्गन की शतकीय पारी के दम पर इंग्लैंड ने बनाए 328 रन 

मोर्गन के अर्धशतक में 9 चौके और 2 छक्के शामिल थे. उन्होंने 84 गेंदों पर 106 रन की पारी खेली और 27वें ओवर में  इंग्लैंड को 4 विकेट पर 190 रन तक पहुंचाया. मंगलवार को खेले गए सीरीज के तीसरे और अंतिम वनडे में इंग्लैंड ने 49.5 ओवर में 328 रन बनाए.  मोर्गन ने इस मैच में कुल 4 छक्के जड़े. इसके साथ ही वह इंटरनेशनल क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के जड़ने वाले कप्तान बन गए.

धोनी के नाम बतौर कप्तान इंटरनेशनल क्रिकेट में 211 छक्के दर्ज हैं 

मोर्गन ने इस दौरान भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (mahender singh dhoni) को पीछे छोड़ा जिनके नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में बतौर कप्तान 211 छक्के दर्ज हैं. एमएस धोनी (MS Dhoni) ने ये रिकॉर्ड अपने पास 6 साल से अधिक समय से रखा था.

6 साल से चली आ रही थी धोनी की बादशाहत 

धोनी ने ये उपलब्धि साल 2014 में न्यूजीलैंड दौरे पर रिकी पोंटिंग (324 मैच, 171 छक्के) को पछाड़कर हासिल किया था. इस लिस्ट में चौथे नंबर पर न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैक्कुलम हैं जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में बतौर कप्तान 150 से अधिक छक्के जड़े हैं. मैक्कुलम के नाम 121 मैचों में 170 छक्के  हैं. वह पोंटिंग से सिर्फ एक छक्का पीछे हैं.

मोर्गन ने सिर्फ 163 मैचों में ये उपलब्धि हासिल की है 

दक्षिण  अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज एबी डीविलियर्स (Ab de Villiers) 124 मैचों (बतौर कप्तान) में 135 छक्कों के साथ पांचवें नंबर परर हैं. मोर्गन ने वनडे में 144 और टी20 इंटरनेशनल में 71 छक्के जड़े हैं. ये दोनों फॉर्मेट में किसी कप्तान का सर्वाधिक है. उन्होंने 163 मैचों ये उपलब्धि हासिल की है जो धोनी के 332 मैचों से आधे से भी कम है.