ये हैं भारतीय टीम के क्रिकेटरों के पक्के दोस्त
फोटो साभार: zeenews.india.com

भले ही क्रिकेट मैदान पर क्रिकेटर एक दूसरे के प्रतिद्वंदी दिखाई देते हों और एक दूसरे से बढ़िया प्रदर्शन करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा देते हों ताकि टीम में वह अपना स्थान पुख्ता कर सकें। लेकिन ये प्रतिद्वंदिता हर समय क्रिकेटरों पर हावी नहीं रहती बल्कि क्रिकेटर एक दूसरे के बहुत अच्छे दोस्त भी होते हैं और ये दोस्ती एक टीम के खिलाड़ियों में ही नहीं बल्कि दो अलग- अलग टीम के खिलाड़ियों के बीच भी खूब जमती है। क्रिकेटरों की गहरी दोस्ती के ऐसे ही कुछ चटपटे किस्से हम आपके साथ साझा करने जा रहे हैं जो आपके चेहरे पर मुस्कुराहट ला देंगे।

1. एम एस धोनी और ड्वेन ब्रावो:

फोटो साभार: www.abplive.in
फोटो साभार: www.abplive.in

एम एस धोनी और ड्वेन ब्रावो भले ही दो अलग- अलग देशों की टीमों से खेलते हों, लेकिन इन दोनों की दोस्ती के चर्चे विश्व भर में छाए हुए हैं। ब्रावो, धोनी के साथ आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से खेल चुके हैं और तभी से इन दोनों के बीच की दोस्ती परवान चढ़ी। यही नहीं समय- समय पर ब्रावो क्रिकेट मैदान पर धोनी के साथ ट्रॉल भी करते रहते हैं। इन दोनों का मजाकिया अंदाज कई बार सुर्खियों में आ चुका है। विश्व कप टी20 में अभ्यास मैच के दौरान मजाक- मजाक में ब्रावो ने धोनी का कॉलर पकड़ लिया था। धोनी ने भी इस पल को खूब भुनाया और ब्रावो के साथ खूब हंसी ठिठोली की। 

2. युवराज सिंह और विराट कोहली:

फोटो साभार: www.wisdenindia.com
फोटो साभार: www.wisdenindia.com

विराट कोहली और युवराज सिंह में खूब बनती है और ये दोनो अक्सर मैदान पर जुगलबंदी करते भी नजर आते हैं। साल 2011 में जब टीम इंडिया ने पहली बार  विश्व कप जीता तो युवराज और विराट ही थे जिन्होंने जमकर जीत का उत्साह मनाया था। यही नहीं ये दोनों मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बड़े प्रशंसक भी हैं। यही नहीं खबरों के मुताबिक साल 2014 में जब युवराज सिंह को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरू ने मोटी रकम देकर खरीदा था तो वह खुद विराट कोहली के कहने पर ही उनकी टीम ने यह कदम उठाया था। 

3. सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली:

फोटो साभार: www.mensxp.com
फोटो साभार: www.mensxp.com

भारतीय क्रिकेट टीम की बेहतरीन ओपनिंग जोड़ी  में से एक सचिन और सौरव गांगुली क्रिकेट मैदान पर ही बेहतरीन क्रिकेटर नहीं थे बल्कि मैदान के बाहर भी वे एक दूसरे के बहुत अच्छे दोस्त थे। इन दोनों की अच्छी दोस्ती का ही नतीजा था कि तनाव वाले समय में भी दोनों मिल जुलकर कोई न कोई नतीजा निकाल लेते थे और टीम इंडिया को मुसीबत से निकाल लाते थे।

4. केविन पीटरसन और राहुल द्रविड़:

फोटो साभार: indiatoday.intoday.in
फोटो साभार: indiatoday.intoday.in

भले ही केविन पीटरसन की ऑटोबायोग्राफी को लेकर क्रिकेट जगत में बखेड़ा खड़ा हो गया हो लेकिन अपनी इस किताब में उन्होंने भारत के मिस्टर वॉल राहुल द्रविड़ के लिए जिस तरह से आदर व्यक्त किया है वह बताता है कि वह राहुल द्रविड़ के कितने करीबी हैं। पीटरसन ने अपनी किताब “केपी” में लिखा है कि किस तरह से राहुल द्रविड़ के एक पत्र ने उन्हें उपमहाद्वीप में स्पिन गेंदबाजी का सामना करने में मदद किया था।

5. शेन वॉर्न और सचिन तेंदुलकर:

फोटो साभार: www.espncricinfo.com
फोटो साभार: www.espncricinfo.com

आपने सचिन और शेन वॉर्न की प्रतिद्वंदिता के खूब किस्से सुने होंगे। लेकिन शायद ही आप जानते हों कि ये दोनों बहुत अच्छे दोस्त भी हैं। सचिन ने साल 1998 में शारजाह कप में शेन वॉर्न की गेंदबाजी में जमकर रन बटोरे थे। जिससे प्रभावित होकर ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज सर डॉन ब्रेडमेन ने शेन वॉर्न और सचिन को एक साथ उनसे मिलने को बुलाया था और तब से ही दोनों अच्छे दोस्त बन गए। दोनों हाल ही में ऑलस्टार लीग में भी नजर आए थे और साथ क्रिकेट खेलने के अलावा दोनों की दोस्ती के किस्से यहां भी खूब सुनने को मिले थे।

6. राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले:

फोटो साभार: www.thehindu.com
फोटो साभार: www.thehindu.com

एक ही शहर बैंगलुरू के ये दोनों क्रिकेटर इंडिया टीम में आने से पहले एक ही रणजी टीम की ओर से खेले और बाद में टीम इंडिया में आए और धमाल मचाया। ये दोनों बहुत अच्छे दोस्त हैं और साथ मिलकर दोनों ने कई मर्तबा भारतीय टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई है।

7. गौतम गंभीर और वीरेंद्र सहवाग:

फोटो साभार: zeenews.india.com
फोटो साभार: zeenews.india.com

इन दोनों बल्लेबाजों ने लंबे समय तक भारतीय टीम की ओर से टेस्ट व वनडे में सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाई। इस बात को बहुत कम लोग जानते हैं कि ये दोनों टीम इंडिया में आने से पहले एक ही रणजी टीम दिल्ली से खेले। साथ ही दोनों ने अपने करियर में साथ मिलकर कई कीर्तिमानों को अपने नाम किया। दोनों बहुत अच्छे दोस्त हैं।