×

रोहित शर्मा के 33वें जन्मदिन पर जानें उनसे जुड़ी खास बातें

टीम इंडिया के उप कप्तान रोहित शर्मा आज अपना 33वां जन्मदिन मना रहे हैं।

रोहित शर्मा (IANS)

मौजूदा भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे प्रतिभाशाली बल्लेबाजों में से एक रोहित शर्मा आज अपना 33वां जन्मदिन मना रहे हैं। हिटमैन के नाम से मशहूर रोहित वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगाने वाले दुनिया के अकेले बल्लेबाज हैं। खैर ये तो सभी जानते हैं, आज रोहित के जन्मदिन के मौके पर हम आपको इस खिलाड़ी के बारे में कुछ ऐसी बातें बताएंगे जो आपने पहले नहीं सुनी होंगी।

मुंबई के रहने वाले रोहित आईपीएल के 11वें सीजन में अपने राज्य की टीम की कप्तानी करने वाले अकेले खिलाड़ी हैं लेकिन आप ये नहीं जानते होंगे कि रोहित तेलुगु भी बोल लेते हैं। रोहित की मां आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम की रहने वाली हैं और इस वजह से इस शहर के साथ रोहित का गहरा रिश्ता है। पिछले आईपीएल सीजन में महाराष्ट्र में सूखे के चलते मुंबई इंडियंस का घरेलू मैदान भी वाइजैग शिफ्ट कर दिया गया था।

[link-to-post url=”https://www.cricketcountry.com/hi/news/batman-aslam-chaudhry-to-the-rescue-for-cricket-stars-like-virat-kohli-sachin-tendulkar-707139″][/link-to-post]
रोहित के करियर का शुरुआती दौर काफी कठिन था। उनके माता-पिता की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। रोहित डोंबीवली के एक स्कूल में पढ़ते थे लेकिन उनके क्रिकेट को बेहतर बनाने के लिए बड़े स्कूल की टीम में शामिल होना जरूरी था लेकिन रोहित के माता-पिता स्कूल की फीस नहीं द सकते थे। हालांकि स्वामी विवेकानंद इंटरनेशनल स्कूल ने उनकी काफी मदद की। स्कूल ने रोहित के शानदार क्रिकेट को देखते हुए उनकी फीस तक माफ कर दी। रोहित आज उस स्कूल के सबसे मशहूर स्टूडेंट हैं।

क्रिकेट फैंस ये अच्छी तरह जानते हैं कि रोहित ने बतौर गेंदबाज अपने करियर की शुरुआत की थी लेकिन इसके पीछे की वजह किसी को नहीं पता होगी। दरअसल रोहित जब ट्रायल के लिए गए तो बल्लेबाजों की लाइन इतनी ज्यादा लंबी थी कि वो घबरा गए और गेंदबाजों की लाइन में खड़े हो गए। रोहित ने ऑफ स्पिन गेंदबाज के तौर पर अपना करियर शुरू किया लेकिन उनके कोच दिनेश लाड ने उनके अंदर छुपे बल्लेबाज को पहचान लिया। अगर लाड ने रोहित को बल्लेबाजी के लिए प्रेरित नहीं किया होता तो शायद हमें वनडे में तीन दोहरे शतक नहीं देखने मिलते।

साल 2003-04 में रोहित को जूनियर क्रिकेटर के अवार्ड से सम्मानित किया था, ये अवार्ड किसी और ने नहीं बल्कि उनके आदर्श और भारतीय क्रिकेट के दिग्गज सचिन तेंदुलकर ने उन्हें दिया था। रोहित जब जूनियर क्रिकेट खेलते थे तो वीरेंद्र सहवाग से मिलने के लिए एक बार उन्होंने स्कूल बंक किया था। तब रोहित ने भी नहीं सोचा होगा कि एक दिन वो इन महान खिलाड़ियों के साथ खेल सकेंगे।

[link-to-post url=”https://www.cricketcountry.com/hi/articles/rohit-sharmas-hat-trick-in-ipl-531583″][/link-to-post]

रोहित के नाम सीमित ओवर के फॉर्मेट में दर्जनों रिकॉर्ड हैं। तीन दोहरे शतकों के अलावा रोहित टी20 क्रिकेट में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज हैं। रोहित ने गुजरात के खिलाफ घरेलू टी20 मैच में मुंबई की तरफ से खेलते हुए 45 गेंदो पर नाबाद 101 रन बनाए थे। इतना ही नहीं रोहित टी20 अंतर्राष्ट्रीय में दो शतक लगाने वाले अकेले भारतीय हैं। रोहित के अलावा कोई भारतीय कप्तान टी20 अंतर्राष्ट्रीय में शतक नहीं बना पाया है। रोहित के नाम टी20 अंतर्राष्ट्रीय में डेविड मिलर के साथ संयुक्त रूप से सबसे तेज शतक बनाने का रिकॉर्ड भी है।

रोहित को जानवरों से काफी लगाव है। साथ ही वो जानवरों की बेहतरी के लिए काम कर रही कई संस्थाओं से भी जुड़े हैं। रोहित साल 2014 में पेटा से जुड़े थे। रोहित ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए अक्सर लोगों को जानवरों की मदद करने और उनके नुकसान ना पहुंचाने की अपील करते हैं।

टीम इंडिया में उनके साथी खिलाड़ी रोहित के ज्यादा सोने की आदत के लिए हमेशा उनका मजाक बनाते हैं। कप्तान विराट कोहली ने एक टीवी शो के दौरान ये कहा था कि रोहित टीम में सबसे ज्यादा सोते हैं। वैसे रोहित भी ये मान चुके हैं, उन्होंने कहा कि वो सोचते ज्यादा हैं इसलिए सोते भी ज्यादा हैं। रोहित के बैटिंग स्टाइल को भी ‘लेजी’ कहा जाता है लेकिन सच तो ये है कि जब वो बल्लेबाजी करते हैं तो मुश्किल शॉट्स भी बेहद आसान लगते हैं।

trending this week