Happy birthday Zaheer Abbas: The first batsman to score three back-to-back centuries in ODIs
Zaheer Abbas @getty (file image)

एशियाई ‘ब्रैडमैन’ (Asian Bradman) के नाम से मशहूर पाकिस्तान के दिग्गज बल्लेबाज जहीर अब्बास (Zaheer Abbas) वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में लगातार 3 शतक जड़ने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज हैं। अब्बास ने भारत के खिलाफ 1982-83 वनडे सीरीज के दौरान ये कारनामा किया था। टेस्ट करियर में 4 डबल सेंचुरी जड़ने वाले जहीर अब्बास (Happy Birthday Zaheer Abbas)आज यानि 24 जुलाई को अपना 73वां जन्मदिन मना रहे हैं. दाएं हाथ के इस पूर्व बल्लेबाज का जन्म बंटवारे से पहले साल 1947 में पंजाब के सियालकोट शहर में हुआ था.

न्यूजीलैंड के खिलाफ कराची में साल 1969 में टेस्ट में डेब्यू करने वाले जहीर को बेहतर तकनीक वाला बल्लेबाज माना जाता है। वह फर्स्ट क्लास क्रिकेट में शतकों का शतक पूरा करने वाले इकलौते एशियाई बल्लेबाज हैं।

टेस्ट में 4 डबल सेंचुरी है जहीर के नाम दर्ज है 

78 टेस्ट मैचों में अब्बास के नाम 5,062 रन दर्ज है जिसमें 12 शतक और 20 अर्धशतक शामिल है। इस दौरान उनकी बल्लेबाजी औसत 44.79 रही है। इस पाकिस्तानी खिलाड़ी का टेस्ट में सर्वोच्च निजी स्कोर 274 रन रहा है जो उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 1971 में बनाए थे।

वनडे में 84.80 स्ट्राइक रेट से रन बनाए 

62 वनडे इंटरनेशनल मैचों में जहीर के नाम 2,572 रन दर्ज है जो उन्होंने 47.62 की औसत से बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 84.80 रहा है। वनडे में जहीर के नाम 7 शतक और 13 अर्धशतक दर्ज हैं। जहीर ने अपने वनडे करियर की शुरुआत इंग्लैंड के खिलाफ अगस्त 1974 में नॉटिंघम में किया था।

हिंदुस्तानी लड़की से की शादी

जहीर अब्बास ने भारतीय मूल की रीता लूथरा (Rita Luthra) से लव मैरिज की थी। दोनों की लव स्टोरी इंग्लैंड में शुरू हुई थी, जहां रीता इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स कर रही थीं और जहीर वहां काउंटी क्रिकेट खेलने गए हुए थे. दोनों पहली मुलाकात के बाद से ही एक-दूसरे को पसंद करने लगे थे, जिसके बाद जहीर अब्बास और रीता लूथरा ने साल 1988 में शादी कर ली थी. शादी के बाद रीता ने अपना नाम बदलकर समीना अब्बास रख लिया था.

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 108 शतक और 158 अर्धशतक हैं जहीर अब्बास के नाम 

अपने बेहतरीन कवर ड्राइव से गेंदबाजों की बखिया उधेड़ने वाले जहीर का फर्स्ट क्लास क्रिकेट रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा है। उन्होंने 459 फर्स्ट क्लास मैचों में 51.54 की औसत से कुल 34,843 रन बनाए हैं जिसमें 108 शतक और 158 अर्धशतक शामिल है।

संन्यास के बाद निभाई रेफरी, मैनेजर और आईसीसी अध्यक्ष की भूमिका  

जहीर ने साल 1985 में क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। संन्यास के बाद कुछ समय के लिए वह मैच रैफरी बने और उसके बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मैनेजर भी बने। पार्ट टाइम ऑफ ब्रेक गेंदबाजी कर चुके जहीर को जून 2015 में इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) का अध्यक्ष चुना गया था।

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज सर डॉन ब्रैडमैन से मिलता था खेलने का तरीका

जहीर अब्बास का खेलने का तरीका ऑस्ट्रेलिया के महान क्रिकेटर सर डॉन ब्रेडमैन से काफी मिलता-जुलता था, जिसकी वजह से उन्हें ‘एशियन ब्रेडमैन’ भी कहा जाता था।