ICC Cricket World Cup 2019: all you need to know about 10 captains profiles

आज से होने जा रही है आईसीसी विश्व कप की शुरुआत जहां 10 टीमों के बीच होगी विश्व विजेता बनने की जंग। सभी टीमों के कप्तान पर होगा अपनी -अपनी टीम को चैंपियन बनाने का जिम्मा। चलिए, टूर्नामेंट के आगाज से पहले बताते हैं, किस टीम के कप्तान में कितना है दम।

इयोन मोर्गन (इंग्लैंड)

आईसीसी वनडे रैंकिंग में पहले नंबर पर काबिज इंग्लैंड की टीम को खिताब जीतने का सबसे बड़ा दावेदार माना जा रहा है। टीम की कप्तानी इयोन मोर्गन के हाथों में हैं। साल 2011 में टीम की कमान संभालने वाले मोर्गन 100 वनडे में कप्तानी कर चुके हैं। इनमें से इंग्लैंड ने 65 फीसदी यानी 61 मुकाबलों में जीत हासिल की है। 32 में टीम को हार मिली है 1 मैच टाई रहा तो 6 का कोई नतीजा नहीं निकला।

विराट कोहली (भारत)

भारतीय कप्तान विराट कोहली की टीम इस वक्त वनडे रैंकिंग में दूसरे स्थान पर है और इंग्लैंड के साथ भारत को भी विश्व कप का दावेदार बताया जा रहा है। 2011 विश्व कप चैंपियन टीम का हिस्सा रहे कोहली ने भारत के लिए 68 वनडे में कप्तानी की है। इसमें भारत ने 73 फीसदी मुकाबलों में यानी 49 मैच में जीत हासिल की है। 17 में टीम को हार मिली, 1 मैच टाई और 1 मैच बेनतीजा रहा।

 

फाफ डु प्लेसिस (दक्षिण अफ्रीका)

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस को कप्तानी का अनुभव कम हो लेकिन रिकॉर्ड काफी अच्छा है। 30 वनडे में कप्तानी करते हुए उन्होंने टीम को 25 में जीत दिलाई है। महज 5 मैच में टीम को हार मिली है।

केन विलियमसन (न्यूजीलैंड)

आईसीसी विश्व कप की उप विजेता न्यूजीलैंड की कमान केन विलियमसन के हाथों में हैं। केन ने अब तक 65 वनडे में टीम की कप्तानी का जिम्मा संभाला है, जिसमें 34 में टीम को जीत मिली है। 29 मुकाबले में टीम को हार मिली है तो वहीं 2 मैच ऐसे रहे जिनका कोई नतीजा नहीं निकल पाया।

एरोन फिंच (ऑस्ट्रेलिया)

ऑस्ट्रेलिया की कमान संभालने वाले एरोन फिंच की टीम बतौर डिफेंडिंग चैंपियन टूर्नामेंट में उतरेगी। विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी करने वाले फिंच के पास महज 18 वनडे में ही कप्तानी का अनुभव है। फिंच की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने भारत और पाकिस्तान से उसकी सरजमीं पर वनडे सीरीज जीती है। फिंच की कप्तानी में 18 में से 10 में टीम को जीत मिली है जबकि 8 में हार ।

सरफराज अहमद (पाकिस्तान)

2017 में पाकिस्तान को चैंपियंस ट्रॉफी जिताने वाले कप्तान सरफराज से टीम को काफी उम्मीदें हैं। वनडे में सरफराज ने अब तक कुल 40 मुकाबलों में कप्तानी की है जिसमें उन्हें 17 में हार मिली है तो 21 में जीत हासिल हुई। 2 मैच ऐसे रहे जिनका कोई नतीजा नहीं निकला।

 

मशरफे मुर्तजा (बांग्लादेश)

बांग्लादेश के अनुभवी कप्तान मशरफे मुर्तजा ने अब तक कुल 77 वनडे में कप्तानी की है। उनके जीत का प्रतिशत 58 रहा है। टीम ने 44 में जीत हासिल की है तो 31 मैच में हार का सामना किया है। 2 मुकाबले बेनतीजा रहे हैं।

जेसन होल्डर (वेस्टइंडीज)

विश्व कप में जेसन होल्डर दूसरी बार वेस्टइंडीज टीम की कप्तानी का जिम्मा संभालेंगे। वनडे रैंकिंग में टीम आठवें नंबर पर है। होल्डर ने अब तक 74 वनडे में टीम की कप्तानी की है जिसमें 22 में उसे जीत मिली है तो वहीं 46 मैच में टीम हारी है। 2 मैच टाई हुए तो 4 का कोई नतीजा नहीं निकल पाया।

दिमुथ करुणारत्ने (श्रीलंका)

स्कॉटलैंड के खिलाफ टीम की कप्तानी का भार संभालने वाली दिमुथ करुणारत्ने ने अब तक सिर्फ 1 मैच में कप्तानी की है। वर्षा से बाधित इस मुकाबले में श्रीलंका ने जीत दर्ज की थी।

गुलबदिन नैब (अफगानिस्तान)

विश्व कप से ठीक पहले गुलबदिन नैब को टीम की कप्तानी दी गई जिसको लेकर विवाद भी हुआ था। महज 3 मैच में कप्तानी करने वाले गुलबदिन ने टीम को 2 में जीत दिलाई है। 1 मैच में अफगानिस्तान को हार मिली है।