ICC World Cup 2019: Australia’s world cup journey from 1975 to 2015
Australian cricket team players with World cup Trophy 1999@ FACEBOOK PAGE ICC

ऑस्ट्रेलिया आईसीसी विश्व कप की सबसे सफल टीम है। टीम ने सबसे ज्यादा 5 बार इस खिताब को जीता है। ऑस्ट्रेलिया अकेली ऐसी टीम है जिसने तीन लगातार बार विश्व चैंपियन बनने का कारनामा अंजाम दिया है।

एरोन फिंच की कप्तानी में इस बार टूर्नामेंट में उतर रही टीम मौजूदा चैंपियन है। स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की वापसी से टीम काफी मजबूत नजर आ रही है। चलिए, आपको बताते हैं विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के अब तक का सफर।

विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया की सफर

साल 1975 में खेले गए पहले ही टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचकर टीम ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई थी। वेस्टइंडीज के हाथों 17 रन से हारकर ऑस्ट्रेलिया खिताब जीतने से चूक गई थी। 1979 और 1983 में टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था और वो पहले ही दौर से बाहर हो गई थी।

1987 में ऑस्ट्रेलिया ने एलन बॉर्डर की कप्तानी में पहली बार विश्व कप का खिताब जीता। फाइनल में इंग्लैंड पर ऑस्ट्रेलिया ने 7 रन की रोमांचक जीत दर्ज की और विश्व चैंपियन बनीं। डिफेंडिंग चैंपियन के तौर पर 1992 में टीम का प्रदर्शन निराशाजनक रहा और वह ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गई।

1996 में टीम फाइनल तक पहुंचने में कामयाब रही लेकिन श्रीलंका के हाथों 7 विकेट की करारी हार ने उसके दूसरी बार विजेता बनने का सपना तोड़ दिया।

साल 1999 से लेकर 2007 तक ऑस्ट्रेलिया की टीम ने तीन बार लगातार विश्व कप का खिताब जीता और इतिहास रच दिया। 1999 में पाकिस्तान पर एक तरफा मुकाबले में 8 विकेट से जीत, 2003 में भारत के खिलाफ 125 रन और 2007 में श्रीलंका को 53 रन से हराकर ऑस्ट्रेलिया ने विश्व कप जीत की हैट्रिक पूरी की। 1999 में स्टीव वॉ जबकि 2003 और 2007 में रिकी पोंटिंग की कप्तानी में कंगारू टीम ने विश्व कप पर कब्जा जमाया।

साल 2011 में टीम ने क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय किया लेकिन यहां उसे भारत के हाथों 5 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। 2015 के विश्व कप में टीम ने जोरदार वापसी की और माइकल क्लार्क की कप्तानी में न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हरा अपना पांचवां विश्व कप खिताब जीता।