ICC World Cup 2019 Final: क्रिकेट के  ‘जन्मदाता’  इंग्लैंड के लिए आज यानी 14 जुलाई का दिन बेहद खास है क्योंकि इसी दिन पिछले साल इस टीम ने अपना पहला वर्ल्ड कप खिताब अपने नाम किया था. क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेले गए वर्ल्ड कप 2019 के फाइनल मुकाबले में क्रिकेट के इतिहास में वो हुआ जो आज तक कभी नहीं हुआ था. सुपर ओवर के रोमांच के बाद मैच एक बार फिर टाई हो गया. जिसके बाद इंग्‍लैंड को मैच में ज्‍यादा बाउंड्री लगाने के आधार पर विजेता घोषित कर दिया गया.

इंग्लैंड की ओर से स्टार बने ऑलराउंडर बेन स्टोक्स जिन्होंने खिताबी मुकाबले में 98 गेंद पर नाबाद 84 रन की पारी खेली. उन्हें इस ऐतिहासिक पारी के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया.  था. आईसीसी के इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में कुल 578 रन बनाने वाले न्‍यूजीलैंड के कप्‍तान केन विलियमसन को प्‍लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया था.

कुछ ऐसा था Super over का रोमांच

दोनों टीमों ने निर्धारित ओवर में 241 रन बनाए. इसके बाद परिणाम के लिए मुकाबला सुपर ओवर में पहुंचा जहां मेजबान इंग्‍लैंड की टीम ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 15 रन बनाए. इंग्‍लैंड की ओर से स्‍टोक्‍स ने 8 और जोस बटलर ने 7 रन बनाए. लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने भी 15 रन बनाए जिसमें ओपनर मार्टिन गुप्टिल का एक रन और जेम्‍स नीशम का 13 रन शामिल था. एक रन वाइड का मिला. इस तरह एक बार फिर मैच टाई हो गया.

आखिरी ओवर में इंग्लैंड को जीत के लिए 15 रन चाहिए थे

आखिरी ओवर में इंग्‍लैंड को जीत के लिए 15 रन की दरकार थी. क्रीज पर स्‍टोक्‍स के साथ आदिल राशिद थे. गेंदबाजी छोर पर न्यूजीलैंड की ओर से उसके पेस अटैक के अगुआ ट्रेंट बोल्ट थे. स्‍टोक्‍स ने पहली और दूसरी गेंद  पर कोई रन नहीं लिया. उन्‍होंने एक रन लेने से मना कर दिया. तीसरी गेंद पर स्टोक्‍स ने मिडविकेट की दिशा में शानदार छक्‍का लगाया. अब इंग्‍लैंड को जीत के लिए तीन गेंद पर नौ रन की दरकार थी.

बोल्ट ने चौथी गेंद फुल टॉस फेंकी और स्‍टोक्‍स ने मिडविकेट की ओर शॉट खेला. दो रन लेकर वापस स्‍ट्राइक पर पहुंचने के लिए उन्‍होंने डाइव लगाई. गेंद स्‍टोक्‍स के बल्‍ले से लगते हुए सीधे पीछे चौके के लिए  बाउंड्री के पार चली गई. इस तरह चौथी गेंद पर कुल 6 रन आए. अब इंग्‍लैंड को जीत के लिए दो गेंद पर तीन रन की दरकार थी. स्‍ट्राइक पर थे स्‍टोक्‍स, लेकिन इस गेंद पर दो रन चुराने के प्रयास में राशिद रन आउट हो गए. आखिरी गेंद पर इंग्‍लैंड को दो रन चाहिए था, लेकिन स्‍टोक्‍स केवल एक रन ही बना पाए और मुकाबला सुपर ओवर में पहुंच गया.