क्रिकेट स्टेडियम © Getty Images
क्रिकेट स्टेडियम © Getty Images

पूरी दुनिया में क्रिकेट के लोग दीवाने हैं लोग क्रिकेट देखना और खेलना बहुत पसंद करते हैं। लेकिन क्रिकेट के लिए एक बढ़िया स्टेडियम का होना बेहद आवश्यक है। क्रिकेट में एक बेहतर पिच का होना दोनों टीमों के लिए बेहद जरुरी है। घरेलु मैचों में मेजबान टीमें अपने हिसाब से क्रिकेट पिच को तैयार करवाती है। किसी भी टीम के लिए पिच एक महत्वपूर्ण किरदार(रोल) निभाती है और ये सच है कि टीम को जीत दिलाने का श्रेय क्रिकेट पिच को भी जाता है। कभी बल्लेबाज तो कभी गेंदबाजों को ये पिच ज्यादा मदद करती हैं। कप्तान टॉस जीत कर पिच के हिसाब से गेंदबाजी का और बल्लेबाजी का फैसला करता है। उसका एक सही फैसला ही उसकी टीम को जीत दिलाता है। भारत में 2016 का क्रिकेट महाकुम्भ टी 20 विश्व कप शुरू होने जा रहा है जो इन्हीं बेहतरीन स्टेडियमों के पिचों पर खेला जाएगा। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ बेहतरीन भारतीय स्टेडियमों के बारे में –

इडेन गार्डन – इडेन गार्डन भारत का एक प्रमुख खेल का मैदान है। ये 1865 में बनकर तैयार हुआ था। यह कोलकाता में स्थित हैं। आपको बता दें कि ये क्रिकेट के कुछ बेहतरीन स्टेडियमों में से एक है। इसे दुनिया के खूबसूरत स्टेडियमों में से एक गिना जाता है। आपको बता दें कि ये भारत का सबसे बड़ा व सबसे पुराना स्टेडियम है। पहले इसमे 60000 लोगों के बैठने की क्षमता थी। इसके बाद इसे और बेहतर बनाया गया जिसके बाद इसमें 90,000 दर्शकों के बैठने की क्षमता हो गयी। गौरतलब हो कि ये बंगाल क्रिकेट स्टेडियम कोलकाता नाईट राइडर्स का घरेलु मैदान है। कहते हैं कि एक क्रिकेट खिलाड़ी का क्रिकेट करियर तब अधुरा है जब तक की वो ईडन गार्डन में ना खेले। ऐसा माना जा रहा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच टी20 विश्व कप मुकाबला यहीं खेला जाएगा। ये मैच 19 मार्च को होगा।

वानखेड़े स्टेडियम – मुंबई का वानखेड़े स्टेडियम प्रमुख खेल का मैदानों में से एक है। ये अपने बेहतरीन बनावट के लिए काफी चर्चित है। यहां 1996 और 2011 का पिछला विश्व कप का फाइनल मैच खेला गया था जिसे भारत ने जीता था। यहां 1975 में पहला अन्तर्राष्ट्रीय मैच खेला गया था। नवम्बर 2013 में सचिन तेंदुलकर ने यही अपना 200 वां मैच खेला था जो कि सचिन का आखिरी अंतरास्ट्रीय मैच था। इसमें एक साथ 45,000 दर्शकों के बैठने की क्षमता है। आपको बता दें कि ये वही स्टेडियम है जहाँ रवि शास्त्री ने एक ओवर में 6 छक्के जड़े हैं।

विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम – विदर्भ क्रिकेट स्टेडियम 2008 में बनकर तैयार हुआ था। ये नागपुर, महाराष्ट्र में स्थित है। इसे न्यू वी।सी।ए के नाम से जाना जाता है। इसे आईसीसी द्वारा कुछ बेहतरीन स्टेडियमों में शामिल किया गया है। ये कुछ बेहद खुबसूरत स्टेडियमों में से एक है। इसमें एक साथ 45,000 दर्शक बैठ सकते हैं। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने इसे काफी बेहतरीन स्टेडियमों में से एक बताया है। इसमें काफी सुविधाओं से भरा हुआ है जहां आपको कोई दिक्कते नहीं होती हैं। वहीं रिक्की पोंटिंग ने इसके चेंजिंग रूम्स को काफी सुविधाजनक बताया है। ये काफी बड़ा स्टेडियम है। यहां वीरेंद्र सहवाग ने 357 रन की पारी खेली है और सचिन ने अपनी 289 रन ठोके हैं। बल्लेबाजों के साथ ही साथ यहां गेंदबाजों ने भी अपना कमाल का प्रदर्शन किया है हरभजन सिंह ने 13 विकेट, इशांत शर्मा ने 11 विकेट लिए हैं। टीम इंडिया 2016 का अपना पहला टी20 विश्व कप मैच 15 मार्च को न्यूजीलैंड के खिलाफ यही खेलेगी।

एम. ए. चिदंबरम स्टेडियम – सन् 1916 में बने इस स्टेडियम को चेपक स्टेडियम के नाम से भी जाना जाता है। ये चेन्नई में स्थित है । आपको बता दें की ये चेन्नई सुपर किंग्स का घरेलु मैदान भी है। बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष एम ए चिदंबरम के नाम पर इसका नाम पड़ा। वीरेंद्र सहवाग ने इस मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 319 रन की शानदार पारी खेली थी। इसी मैदान पर 2001 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हरा कर सीरीज जीती थी। इसमें 36000 दर्शको के बैठने की क्षमता है। यहाँ 2016 का टी20 विश्व कप मैच भी खेले जाएंगे।