India struggling to breach 300-run mark in overseas Tests
Dinesh Karthik after being bowled by Sam Curran © Getty Images

भारत में श्रीलंका के खिलाफ 610 रन का स्कोर खड़ा करने वाली दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम विदेशी धरती पर 300 रन तक पहुंचने को तरस रही है। पिछले पांच टेस्ट मैच में भारतीय टीम  सिर्फ एक बार 300 रन के स्कोर तक पहुंचने में कामयाब रही है।

टीम इंडिया को आलोचक अगर घर के शेर कहकर बुलाते हैं तो उसके पीछे की वजह विदेश में उसके डरावने रिकॉर्ड हैं। भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका में पिछले साल तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के दौरान सिर्फ एक बार 300 का स्कोर कर पाई थी।

दक्षिण अफ्रीका दौरे पर एक बार 300 का स्कोर

पहले टेस्ट में भारतीय टीम ने 209 जबकि दूसरी पारी में महज 135 रन ही बना पाई। दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया  ने पहली पारी में 307 रन का स्कोर खड़ा किया, दूसरी पारी में एक फिर से फ्लॉप शो दिखा और पूरी टीम 151 रन पर सिमट गई। तीसरे मैच में बल्लेबाजों का प्रदर्शन वैसा ही रहा पहली पारी में टीम 187 तो दूसरी में बामुश्किल 287 तक पहुंची।

इंग्लैंड में निकला बल्लेबाजों का दम

एशिया से बाहर खेलते हुए टीम के धुरंधर बल्लेबाज कैसे घुटने टेकते हैं यह हालिया सीरीज में देखा जा सकता है। पहले टेस्ट में 274 और 162 रन ही बना पाई। दूसरे मैच में प्रदर्शन और भी निराशाजनक रहा टीम इंडिया 107 और 130 रन से स्कोर पर ढेर हो गई।

कुल मिलाकर देखा जाए तो एशिया की सरताज उप महाद्वीप से बाहर निकलते ही फिसड्डी बन जाती है। दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम होने के नाते भारत को अपने रुतबे के मुताबित प्रदर्शन करना पड़ेगा क्योंकि यहां चूके तो सीरीज हाथ से निकल जाएगी।