विराट कोहली  © AFP
विराट कोहली © AFP

पहले दो वनडे मैचों में ऑस्ट्रेलिया को आसानी से हराने के बाद टीम इंडिया इंदौर के होल्कर स्टेडियम में आज फिर से मेहमान टीम को करारी चुनौती देगी। इस मैदान पर टीम इंडिया ने आजतक एक भी मैच नहीं हारा है। ऐसे में उसका इरादा एक और जीत दर्ज करते हुए न सिर्फ सीरीज अपने नाम करने का होगा बल्कि वनडे रैंकिंग में नंबर 1 बनने का भी होगा।

इसके अलावा विराट कोहली की कप्तानी में यह टीम इंडिया की 9वीं लगातार जीत होगी और इस तरह से कोहली एमएस धोनी के लगातार 9 जीतों के रिकॉर्ड की बराबरी भी कर लेंगे। वैसे विराट कोहली इस वनडे के साथ 3 बड़े बल्लेबाजी रिकॉर्ड्स भी अपने नाम कर सकते हैं। कौन हैं ये रिकॉर्ड्स? आइए नजर डालते हैं।

1. युवराज सिंह के रनों के रिकॉर्ड को छोड़ देंगे पीछे: विराट कोहली के नाम वनडे में अभी 196 मैचों की 188 पारियों में 55.63 की औसत से 8,679 रन दर्ज हैं। इस तरह से वह दुनिया में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट में 22वें स्थान पर हैं। वहीं भारतीय खिलाड़ियों के बीच सातवें स्थान पर हैं। छठवें स्थान पर अभी युवराज सिंह हैं। युवराज के नाम 8,701 रन दर्ज हैं। [ये भी पढ़ें: प्रिव्यू: सीरीज में अजेय बढ़त हासिल करने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया]

इस तरह से विराट कोहली उनसे सिर्फ 22 रन पीछे हैं। अगर कोहली इस मैच में 23 रन बनाने में कामयाब हो जाते हैं तो वह युवराज सिंह को पीछे छोड़ते हुए भारत की ओर से छठवें सबसे ज्यादा वनडे रन बनाने वाले बल्लेबाज बन जाएंगे और दुनिया में 21वें नंबर पर पहुंच जाएंगे। दुनिया में सबसे ज्यादा वनडे रन भारत के सचिन तेंदुलकर के नाम हैं। उन्होंने 18,426 रन वनडे में बनाए हैं।

2. एबी डीविलियर्स के चौकों के रिकॉर्ड पर कोहली की नजर: विरट कोहली के नाम वनडे में 811 चौके हैं। वह दुनिया में सबसे ज्यादा चौके लगाने के मामले में 20वें नंबर पर हैं। उनसे ऊपर एबी डीविलियर्स हैं जिनके नाम 819 चौके हैं। ऐसे में अगर कोहली 9 चौके और लगाने में कामयाब हो जाते हैं तो वह एबी डीविलियर्स के चौकों के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ देंगे और खुद नंबर 19 पर काबिज हो जाएंगे। कोहली भारत की ओर से सबसे ज्यादा चौके लगाने के मामले में छठवें स्थान पर हैं। दुनिया में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाले बल्लेबाज भारत के सचिन तेंदुलकर हैं। उन्होंने 2,016 चौके लगाए हैं।

3. अपनी कप्तानी में पूरे कर सकते हैं 2000 रन और 200 चौके: विराट कोहली जबसे कप्तान बने हैं उनकी बल्लेबाजी और भी निखर गई है। साल 2013 से 2017 तक वनडे में कप्तानी करते हुए उन्होंने 37 मैचों की 34 पारियों में 78.38 के रिकॉर्ड औसत के साथ 1,959 रन बनाए हैं। इस तरह से उन्हें बतौर कप्तान अपने 2,000 रन पूरे करने के लिए 41 रनों की दरकार है। उन्होंने इस दौरान 8 शतक और 10 अर्धशतक लगाए हैं। वहीं उनके नाम बतौर कप्तान 191 चौके और 31 छक्के हैं। इस मैच में अगर वह 9 चौके लगा लेते हैं तो वह अपने 200 चौके भी पूरे कर लेंगे।

विराट कोहली ने धोनी की कप्तानी में 138 मैचों की 133 पारियों में 50.91 की औसत से 5,703 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 19 शतक और 27 अर्धशतक जमाए।