महेंद्र सिंह धोनी अपनी अंतर्राष्ट्रीय 100 वनडे स्टंपिंग पूरी कर चुके हैं © Getty Images
महेंद्र सिंह धोनी अपनी अंतर्राष्ट्रीय 100 वनडे स्टंपिंग पूरी कर चुके हैं © Getty Images

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया तीसरे वनडे में जीत हासिल करते ही टीम इंडिया आईसीसी वनडे रैंकिंग में नंबर एक पर पहुंच सकती है। 119 अंको के साथ साउथ अफ्रीका टीम इस समय टॉप पर बनी हुई है और भारत उससे केवल 0.09 अंक पीछे है। पांच मैचों की सीरीज में 2-0 से आगे चल रही भारतीय टीम के पास इंदौर वनडे जीत सीरीज पर कब्जा करने का बढ़िया मौका है। इंदौर के होल्कर स्टेडियम पर भारत का रिकॉर्ड भी अच्छा है। इस मैदान पर खेले चारों वनडे मैचों में भारत ने जीत हासिल की है। वनडे में नंबर एक बनने और सीरीज पर कब्जा करने के साथ टीम इंडिया इस मैच में कई और रिकॉर्ड बना सकती है। आइए हम आपको इन रिकॉर्डो से रूबरू कराते हैं।

महेंद्र सिंह धोनी: टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज और सबसे अहम खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी का इंदौर के मैदान से खास रिश्ता है। इस मैदान पर धोनी का औसत 107 का है, इसका मतलब है कि माही होल्कर स्टेडियम पर कई बेहतरीन पारियां खेल चुके हैं। अब धोनी इसी मैदान पर भारत के लिए अपनीं 100वीं वनडे स्टंपिंग करेंगे। हाल ही में धोनी ने अपनी 100 अंतर्राष्ट्रीय वनडे स्टंपिंग पूरी की हैं और अब वह टीम इंडिया के लिए अपनी 100 स्टंपिंग करने से केवल एक कदम दूर हैं। धोनी ने भारत के लिए खेले 300 वनडे मैचों में कुल 99 स्टंपिंग की है। [ये भी पढ़ें: प्रिव्यू: सीरीज में अजेय बढ़त हासिल करने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया]

विराट कोहली: टीम इंडिया के मौजूदा कप्तान अगर इस मैच को जीत जाते हैं तो वह लगातार सबसे ज्यादा वनडे मैच जीतने के महेंद्र सिंह धोनी के रिकॉर्ड के बराबर पहुंच जाएंगे। धोनी ने 14 नवंबर 2008 से 5 फरवरी 2009 तक लगातार 9 वनडे मैच जीते थे, वहीं विराट कोहली ने 6 जुलाई 2017 से 21 सितंबर 2017 तक 8 लगातार मैच जीते हैं। साथ ही अगर कोहली इंदौर वनडे में शतक जड़ते हैं तो वह रिकी पॉन्टिंग को पीछे छोड़ सबसे ज्यादा वनडे शतक लगाने के मामले में सचिन तेंदुलकर (49) के बाद दूसरे नंबर पर आ जाएंगे। कोहली इस समय 30 शतक के साथ पॉन्टिंग के बराबर हैं। कोहली 2 कैच लेकर युवराज सिंह (94) को पछाड़ भारत के लिए सबसे ज्यादा कैच लेने वाले आठवें खिलाड़ी बन जाएंगे।

विराट कोहली बतौर कप्तान अपने 2000 रन बनाने से केवल 41 रन दूर हैं। उन्होंने अब तक 34 पारी में से 1,959 रन बनाए हैं। कोहली बतौर कप्तान सबसे तेज 2,00 रन बनाने के एबी डीविलियर्स के रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं। डीविलियर्स ने ये रिकॉर्ड 49 पारियों में बनाया था, कोहली के पास उनका रिकॉर्ड तोड़ने के लिए 6 पारियां हैं।

रोहित शर्मा: टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा कल सभी फॉर्मेट में भारत के लिए अपना 250वां मैच खेलने जा रहे हैं। साथ ही रोहित होल्कर स्टेडियम में अपना चौथा वनडे खेलेंगे। सुरेश रैना के बाद वह ऐसा करने वाले दूसरे भारतीय है। रोहित अगर इस मैच में कोहली के साथ मिलकर 62 रन बनाते हैं तो दोनों खिलाड़ी धोनी-युवराज (3,103) को पीछे छोड़ भारत की सबसे सफल बल्लेबाजी जोड़ी में सातवें स्थान पर आ जाएंगे। दोनों ने अभी तक साथ में कुल 3,042 रन बनाए हैं। [ये भी पढ़ें: भविष्य के बारे में ना सोच केवल अपने खेल पर ध्यान देते हैं अजिंक्य रहाणे]

अक्षर पटेल-भुवनेश्वर कुमार: टीम इंडिया के नए बांए हाथ के स्पिन गेंदबाज अक्षर पटेल के इस मैच में खेलने की संभावना कम है लेकिन अगर वह कल के मैच में हिस्सा लेते हैं तो वह श्रीसंत का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं। फिलहाल होल्कर स्टेडियम पर सबसे ज्यादा 6 विकेट लेने का रिकॉर्ड श्रीसंत के नाम है, अगर अक्षर 4 और विकेट ले लेते हैं तो वह ये रिकॉर्ड तोड़ देंगे। वहीं तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और रवींद्र जडेजा भी इस रिकॉर्ड को तोड़ने से 4 विकेट दूर हैं।