9g3CbX9V

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज का आखिरी पांचवां वनडे नागपुर के विदर्भ क्रिकेट असोसिएशन ग्राउंड में खेला जाएगा। टीम इंडिया सीरीज में 3-1 से बढ़त बनाए हुए है। चौथे वनडे में 21 रनों से हार झेलने के बाद टीम इंडिया एक बार फिर से वनडे रैंकिंग में दूसरे नंबर पर आ गई है। ऐसे में अगर उसे फिर से पहले नंबर पर पहुंचना है तो इस मैच को जीतना जरूरी होगा। वहीं बात करें ऑस्ट्रेलिया की तो उसके इरादे होंगे कि वह आखिरी मैच जीतते हुए मनोवैज्ञानिक दबाव से उबरे जो उनपर पहले तीन वनडे मैचों को हारने के बाद बन गया है। इस सीरीज के बाद टी20 सीरीज खेली जानी है। जाहिर है कि यह जीत दोनों देशों के लिए उस सीरीज के लिए खासी अहम होगी।

ऑस्ट्रेलिया टीम: ऑस्ट्रेलिया टीम के एरन फिंच की वापसी के बाद तो जैसे पंख लग गए हैं। फिंच ने टॉप ऑर्डर को खासा मांज दिया है। जिससे डेविड वॉर्नर को भी भरोसा मिला और ऑस्ट्रेलिया ने लगातार दो मैचों में बड़ा स्कोर खड़ा करने में सफलता अर्जित की। जाहिर है कि फिंच और वॉर्नर से फिर से ऑस्ट्रेलिया टीम को उसी तरह की उम्मीदें होंगी। स्टीवन स्मिथ तीसरे नंबर पर अबतक अपेक्षा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं।

वहीं उसके निचले क्रम का तो और बुरा हाल है। ट्रेविस हेड, पीटर हैंड्सकॉम्ब को अंतिम ओवरों में रन बनाने की जिम्मेदारी लेनी होगी तभी बात बन पाएगी। गेंदबाजी आक्रमण की बात करें तो वह ऑस्ट्रेलिया का खासा मंजा हुआ नजर आया है। पैट कमिंस की अगुआई में गेंदबाजी आक्रमण ने भारतीय बल्लेबाजों को काफी हद तक रोकने में सफलता प्राप्त की है। ऑस्ट्रेलिया टीम ने पिछला मैच जीता है। इस लिहाज से वह इस मैच के लिए प्लेइंग इलेवन में कोई तब्दीली नहीं करना चाहेंगे।

[ये भी पढ़ें: 5 छक्के मारने के बाद रोहित शर्मा के निशाने पर अफरीदी का सबसे बड़ा रिकॉर्ड]

आखिरी पांच मैचों में ऑस्ट्रेलिया का प्रदर्शन: आखरी 5 मैचों में ऑस्ट्रेलिया ने चार मैच गंवाए हैं और एक में जीत दर्ज की है। यह एक जीत उन्हें पिछले मैच में ही मिली है। जाहिर है कि उनका इस जीत के साथ भरोसा तो जरूर बढ़ा होगा।

ऑस्ट्रेलिया की संभावित प्लेइंग इलेवन: डेविड वॉर्नर, एरन फिंच, स्टीवन स्मिथ (कप्तान), ट्रैविस हेड, पीटर हैंड्सकॉम्ब, मार्कस स्टोइनिस, मैथ्यू वेड, पैट कमिंस, नाथन कूल्टर नाइल, केन रिचर्डसन, एडम जांपा।

भारतीय टीम: टीम इंडिया ने पिछले मैच में अपनी टीम में 3 तब्दीलियां की थीं। ये तीनों ही तब्दीलियां टीम इंडिया के पक्ष में नहीं गईं और ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज में पहली बार 300 से ज्यादा का स्कोर खड़ा करने में सफलता हासिल कर ली। जैसा कि टीम इंडिया को सीरीज का पांचवां मैच जीतना जरूरी है। ऐसे में वे अपने तीनों धाकड़ गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और कुलदीप यादव को वापस बुला सकते हैं। इन तीनों ने सीरीज में अबतक शानदार प्रदर्शन किया है। इनकी वापसी से टीम को बल जरूर मिलेगा।

वहीं बात करें बल्लेबाजी की तो वह अबतक शानदार रही है। हर बल्लेबाज ने अपने कद के मुताबिक शानदार प्रदर्शन किया है। लेकिन एक ऐसा बल्लेबाज है जिसे लगातार मौका देने के बावजूद वह भुनाने में कामयाब नहीं हुआ। हम बात कर रहे हैं मनीष पांडे की। मनीष पांडे को इस मैच में बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है। पांडे ने पिछली चार पारियों में 0,3,36*, 33 रन बनाए हैं। जाहिर है कि आखिरी वनडे में कप्तान विराट कोहली केएल राहुल को जरूर मौका देना चाहेंगे। उसे देखते हुए मनीष का पत्ता कटना लगभग तय माना जा रहा है। इस तरह से टीम इंडिया में कुल 4 बदलाव किए जा सकते हैं।

पिछले पांच मैचों में टीम इंडिया का प्रदर्शन: पिछले 5 में से चार मैच टीम इंडिया ने जीते हैं। पिछले मैच में हार झेलने वाली टीम इंडिया जीत की पटरी पर वापसी के लिए तैयार है।

टीम इंडिया की संभावित प्लेइंग इलेवन: अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल/मनीष पांडे, केदार जाधव, एमएस धोनी, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल।

कैसे हैं पिच के मिजाज: पिच क्यूरेटर प्रवीण हिंग्निकर ने पीटीआई से बातचीत में कहा है कि इस मैदान पर दोनों टीमों के बीच अच्छी प्रतियोगिता देखने को मिलेगी। प्रवीण ने बताया कि हाल ही में मैदान की नई पिच तैयार की गई है। गौरतलब है कि इस मैदान पर खेला गया आखिरी वनडे मैच भी भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ही खेला गया था। उस मैच में टीम इंडिया ने 350 के स्कोर का पीछा करते हुए 6 विकेट से जीत हासिल की थी। मैच में शिखर धवन, विराट कोहली, शेन वॉटसन और जॉर्ज बेली ने शतक जड़ा था।

एक दौर था जब इस मैदान पर अक्सर ही बड़े स्कोर देखने को मिलते थे लेकिन समय के साथ पिच काफी धीमी हो गई। साल 2015 में भारत ने स्पिन गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन की मदद से साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच केवल तीन ही दिन में जीत लिया। इसके बाद आईसीसी ने इस मैदान को काफी खराब रेटिंग दी। 2016 टी20 विश्व कप के दौरान इस मैदान पर खेले गए भारत बनाम न्यूजीलैंड मैच में 127 रनों का पीछा करते हुए मेजबान टीम 79 रनों पर ऑल आउट हो गई थी। पिछले एक-दो साल में इस मैदान पर खेले गए मैचों में बड़े स्कोर नहीं बने हैं हालांकि प्रवीण का कहना है कि अब ऐसा नहीं होगा।