© PTI और Getty Images
© PTI और Getty Images

चेन्नई में जीत, कोलकाता में जीत और इंदौर में भी जीत। 5 मैचों की वनडे सीरीज में टीम इंडिया 3-0 की अजेय बढ़त बना चुकी है और अब उसका मकसद बैंगलोर में जीत का चौका लगाना होगा। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे सीरीज का चौथा मुकाबला बेंगलुरू के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा, जिसे टीम इंडिया हर हाल में जीतना चाहेगी। टीम इंडिया सीरीज अपने नाम कर चुकी है लेकिन बैंगलोर वनडे उसके लिए इसलिए भी अहम है क्योंकि वो लगातार 9 वनडे मैच जीत चुकी है और अगर बैंगलोर में भी विजय पताका फहरती है तो टीम इंडिया के क्रिकेट इतिहास में पहली बार वो 10 मैच लगातार जीतेगी।

टीम इंडिया का गजब का प्रदर्शन पिछले तीन वनडे मैचों में साफ तौर पर दिख चुका है कि भारतीय टीम हर मोर्चे पर ऑस्ट्रेलिया से दो कदम आगे हैं। बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग तीनों ही मोर्चे पर विराट कोहली की सेना ने स्टीव स्मिथ की टीम को मात दी है। इस सीरीज में टीम इंडिया के लिए सबसे बड़े स्टार हार्दिक पांड्या साबित हुए हैं। जिन्होंने 3 में से दो मैच टीम इंडिया को जितवाए हैं। हार्दिक पांड्या 3 मैचों में सबसे ज्यादा 181 रन बना चुके हैं। इसके अलावा टीम इंडिया के ओपनर अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा और विराट कोहली भी अच्छी फॉर्म में दिख रहे हैं। एम एस धोनी तो हैं ही सदाबहार बल्लेबाज, इस साल उनका बल्ला खूब रन बरसा रहा है।

गेंदबाजी की बात करें तो टीम इंडिया के दोनों रिस्ट स्पिनर्स कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने ऑस्ट्रेलिया पर कहर सा ढाया हुआ है। चहल ने 3 मैच में सिर्फ 4.72 के इकॉनमी रेट से 6 विकेट अपने नाम किए हैं। वहीं कुलदीप यादव ने भी सीरीज में 7 विकेट लिए हैं जिसमें एक हैट्रिक भी शामिल है। हार्दिक पांड्या ने 5 और भुवनेश्वर कुमार ने भी अपनी स्विंग से 4 विकेट झटके हैं। डेथ ओवर्स में जसप्रीत बुमराह का प्रदर्शन हमेशा की तरह जबर्दस्त रहा है।

ऑस्ट्रेलिया के लिए जीत जरूरी

बैंगलोर वनडे ऑस्ट्रेलिया के लिए बेहद ही जरूरी है। भले ही वो सीरीज गंवा चुका है लेकिन अगर बैंगलोर में ऑस्ट्रेलियाई टीम हार गई तो उसके ऊपर क्लीन स्वीप का खतरा और बढ़ जाएगा। साथ ही स्टीवन स्मिथ पहले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान बन जाएंगे जो 7 मैच लगातार हारे हों। वैसे विदेशी धरती की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया को पिछले 14 मैचों से वनडे मैच में जीत नसीब नहीं हुई है।

ऑस्ट्रेलिया की हार का सबसे बड़ा कारण है उसके बल्लेबाज। एरन फिंच ने पिछले मुकाबले में जरूर जबर्दस्त शतकीय पारी खेली लेकिन चेन्नई और कोलकाता में उसके बल्लेबाज फ्लॉप रहे। खासकर ओपनर डेविड वॉर्नर का बल्ला खामोश रहना उसकी हार की बड़ी वजह है। इसके साथ-साथ ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की गेंदों को समझ नहीं पा रहे हैं जिससे वो बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर पा रहे हैं।

बैंगलोर की पिच और मौसम

बैंगलोर की पिच हाल के दिनों में थोड़ी धीमी दिखाई दी है लेकिन इस पिच पर 4 साल बाद वनडे मैच हो रहा है। पिच पर बल्लेबाज को मदद मिल सकती है। वैसे अच्छे गेंदबाज हमेशा की तरह पिच का फायदा उठा सकते हैं। मौसम की बात करें तो गुरुवार को बारिश रंग में भंग डाल सकती है। मौसम विभाग ने मैच के दौरान बरसात की आशंका जताई है।

टीम इंडिया की संभावित प्लेइंग इलेवन

खबरों की मानें तो टीम इंडिया अपनी विनिंग प्लेइंग इलेवन से छेड़छाड़ नहीं करेगी। बैंगलोर वनडे में भी वही टीम उतरेगी जो पिछले तीन मैचों में उतरी थी।

टीम- अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, विराट कोहली, मनीष पांडे, केदार जाधव, एम एस धोनी, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल और जसप्रीत बुमराह। बैंगलोर वनडे में इतिहास रच सकती है टीम इंडिया, जानिए मैच से पहले बड़े आंकड़े

ऑस्ट्रेलिया की संभावित प्लेइंग इलेवन

बैंगलोर वनडे के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम में दो बदलाव हो सकते हैं। कंगारू तेज गेंदबाज पैट कमिंस को आराम दिया जा सकता है जबकि चोट के चलते एस्टन एगर पहले ही सीरीज से बाहर हो चुके हैं। प्लेइंग इलेवन में फॉकनर और जंपा शामिल हो सकते हैं।

टीम- डेविड वॉर्नर, एरन फिंच, स्टीवन स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, ट्रेविस हेड, मार्कस स्टोयनिस, पीटर हैंड्सकॉम्ब, जेम्स फॉकनर, नाथन कूल्टर-नाइल, केन रिचर्डसन और एडम जंपा।