कुलदीप यादव ने पहले दिन चार विकेट चटकाए picture courtesy: BCCI Twitter handle
कुलदीप यादव ने पहले दिन चार विकेट चटकाए picture courtesy: BCCI Twitter handle

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट का पहला दिन युवा गेंदबाज कुलदीप यादव के नाम रहा। अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे कुलदीप ने चार विकेट लेकर ऑस्ट्रेलियाई पारी को 300 रन पर समेट दिया। वहीं ऑस्ट्रेलियन कप्तान स्टीवन स्मिथ की शतकीय पारी भी धर्मशाला टेस्ट की लाइमलाइट रही। भारत ने पहले सत्र में पिछड़ने के बाद लंच के बाद शानदार वापसी की। लंच के बाद के दोनों ही सेशन भारत के नाम रहे। उमेश यादव और कुलदीप यादव ने भारतीय गेंदबाजी का नेतृत्व करते हुए ऑस्ट्रेलिया टीम को 300 पर ऑलआउट किया। भारतीय टीम ने भी दिन खत्म होने से पहले एक ओवर का खेल खेला। सलामी बल्लेबाज के एल राहुल और मुरली विजय दिन खत्म होने तक मैदान पर टिके हुए हैं। टीम इंडिया ने धर्मशाला टेस्ट पर मजबूत पकड़ बना ली है, अगर ऑस्ट्रेलिया टीम को जीत हासिल करनी है तो कल के दिन उन्हें बेहतरीन गेंदबाजी का प्रदर्शन करना होगा। अब यहां हम आपको बताएंगे दिन की कुछ खास बातों के बारे में।

उमेश यादव की शानदार शुरुआत: ऐसा बहुत कम ही बार होता है कि टेस्ट मैच में पहले या दूसरे ओवर में कोई विकेट गिरे लेकिन आज के मैच में यह कारनामा हुआ। टीम इंडिया के प्रतिभाशाली गेंदबाज उमेश यादव ने मैच के दूसरे और अपने पहले ओवर की चौथी गेंद पर सलामी बल्लेबाज मैथ्यू रैनशॉ को क्लीन बोल्ड कर दिया। उमेश की गेंद इतनी बेहतरीन थी कि मैट को पतान ही नहीं चला कब उनकी गिल्लियां उड़ गई। आज भले ही सारी लाइमालाइट कुलदीप यादव ले गए हों लेकिन दूसरे यादव भी किसी से कम नहीं हैं। उमेश ने कुल 15 ओवर में 69 रन देकर दो विकेट चटकाए। वहीं एक बार फिर शॉन मार्श उमेश यादव के ही शिकार बने। उमेश टेस्ट मैच में मार्श को पांच से ज्यादा बार आउट कर चुके हैं। [ये भी पढ़ें: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, चौथे टेस्ट का पूरा स्कोरकार्ड]

स्टीवन स्मिथ का एक और शतक: ऑस्ट्रेलिया के 300 रन के स्कोर में 111 रन तो केवल कप्तान स्टीवन स्मिथ ने बनाए थे। अगर हम ये कहे कि स्मिथ के बिना ऑस्ट्रेलियन पारी नहीं टिक पाती तो ये गलत नहीं होगा। मैथ्यू रैनशॉ के जल्दी आउट होने की वजह से दूसरे ही ओवर में स्मिथ को मैदान पर उतरना पड़ा। स्मिथ ने एक छोर से पारी को संभालते हुए पहले तेज अर्धशतक और फिर शतक जड़ा। स्मिथ इस पारी ने कई रिकॉर्ड उनके नाम कर दिए। स्मिथ ऐसे छठे खिलाड़ी बन गए हैं जिन्होंने भारतीय समजमीं पर तीन से ज्यादा शतक जड़े हैं। वहीं एलियेस्टर कुक के बाद स्मिथ ये कारनामा करने वाले दूसरे मेहमान कप्तान है। स्मिथ का भारत के खिलाफ यह सातवां शतक था।

रविचंद्रन अश्विन का रिकॉर्ड तोड़ विकेट: भारत के प्रमुख स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को आज केवल एक ही विकेट मिला लेकिन इस एक विकेट ने ही एक विश्वस्तरीय रिकॉर्ड  अश्विन के नाम कर दिया है। 60वें ओवर में अश्विन की पांचवी गेंद पर अजिंक्य रहाणे के हाथों स्मिथ को कैच आउट करते ही अश्विन एक टेस्ट सेशन में सबसे ज्यादा 78 विकेट लेने का डेल स्टेन का रिकॉर्ड तोड़ दिया। अश्विन के नाम इस टेस्ट सेशन में खेले 13 टेस्ट में कुल 79 विकेट हैं जो सर्वाधिक है। [ये भी पढ़ें: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, चौथा टेस्ट, पहला दिन(स्टंप्स): के एल राहुल और मुरली विजय क्रीज पर बरकरार]

कुलदीप यादव का धमाकेदार पर्दापण: भारतीय टीम में खेलने वाले पहले बांए हाथ के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने अपने पहले ही टेस्ट मैच में कमाल कर दिया। कानपुर के रहने वाले कुलदीप बांग्लादेश टेस्ट के समय से ही टेस्ट टीम का हिस्सा हैं लेकिन उन्हें अतिंम एकादश में मौका नहीं मिल पाया था। आज जब उन्हें कप्तान विराट कोहली की जगह टीम में खेलने का मौका मिला तो उन्होंने इस अवसर को पूरी तरह भुनाया। लंच के पहले भारत को केवल एक ही विकेट मिला था जो कि उमेश यादव ने लिया था। भारत मैच में पिछड़ रहा था ऐसे में लंच के बाद कुलदीप ने अर्धशतक जड़ चुके डेविड वॉर्नर को कप्तान अंजिक्य रहाणे के हाथों स्लिप पर कैच कराया। कुलदीप का यह पहला अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट विकेट था इसलिए वह कुछ देर के लिए काफी भावुक हो गए लेकिन किसे पता था कि ये तो बस एक ट्रेलर था। यादव ने अपनी शानदार गेंदबाजी जारी रखी और एक एक करके कुल चार विकेट चटकाए। कुलदीप विश्व चक फ्लीटवुड और लक्शन सांदकन के बाद विश्व के तीसरे चाइनामैन गेंदबाज हैं जिसने एक पारी में चार विकेट चटकाए हैं।