India vs Australia: Indian T20I-ODI Squad to be announced Today
Virat Kohli@ Getty Images

ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में हराने के बाद भारतीय टीम घरेलू मैदान पर कंगारू टीम का मुकाबला करने को तैयार है। ऑस्ट्रेलियाई टीम 24 फरवरी से भारत दौरे पर टी20 और वनडे सीरीज खेलने आ रही है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने वनडे और टी20 स्क्वाड का ऐलान कर दिया और रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई आज भारतीय टीम का ऐलान करेगी।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज से कप्तान विराट कोहली टीम इंडिया में वापसी करेंगे। जिन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज के दौरान आराम दिया गया था। वहीं मुमकिन है कि उप कप्तान रोहित को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो टी20 मैचों के लिए आराम दिया जा सकता है।

विकेटकीपर बल्लेबाज- क्या वनडे टीम में लौटेंगे पंत

भारतीय टीम के सामने सबसे बड़ी समस्या है विकेटकीपर बल्लेबाज। भारतीय वनडे स्क्वाड में महेंद्र सिंह धोनी और दिनेश कार्तिक पहले से मौजूद हैं जबकि न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 स्क्वाड में रिषभ पंत को भी जगह मिली थी। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज के लिए पंत को वनडे टीम में मौका दिए जाने की संभावना है। हालांकि विश्व कप से केवल पांच वनडे मैच पहले स्क्वाड में बदलाव करना सही रणनीति नहीं होगी।

स्पेशलिस्ट बल्लेबाज या ऑलराउंडर

टीम इंडिया के सामने दूसरी परेशानी है ऑलराउंडर खिलाड़ी। न्यूजीलैंड दौरे पर टीम इंडिया ने विजय शंकर को बतौर हार्दिक पांड्या जो कि एक ऑलराउंडर हैं, के विकल्प के तौर पर शामिल किया था। हालांकि शंकर टी20 सीरीज में तीसरे नंबर पर बतौर स्पेशलिस्ट बल्लेबाज खेले और अच्छा प्रदर्शन किया। ऐसे में बोर्ड के सामने स्पेशलिस्ट बल्लेबाज और ऑलराउंडर में से एक को चुनने का विकल्प होगा।

ये भी पढ़ें: फिर से खेल पाना खुशकिस्मती की बात है: डेल स्टेन

अगर शंकर बतौर बल्लेबाज स्क्वाड का हिस्सा बनते हैं तो खलील अहमद चौथे तेज गेंदबाज के तौर पर स्क्वाड में जगह बना सकते हैं। जबकि पहले तीन पेसर्स जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी होंगे। बुमराह भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में वापसी करेंगे।

वनडे स्क्वाड में क्या होगी जडेजा की भूमिका

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में चुना गया वनडे स्क्वाड ही इंग्लैंड में विश्व कप खेलने जाएगा, इस बात की पूरी संभावना है। ऐसे में स्पिन गेंदबाज रविंद्र जडेजा की भूमिका काफी मायने रखती है। जडेजा ने एशिया कप में लंबे समय बाद सीमित ओवर स्क्वाड में वापसी की और अपने प्रदर्शन से सभी को हैरान किया था।

ये भी पढ़ें: स्टेन के धमाके के बाद दक्षिण अफ्रीका की अच्छी शुरुआत; 170 रनों की बढ़त

जडेजा को न्यूजीलैंड दौरे पर भी स्क्वाड में जगह मिली लेकिन प्लेइंग इलेवन में नहीं। कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने स्पिन अटैक को अच्छी तरह संभाला। हालांकि बड़े टूर्नामेंट में जाने से पहले जडेजा जैसे खिलाड़ी के अनुभव को अनदेखा नहीं किया जा सकता। जडेजा गेंद के साथ साथ बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं, हालांकि पिछले कुछ समय से उनके बल्ले से ज्यादा रन नहीं आए हैं लेकिन फिर देखा जाय तो उन्हें मौके ही कितने मिले हैं।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे-टी20 स्क्वाड चुनना भारतीय चयनकर्ताओं के लिए सिरदर्द होगा। वजह ये नहीं कि टीम के पास अच्छे खिलाड़ी हैं, बल्कि ये कि भारतीय टीम के पास हर स्पॉट के लिए कई विकल्प हैं और ये एक तरह से समस्या ही है।