विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछली सीरीज के  तीनों टी20 मुकाबलों में अर्धशतक जमाया था © Getty Images
विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछली सीरीज के तीनों टी20 मुकाबलों में अर्धशतक जमाया था © Getty Images

भारत और ऑस्ट्रेलिया आज सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए एक दूसरे के आमने सामने होगी। दोनों में जो भी टीम जीतेगी वो सेमीफाइनल में अपनी जगह बना लेगी। दोनों के बीच एक रोमांचक मुकाबले की उम्मीद हर क्रिकेट फैन कर रहा है। दोनों टीमों के खिलाड़ी एक दूसरे से टक्कर लेने को तैयार हैं, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई टीम के दिमाग में भारत के हाथों करारी हार की याद जरूर होगी। भारत ने कंगारू टीम को उन्ही की धरती पर जाकर 3 मैचों की सीरीज में 3-0 से मात दी थी। भारतीय टीम कंगारूओं के खिलाफ उसी जीत के सिलसिले को आगे बढ़ाना चाहेगी। तो कंगारू टीम भारत को हराकर ये सिलसिला तोड़ना चाहेंगे। आइए आपको बताते हैं भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज में कैसे भारतीय टीम ने कंगारू टीम को मात दी थी। ALSO READ: टी20 विश्व कप 2016, भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया(प्रिव्यू): सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए भिड़ेगीं दोनों टीमें

पहला टी20 मुकाबला- एडिलेड:

वनडे सीरीज हारने के बाद भारतीय टीम ने टी20 सीरीज के पहले मैच में जबरदस्त वापसी करते हुए मेजबान टीम को 37 रनों से हराया। भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 3 विकेट खोकर 188 रन बनाए। विराट कोहली ने इस मैच में 55 गेंदों में 90 रन की पारी खेली थी। सुरेश रैना ने भी विराट का साथ निभाते हुए 41 रन बनाए थे। 189 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए कंगारू टीम ने तेज शुरूआत की और एक समय 9 ओवर में 89 रन बनाकर मैच जीतने की स्थिति में पहुंच गई थी। अश्विन और जडेजा ने शानदार गेंदबाजी करते हुए कंगारू मध्य क्रम को बिखेर दिया और कंगारू टीम 19.3 ओवरों में 151 रनों के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। (स्कोरकार्ड- भारत 188/3, विराट कोहली 90*, सुरेश रैना 41, शेन वाटसन 2/24, ऑस्ट्रेलिया 151, एरन फिंच 44, जसप्रीत बुमराह 3/23, रवीन्द्र जडेजा 2/21)ALSO READ: टी20 विश्व कप 2007: जब युवराज के इशारों पर नाचे ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज(वीडियो)

दूसरा टी20 मुकाबला- मेलबर्न:

कंगारू टीम ने मेलबर्न में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। भारत के लिए रोहित शर्मा और शिखर धवन ने शानदार शुरूआत की और 11 ओवर में 97 रन जोड़ दिये। धवन के आउट होने के बाद विराट ने पहले मैच की तरह यहां भी कंगारू गेंदबाजों की खबर लेनी शुरू कर दी और लगातार दूसरा अर्धशतक बनाया। रोहित ने 60 रनों की शानदार पारी खेली। भारत ने 3 विकेट पर 184 रन बनाये और मेजबान टीम को 185 रन लक्ष्य दिया। कंगारू टीम ने एक बार फिर से अच्छी शुरूआत को बेकार कर दिया और मिडिल ऑर्डर पूरी तरह फ्लॉप साबित हुआ और टीम 20 ओवर में 8 विकेट पर 157 रन ही बना सकी और भारत को एक बार फिर से 27 रनों से जीत मिली। (स्कोरकार्ड- भारत 184/3, रोहित शर्मा 60, विराट कोहली 59, ऑस्ट्रेलिया 157/8, एरन फिंच 74, जसप्रीत बुमराह 2/37, रवीन्द्र जडेजा 2/32)। ALSO READ: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया: जानिए क्या कहते हैं आंकड़ें

तीसरा टी20 मुकाबला- सिडनी:

तीसरे मुकाबले में कंगारू टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। कंगारू टीम ने शेन वाटसन के शानदार शतक की बदौलत 20 ओवर में 197 रन बनाकर भारत के सामने एक कठिन लक्ष्य रखा। भारतीय टीम ने अच्छी शुरूआत की और 3.1 ओवर में 46 रन बना लिये। लेकिन धवन इस स्कोर पर अपना विकेट गंवा बैठे। इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे विराट ने लगातार तीसरा पचासा जमाते हुए टीम का स्कोर 150 के पास पहुंचा दिया। लेकिन कोहली और रोहित के आउट होने के बाद भारतीय टीम सुस्त पड़ गई लेकिन रैना ने युवराज के साथ मिलकर टीम को जीत दिला दी। अंतिम ओवर में भारत को जीत के लिए 17 रनों की जरूरत थी इस ओवर से पहले तक संभल कर खेल रहे युवराज ने पहली गेंद पर चौका और दूसरी गेंद पर छक्का जड़ कर भारत का दबाव कुछ कम किया। तीसरी गेंद पर युवराज ने लेग बाई के रूप में 1 रन लेकर स्ट्राइक रैना को दे दिया। रैना ने चौथी और पांचवी गेंद पर 2-2 रन भाग लिया। अंतिम गेंद पर भारत को 2 रन और चाहिए थे रैना ने अंतिम गेंद पर चौका जड़कर भारत को शानदार जीत दिला दी।

(स्कोरकार्ड- ऑस्ट्रेलिया 197/5, शेन वाटसन 124, युवराज सिंह 19/1, भारत 200/3, रोहित शर्मा 52, विराट कोहली 50, सुरेश रैना 49*)