भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों ही टीमें इस मैच को जीतकर सेमीफाइनल में जगह बनाना चाहेंगी © Getty Images
भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों ही टीमें इस मैच को जीतकर सेमीफाइनल में जगह बनाना चाहेंगी © Getty Images

भारतीय टीम बांग्लादेश को हराने के बाद अपने अंतिम लीग मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगी। भारत को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए ये मैच हर हाल में जीतना होगा। क्योंकि हार की स्थिति में टीम टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगी। भारतीय टीम ने पाकिस्तान और बांग्लादेश को हरा कर कुल 4 अंक बटोरे हैं जबकि ऑस्ट्रेलिया ने भी बांग्लादेश और पाकिस्तान को हराकर 4 अंक अर्जित किये हैं। इसलिये दोनों टीमें सेमीफाइनल में प्रवेश करने के लिए अपना पूरा जोर लगाएंगी। बारिश से मैच रद्द होने की स्थिति में ऑस्ट्रेलिया अंतिम चार में पहुंच जाएगी क्योंकि उसका रनरेट भारत से बेहतर है। ऐसे में भारतीय फैंस को दुआ करनी होगी कि मैच पर बारिश का साया ना पड़े। ALSO READ: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, टी20 विश्व कप 2016: भारतीय टीम के संभावित अंतिम 11 खिलाड़ी

बात करें भारतीय टीम के प्रदर्शन की तो भारतीय टीम ने विश्व कप में उम्मीदों के मुताबिक प्रदर्शन नहीं किया है। बांग्लादेश जैसी टीम को हराने में उसके पसीने छूट गए। ऐसे में कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी अपनी टीम को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए प्रेरित करेंगे। टॉप आर्डर में रोहित शर्मा और शिखर धवन दोनों ही नाकाम रहे हैं। विराट कोहली ने जरूर अच्छा प्रदर्शन किया है। बांग्लादेश के खिलाफ सुरेश रैना के बल्ले से रन निकलना भारत के लिए अच्छी खबर है। युवराज और महेन्द्र सिंह धोनी भी रन बना रहे हैं। लेकिन भारतीय टीम को विरोधी टीम पर दबाव बनाना है तो टॉप आर्डर का चलना बहुत जरूरी है।

पिछले मैच में पहले स्पेल में बुमराह महंगे रहे लेकिन दूसरे स्पेल में उन्होने वापसी करते हुए शानदार गेंदबाजी की। आशीष नेहरा भी लगातार अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं। पिछले मैच अंतिम ओवर डालकर मैच के हीरो बने हार्दिक पांड्या तीसरे सीमर की भूमिका निभाएंगे। स्पिन गेंदबाजी की जिम्मेदारी अश्विन और जडेजा के कंधों पर होगी। जरूरत पड़ने पर कप्तान धोनी रैना और युवराज को भी स्पिन के विकल्प के रूप में आजमा सकते हैं। ALSO READ: टी20 विश्व कप 2016, भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया: इन खिलाड़ियों के बीच होगी रोमांचक भिड़ंत

ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भी सीरीज में बहुत शानदार शुरूआत नहीं की है। बांग्लादेश के खिलाफ जीत हासिल करने में कंगारू टीम को काफी मशक्कत करनी पड़ी। लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ टीम ने अच्छे खेल का प्रदर्शन किया। ऑस्ट्रेलियाई टॉप आर्डर कप्तान स्टीवन स्मिथ की चिंता का कारण है। एरन फिंच रन बनाने में नाकाम रहे हैं। डेविड वार्नर भी अपने नये बल्लेबाजी क्रम को अपना नहीं पाए है। पिछले मैच में स्मिथ और मैक्सवेल ने अच्छी बल्लेबाजी की थी। शेन वाटसन के बल्ले से रन निकलना ऑस्ट्रेलिया के लिए अच्छी खबर है।

गेंदबाजी में कंगारू टीम कमजोर नजर आ रही है। जॉश हेजलवुड और कुल्टर नाइल प्रभावित करने में नाकाम रहे हैं। जेम्स फॉकनर इस विश्व कप में अभी तक कंगारू टीम के सबसे सफल गेंदबाज हैं। पाकिस्तान के खिलाफ उन्होने 5 विकेट चटकाए थे। स्पिनर के रूप में एडम जंपा ने थोड़ी बहुत सफलता प्राप्त की है।

भारत:
रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, युवराज सिंह, सुरेश रैना, महेन्द्र सिंह धोनी(कप्तान), हार्दिक पांड्या, रवीन्द्र जडेजा, रविचन्द्रन अश्विन, जसप्रीत बुमराह, आशीष नेहरा, मोहम्मद शमी, अजिंक्य रहाणे, पवन नेगी, हरभजन सिंह, भुवनेश्वर कुमार।

ऑस्ट्रेलिया:
उस्मान ख्वाजा, एरन फिंच, डेविड वार्नर, स्टीवन स्मिथ(कप्तान), ग्लेन मैक्सवेल, शेन वाटसन, जेम्स फॉकनर, पीटर नेविल(विकेटकीपर), एडम जंपा, कुल्टर नाइल, जॉश हेजलवुड, एस्टन एगर, जॉन हेस्टिंग्स, मिचेल मार्श, एंड्यू टॉय।