live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 1st test match live, india vs england 1st test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live rajkot
लेट कट खेलते हुए अश्विन (Courtesy: AFP)

रविचंद्रन अश्विन पिछले कुछ सालों में भारत के एक ऐसे खिलाड़ी के रूप में उभरे हैं जो गेंदबाजी में तो कहर ढाते ही हैं बल्कि जब बल्लेबाजी की बात आती है तब भी अपना योगदान किसी मंजे हुए बल्लेबाज के रूप में देते हैं। पिछले दिनों उनको ऑलराउंडर खिलाड़ी का तमगा तो मिल ही चुका है। ऐसे में अश्विन हर सीरीज में एक न एक अच्छी पारी बैट से जरूर खेल जाते हैं। अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ राजकोट में खेले गए पहले टेस्ट के चौथे दिन उस समय शानदार अर्धशतक जड़ा जब एक छोर से विकटों का पतझड़ लग गया था। अश्विन का टेस्ट में यह सातवां अर्धशतक है। साथ ही अश्विन की टेस्ट में रनों की संख्या भी 1500 के पार है। जो बताता है कि उन्होंने बल्लेबाजी में किस स्तर का योगदान दिया है। आज जब वह बल्लेबाजी कर रहे थे तो उन्होंने स्टुअर्ट ब्रॉड और स्पिनरों के खिलाफ जिस तरह से सीधे बल्ले से स्ट्रोक खेले वह देखने में बड़े आकर्षक लग रहे थे। ये देखने में कतई नहीं लग रहा था कि कोई छठवें नंबर का बल्लेबाज बल्लेबाजी कर रहा है। अश्विन ने इस दौरान खराब गेंदों को बिल्कुल भी नहीं बख्शा और गेंदों को कवर्स के ऊपर से और अन्य दिशाओं में बिना किसी परेशानी के खेला।  भारत बनाम इंग्लैंड, पहले टेस्ट का स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें…

ये अश्विन का ही कमाल था कि उनकी 70 रनों की पारी की बदौलत भारतीय टीम ने इंग्लैंड की पहाड़ जैसी लीड को 49 रनों तक सीमित कर दिया। निचले क्रम में अश्विन के अलावा कोई अन्य बल्लेबाज कमाल नहीं दिखा सका। वैसे यह पहली बार नहीं है कि जब अश्विन ने अपने बल्ले से कमाल दिखाया है। बल्कि वह टेस्ट क्रिकेट में शुरुआत से ही अपने बल्ले से जौहर दिखाते रहे हैं। उनके नाम टेस्ट क्रिकेट में कुल 4 शतक हैं। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला शतक साल 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई में बनाया था। गौर करें कि इसी सीरीज में अश्विन ने अपना डेब्यू किया था। और अपने दूसेर टेस्ट की चौथी पारी में ही ये कारनामा मुकम्मल किया था।

उसके बाद उन्होंने सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 62 रनों की पारी खेलकर अपनी बल्लेबाजी क्षमता से सबको चौंका दिया था। साल 2014 में जब वेस्टइंडीज टीम इंडिया के दौरे पर आई थी तब अश्विन ने कोलकाता में खेले गए टेस्ट मैच में 124 रनों की शानदार पारी खेली थी। उसके बाद वह बीच- बीच में अर्धशतक भी जमाते रहे। वहीं हाल ही में जब टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज का दौरा किया तो अश्विन ने दो शतक जड़ दिए। अश्विन ने ये शतक ऐसे समय में जड़े जब टीम इंडिया जूझ रही थी। अश्विन के अगर पूरे करियर ग्राफ को देखें तो तो वह अपने 40वें टेस्ट मैच तक 34.35 कीऔसत से 1,580 रन बना चुके हैं।

इस दौरान उन्होंने 4 शतक और 7 अर्धशतक जमाए हैं। गेंदबाजी में अश्विन पहले ही 200 से ज्यादा विकेट ले चुके हैं। ऐसे में अगले कुछ साल अगर वह क्रिकेट यूं ही खेलते रहते हैं तो वह टीम इंडिया के क्रिकेट इतिहास के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर के रूप में उभर सकते हैं। गौर करने वाली बात है कि अश्विन ने अपने दो शतक विदेश में जमाए हैं। इसके अलावा वह कई अर्धशतक भी विदेशी सरजमीं पर मुकम्मल कर चुके हैं। पिछले मैचो में देखने को मिला था कि कप्तान विराट कोहली ने अश्विन को साहा से ऊपर खिलाया था। लेकिन अब फिर से कोहली ने उनकी पोजीशन बदल दी है। जाहिर है कि अगर उन्हें अश्विन से ज्यादा बढ़िया की अपेक्षा है तो उन्हें ऊपर उतारना जरूरी होगा।