India vs England: Joe Root become the first cricketer to score a double-century in their 100th Test
जो रूट (Twitter)

भारत के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में अपने टेस्ट करियर में पांचवीं बार 200 रनों का आंकड़ा पार करने के साथ इंग्लैंड के कप्तान जो रूट अपने 100वें टेस्ट में दोहरा शतक बनाने वाले पहले क्रिकेटर बने हैं।

रूट ने अपने 100वें शतक में सबसे बड़ा निजी स्कोर बनाने का पूर्व दिग्गज इंजमाम उल हक का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने साल 2005 में भारत के खिलाफ बैंगलोर टेस्ट में 184 रनों की पारी खेली थी जो कि किसी बल्लेबाज का उसके 100वें टेस्ट में बनाया सबसे बड़ा स्कोर था।

एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले जा रहे सीरीज के पहले मैच के दूसरे दिन रूट ने 143वें ओवर में रविचंद्रन अश्विन की तीसरी गेंद पर छक्का लगाकर दोहरा शतक पूरा बनाया। इसी के साथ रूट छक्के के साथ दोहरा शतक पूरा करने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं।

11 साल बाद किसी विदेशी बल्लेबाज ने भारत के खिलाफ दोहरा शतक जड़ा

इतना ही नहीं रूट साल 2010 के बाद भारत के खिलाफ भारत में दोहरा शतक बनाने वाले पहले क्रिकेटर बने हैं। इससे पहले न्यूजीलैंड के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ब्रैंडन मैक्कुलम ने 12 नवंबर 2010 को हैदराबाद टेस्ट मैच में 225 रनों की पारी खेली थी।

रूट और मैक्कुलम समेत कुल 14 खिलाड़ियों ने टीम इंडिया के खिलाफ भारत में खेले गए टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ा है।

इंग्लिश कप्तान ने चेन्नई टेस्ट के दूसरे दिन चाय काल तक 353 गेंदो पर 209 रन बनाए, जो कि चेन्नई में किसी मेहमान टीम के बल्लेबाज द्वारा बनाया सबसे बड़ा निजी स्कोर है। दिन के आखिरी सेशन में रूट 377 गेंदो पर 218 रन बनाकर 154वें ओवर में स्पिनर शाहबाज नदीम की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट होकर पवेलियन लौट गए।