India vs England: Joe Root becomes 3rd youngest player to play 100 Test matches

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान जो रूट शुक्रवार को भारत के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में टॉस के लिए मैदान पर उतरने के साथ ही 100 टेस्ट खेलने वाले तीसरे सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं। रूट 15वें ऐसे इंग्लिश क्रिकेटर हैं, जिन्होंने टेस्ट मैचों का सैकड़ा पूरा किया है। रूट चेन्नई टेस्ट से पहले 99 मैचों में 8249 रन बना चुके हैं। इसमें 19 शतक और 49 अर्धशतक शामिल हैं।

चेन्नई टेस्ट के पहले दिन रूट की उम्र 30 साल 37 दिन है। टेस्ट इतिहास में सबसे कम उम्र में 100वां टेस्ट खेलने का रिकार्ड इंग्लैंड के ही पूर्व कप्तान एलेस्टर कुक के नाम है, जिन्होंने साल 2013 में 28 साल 353 दिनों की उम्र में 100वां टेस्ट खेला था।

कुक ने इंग्लैंड के लिए सबसे अधिक 161 टेस्ट खेले। इसके बाद भारत के सचिन तेंदुलकर का नाम है। सचिन ने साल 2002 में 29 साल 134 दिन की उम्र में अपना 100वां टेस्ट खेला था। सचिन ने साल 2013 में अपने करियर का 200वां टेस्ट भी खेला था। इस मुकाम पर पहुंचने वाले वह एकमात्र टेस्ट क्रिकेटर हैं। सचिन 2013 में ही रिटायर हुए थे।

रहाणे ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कप्तान की जिम्मेदारी बखूबी निभाई: कोहली

गौरतलब है कि रूट ने भारत में ही भार के खिलाफ अपना पहला टेस्ट भी खेला था। वह एक ही देश में डेब्यू करने और 100वां टेस्ट खेलने वाले तीसरे क्रिकेटर बन गए हैं। रूट ने 2012 में भारत में डेब्यू किया था। उस साल इंग्लैंड ने सीरीज 2-1 से जीती थी।

कार्ल हूपर और कपिल देव अन्य दो क्रिकेटर हैं जो एक ही देश में अपना टेस्ट डेब्यू और 100 वां टेस्ट खेले हैं। कपिल ने जहां अपनी शुरूआत पाकिस्तान के खिलाफ पाकिस्तान में की और उसी के खिलाफ उसके घर में ही 100वां टेस्ट खेला वहीं में हूपर ने भारत के खिलाफ डेब्यू किया था और भारत के खिलाफ ही 100वां टेस्ट खेला था।