live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 1st test match live, india vs england 1st test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live Rajkot
भारत बनाम इंग्लैंड पहले टेस्ट में रोमांचक रहेगा विराट कोहली और जो रूट का मुकाबला।

इंग्लैंड के भारत दौरे का पहला मैच कल से सौराष्ट स्टेडियम में शुरू होने जा रहा है, इस स्टेडियम में खेला जाने वाला यह पहला मैच होगा। भारत जहां न्यूजीलैंड पर 3-0 से मिली जीत से काफी उत्साहित है वहीं इंग्लैंड अब तक बांग्लादेश से मिली हार के सदमें से उबर नहीं पाया है। हालांकि कोहली ने यह साफ कह दिया है कि वह इंग्लैड टीम को लेकर कोई भी गलती नहीं करना चाहते। वहीं इंग्लैंड के कोच अपने खिलाड़ियों को भारतीय टीम को नजरअंदाज करने का पाठ पढ़ा रहे हैं। दोनों में से किस टीम की रणनीति सफल होती है यह तो कल पता चलेगा लेकिन फिलहाल हम आपको बताने जा रहे है उन रोमांचक मुकाबलों के बारें में जिन्हें आप कल के मैच मे देख सकते हैं। अभी तक दोनों ही टीमों ने अपने अंतिम 11 खिलाड़ी निश्चित नहीं किए हैं पर उम्मीद है कि जिन खिलाड़ियों का जिक्र हम कर रहें हैं वह अंतिम एकादश में शामिल रहें ताकि आप इनके मुकाबले का मजा ले सकें। पहला टेस्ट जीतने के बाद टेस्ट रैंकिग मे अजेय हो जाएगी टीम इंडिया, पढ़ने के लिए क्लिक करें

1-विराट कोहली बनाम जो रूटजब से भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज की घोषणा हुई है तब से ही इन दो बल्लेबाजों की तुलना शुरू हो गई है। कोहली और रूट दोनों ही मौजूदा समय में दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक है। कोहली जहां वनडे के धमाकेदार बल्लेबाज हैं वहीं रूट टेस्ट क्रिकेट में ज्यादा सफल है लेकिन पिछली सीरीज को देखें तो कोहली ने टेस्ट में भी अपने बल्ले से कई शानदार पारियां खेली। आने वाले मैच में जब दोनों खिलाड़ी आमने सामने होंगे तब यह देखना दिलचस्प होगा कि किसका बल्ले से ज्यादा रन निकलते हैं और कौन अपनी टीम को जीत की और ले जाता है। टीम की प्रतिद्वंदिता के अलावा दोनों खिलाड़ियों में व्यक्तिगत तौर पर भी कड़ा मुकाबला चल रहा है। साल 2016 में 2079 रन के साथ जो रूट एक साल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं वहीं कोहली 1940 रन के साथ उनके केवल 139 रन पीछे हैं। अगर पहले टेस्ट में कोहली बेहतीन पारी खेलकर इस आंकड़े को पार कर लेते हैं तो वह रूट को इस मुकाबले में पछाड़ देंगे। कल के मैच का सबसे ज्यादा बेहतरीन मुकाबला विराट कोहली और जो रूट के बीच ही होगा। इंग्लैंड टीम को कोई मौका नहीं देना चाहते हैं विराट कोहली, पढ़ने के लिए क्लिक करें

2-रविचंद्रन अश्विन बनाम मोइन अली: भारत के खिलाफ वनडे सीरीज में स्पिनर्स का क्या महत्व है यह तो एलेस्टर कुक भी अच्छे से जानते हैं। इंग्लैंड के सबसे सफल स्पिनर जेम्स एंडरसन के टीम से बाहर रहने से कुक की परेशानी काफी बढ़ गई थी पर अब एंडरसन के ठीक होने से उन्हे राहत मिली है। हालांकि राजकोट टेस्ट में एंडरसन नहीं खेलेंगे क्योंकि अभी उन्हें और समय की जरूरत है पर इंग्लैंड टीम में एक और स्पिनर गेंदबाज है जिस पर अब तक किसी का ध्यान नहीं गया- वह है मोइन अली। बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मोइन अली ने कुल 11 विकेट लिए थे। मोइन को बांग्लादेश में खेलकर भारतीय उपमहाद्वीप में गेंदबाजी का अच्छा अनुभव हो गया है जिसका इस्तेमाल वह भारत के खिलाफ कर सकते हैं। वहीं भारत के पास रविचंद्रन अश्विन के रूप में एक बेहतरीन गेंदबाज मौजूद है। अश्विन भारत के सबसे बड़े मैच निमर है उन्होंने न्यूजीलैंड सीरीज में भी अच्छा प्रदर्शन किया था। अश्विन को वनडे सीरीज के लिए आराम दिया गया था ताकि टेस्ट में वह पूरी तरह से फिट रह सकें और अपना सौं प्रतिशत दे सकें। अब देखना यह है कि भारत की स्पिन फ्रेंडली पिच पर कौन सा स्पिनर अपनी फिरकी से सामने वाली टीम को चित कर पाता है।

3-हार्दिक पंड्या बनाम क्रिस वोक्स: संभावित है कि राजकोट के मैदान पर दोनों ही टीमें अंतिम एकादश में पांच बल्लेबाज, तीन स्पिनर्स, दो तेज गेंदबाज और एक आल राउंडर के साथ उतरेंगी। भारत की स्थितियों को देखकर यह सबसे स्वाभाविक टीम कॉम्बिनेशन है। इंग्लैंड के पास ऑल रॉउंडर के रूप में क्रिस वोक्स मौजूद है वहीं भारत की तरफ है पहली बार टेस्ट डेब्यू करने जा रहे हार्दिक पंड्या। हालांकि करियर ग्रॉफ के हिसाब से दोनों खिलाड़ियों में कोई भी तुलना नहीं की जा सकती पर अगर टीम में भूमिका की बात करें तो दोनों ही खिलाड़ी एक पायदान पर है। क्रिस ने अब तक 14 टेस्ट खेले हैं जिसमे उन्होंने 34.73 की औसत से 521 रन बनाए है और 45 विकेट भी लिए है। वहीं पंड्या ने अब तक कोई टेस्ट नहीं खेला है पर छोटे फॉर्मेट्स में उन्होने गेंद और बल्ले दोनों से कमाल दिखाया है। पंड्या को न्यूजीलैंड सीरीज पर वनडे कैप मिली थी जिसके बाद उन्होंने अपने प्रदर्शन से सभी का दिल जीत था। अब मौका है उन्हें टेस्ट कैप मिलने का जिसें वह बेकार नहीं जाने देंगे।

4-एलेस्टर कुक बनाम रविचंद्रन अश्विन: इंग्लैंड टीम के कप्तान और सलामी बल्लेबाज एलेस्टर कुक टीम पहले टेस्ट में जीत से शुरूआत चाहेंगे जिससे बांग्लादेश की हार को भुलाया जा सके और टीम का हौसला बढ़े। लेकिन उनके इस शानदार प्लान पर पानी फेरने को तैयार हैं रविचंद्रन अश्विन। कुक भले ही अच्छे खिलाड़ी हो पर हर बल्लेबाज की तरह हर बल्लेबाज की तरह उनमें भी कमियां है जो जगजाहिर है। कुक को शरीर से बाहर जाती गेंदों ने हमेशा ही परेशान किया है उनकी कोशिश रहती है कि ऐसा गेंदो को ज्यादा से ज्यादा छोड़ने की कोशिशि की जाय। वनडे और टी20 में तो यह कमी आसानी से छुप जाती है पर टेस्ट हर खिलाड़ी को टेस्ट करता है। अश्विन इस कमी का पूरा फायदा उठाना चाहेंगे। वहीं अगर रिकॉर्ड देखें जाएं तो कुक का औसत ऑफ स्पिनर्स के खिलाफ काफी कम है। बांग्लादेश टेस्ट में मेंहदी हसन ने कुक को 25 गेंदो के अंदर ही आउट किया था जिसका फायदा अश्विन को भी मिलेगा। कल के मैच में मुमकिन है कि सलामी बल्लेबाज कुक के खिलाफ अश्विन को जल्दी गेंदबाजी के लिए बुला लिया जाय। क्या करून नायर लेंगे चोटिल रोहित शर्मा की जगह, पढ़े पूरी बात

5-जो रूट बनाम रविंद्र जडेजा: जो रूट पिछले कई सालों में इग्लैंड के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज साबित हुए थे। रूट इस समय टेस्ट के सबसे कामयाब बल्लेबाज हैं। भारतीय टीम को अगर राजकोट में जीत के झंडे गाड़ने हैं तो विराट कोहली को रूट को उखाड़ने का कोई इंतजाम करना होगा। शायद भारत के पास एक उपाय है जो रूट की रफ्तार को रोक सकता है वह है रविंद्र जडेजा। रूट का औसत यूं तो बाएं हाथ के स्पिनर्स के खिलाफ 62 का हैं पर एशिया में यह घटकर 38.75 हो जाता है वहीं जो रूट अपने करियर में सबसे ज्यादा बार बाएं हाथ के स्पिनर्स के खिलाफ आउट हो चुकें हैं। भारत के लिए सबसे अच्छी बात यह है कि उनके पास जडेजा है जो एक अच्छे बाएं हाथ के स्पिनर है और इस समय फॉर्म में भी है। जडेजा रूट की इस कमजोरी को निशाना बनाकर भारत को इंग्लैंड का सबसे अहम विकेट दिला सकते हैं। दोनों खिलाड़ियों का सामना पहले इंग्लैंड में हुआ था जहां पिच से जडेजा क ज्यादा मदद नहीं मिल रही थी फिर भी उन्होंने रूट दो बार आउट किया था और अब तो मुकाबला भारत में है। अब देखना होगा कि रूट अपनी इस कमजोरी का कोई तोड़ निकाल पातें हैं या जडेजा का शिकार बनते हैं।