India vs England Test: Rishabh Pant, Test cricketer at Trent Bridge
Dinesh Karthik and Rishabh Pant © Getty Images

रिषभ पंत को इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में मौका दिए जाने की मांग लगातार उठ रही है। दिनेश कार्तिक लगातार दो टेस्ट में फेल रहे जिसके बाद अब नॉटिंघम टेस्ट में पंत को प्लेइंग इलेवन में शामिल किए जाने की उम्मीद बढ़ गई है। पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, सुनील गावस्कर और राहुल द्रविड़ के साथ टीम के कोच रवि शास्त्री भी इस युवा विकेटकीपर बल्लेबाज को टेस्ट में आजमाने की बात कह चुके हैं।

गावस्कर ने कहा, “ये मौका जरूर है और शायद तीसरे टेस्ट में उसे टीम में शामिल कर लिया जाय। हो सकता है कि उसे विकेटकीपर नहीं बल्कि निचले क्रम में बतौर बल्लेबाज खेलने का मौका मिले।”

द्रविड़ ने कहा, “उसने दिखाया है कि वो अलग तरह से बल्लेबाजी कर सकता है। उसके पास अलग तरह से बल्लेबाजी करने का स्वभाव और कौशल है। वो हमेशा एक आक्रामक बल्लेबाज रहेगा लेकिन लाल गेंद के क्रिकेट में हालात पढ़ना बेहद जरूरी होता है।”

टीम के कोच रवि शास्त्री ने कहा, “इंडिया-ए से खेलते हुए रन बना रहे थे। वह युवा हैं, यह समय है जब हमें एक और विकेटकीपर को तैयार करना है। उनमें वो प्रतिभा है। उनकी बल्लेबाजी देखें तो उसमें कुछ अलगपन सा है। वह मैच बदलने वाले खिलाड़ी साबित हो सकते हैं, तो उनको मौका क्यों नहीं दिया जा सकता।”

पंत और कार्तिक का प्रदर्शन की तुलना

इस दौरे पर कार्तिक ने बर्मिंघम टेस्ट में 0 और 20 रन की पारी खेली तो लॉर्ड्स में वो 0 और 1 रन ही बना पाए। इसमें दो बार वो गेंद को पढ़ने में चूके और क्लीन बोल्ड हुए। दूसरी तरफ इंडिया ए की तरफ से इंग्लैंड में खेलते हुए पंत ने नाबाद 67, 58 और 61 रन की पारी खेली।