पुजारा और रहाणे की जोड़ी इंग्लैंड के लिए सिरदर्द साबित हो सकती है © AFP
पुजारा और रहाणे की जोड़ी इंग्लैंड के लिए सिरदर्द साबित हो सकती है © AFP

भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को टेस्ट सीरीज में 3-0 से मात देने के बाद वनडे सीरीज में भी 3-2 से जीत हासिल कर ली। अब भारतीय टीम 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड के साथ भिड़ेगी। भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी बार टेस्ट सीरीज 2008 में जीती थी। उसके बाद भारत और इंग्लैंड के बीच खेली गई तीन सीरीज में इंग्लैंड ने जीत हासिल की है। लेकिन फिलहाल स्थिति बिल्कुल अलग है और मौजूदा समय में भारत टेस्ट की नंबर 1 टीम है। ऐसे में इंग्लैंड के लिए यह सीरीज इतनी आसान नहीं होने वाली है। 9 नवंबर से शुरू होने वाली इस सीरीज में कुछ भारतीय खिलाड़ियों से शानदार प्रदर्शन की उम्मीद होगी। इन खिलाड़ियों ने इस साल टेस्ट मैचों में भारत के लिए शानदार बल्लेबाजी का प्रदर्शन करते हुए मैच जिताए हैं। तो आइए जानते हैं इन खिलाड़ियों के बारे में जो इस सीरीज में निर्णायक हो सकते हैं।

1. अजिंक्य रहाणे:

अजिंक्य रहाणे इस साल टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं © AFP
अजिंक्य रहाणे इस साल टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं © AFP

बात अगर टेस्ट क्रिकेट की हो तो मौजूदा भारतीय टीम में अजिंक्य रहाणे का प्रदर्शन सबसे शानदार है। बात चाहे विदेशी जमीन पर खेलने की हो या अपनी जमीन पर रहाणे भारत के सबसे भरोसेमंद खिलाड़ी बनकर उभरे हैं। सबसे बड़ी बात उन्होंने अपने प्रदर्शन में निरंतरता बनाए रखी है। यही कारण है कि वह साल 2016 में भारत के सबसे सफल टेस्ट बल्लेबाज हैं। उन्होंने इस साल खेले 7 टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा 590 रन बनाए हैं। इन 7 टेस्ट मैचों के दौरान उनका रन बनाने का औसत 84 से ऊपर रहा है, जो कि इस साल अन्य किसी भारतीय बल्लेबाज से बेहतर है। इन 7 टेस्ट मैचों में उन्होंने 2 शतक और 2 अर्धशतकीय पारियां खेली हैं।

2. विराट कोहली:

कप्तान बनने के बाद विराट कोहली की टेस्ट बल्लेबाजी में सुधार आया है © Getty Images (File Photo)
कप्तान बनने के बाद विराट कोहली की टेस्ट बल्लेबाजी में सुधार आया है © Getty Images (File Photo)

कप्तान बनने के बाद से विराट कोहली ने बतौर टेस्ट बल्लेबाज शानदार प्रदर्शन किया है। साथ ही उनकी कप्तानी में टीम ने भी एकजुट प्रदर्शन करते हुए शानदार खेल का प्रदर्शन किया है। इस साल कोहली ने बतौर कप्तान 2 दोहरे शतक जमाए हैं, हालांकि उनके प्रदर्शन में रहाणे जैसी निरंतरता नहीं रही है। मगर फिर भी कोहली जिस तरह की क्रिकेट खेल रहे हैं कोई भी विरोधी कप्तान उनको हल्के में नहीं लेना चाहेगा। बाद करें 2016 में कोहली के प्रदर्शन की तो वह दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं। उन्होंने 7 टेस्ट मैचों में कुल 560 रन बनाए हैं। इस 7 टेस्ट मैचों के दौरान उनका औसत 56 रहा है जो उनकी सही प्रतिभा को नहीं दर्शाता है। उम्मीद है की कोहली इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में अपने औसत को और बेहतर करेंगे।

3. चेतेश्वर पुजारा:

चेतेश्वर पुजारा का फॉर्म में आना इंग्लैंड के लिए खतरे की घंटी है © Getty Images (File photo)
चेतेश्वर पुजारा का फॉर्म में आना इंग्लैंड के लिए खतरे की घंटी है © Getty Images (File photo)

न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में चेतेश्वर पुजारा का फॉर्म में आना भारत के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी है। पुजारा ऐसे बल्लेबाज हैं जो मुश्किल से मुश्किल परिस्थितियों में रन बनाने की क्षमता रखते हैं। अगर वह विकेट पर टिक जाते हैं तो इंग्लैंड के गेंदबाजों के लिए उनसे पार पाना बिल्कुल आसान नहीं होगा। हालिया सीरीज में वह अपनी पुरानी लय भी पा चुके हैं और ये इंग्लैंड के लिए खतरे की घंटी है। अगर इस साल पुजारा के प्रदर्शन पर नजर डालें तो वह तीसरे सबसे सफल भारतीय बल्लेबाज हैं। उन्होंने इस साल खेले 6 टेस्ट मैचों में 62 की औसत से 435 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 1 शतक और 3 अर्धशतकीय पारियां निकली हैं।

4. गौतम गंभीर:

गौतम गंभीर इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में अपना स्थान पक्का करना चाहेंगे © Getty Images
गौतम गंभीर इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में अपना स्थान पक्का करना चाहेंगे © Getty Images

न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में भारतीय टीम में वापसी करने वाले गौतम गंभीर के प्रदर्शन पर एक बार फिर से सबकी निगाहें रहेंगी। तीसरे टेस्ट में उन्होंने चोट के बावजूद शानदार अर्धशतकीय पारी खेली थी। गंभीर का इंग्लैंड के खिलाफ रिकॉर्ड भी काफी अच्छा है और वह इस सीरीज में रन बनाकर खुद का स्थान पक्का करना चाहेंगे। इस साल गंभीर ने सिर्फ 1 टेस्ट मैच खेला है जिसमें उन्होंने 79 रन बनाए हैं।

5. लोकेश राहुल:

लोकेश राहुल चोट के बाद टीम में वापसी करेंगे © Getty Images
लोकेश राहुल चोट के बाद टीम में वापसी करेंगे © Getty Images

पिछले कुछ समय इस युवा बल्लेबाज ने क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में शानदार प्रदर्शन किया है। अगर टेस्ट क्रिकेट की बात करें तो न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में चोटिल हो जाने की वजह से वह सिर्फ 1 टेस्ट खेल पाए थे, लेकिन उससे पहले वेस्टइंडीज दौरे पर उन्होंने अपने बल्ले का दम दिखाया था। इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज में वह अपने बल्ले की धार एक बार फिर से दिखाना चाहेंगे। अगर इस साल राहुल के प्रदर्शन पर नजर डाले तो उन्होंने 4 टेस्ट मैचों में 61 से ज्यादा की औसत से 306 रन बनाए हैं। उनकी बल्लेबाजी की सबसे खास बात यह है कि वह आक्रामक बल्लेबाजी करते हैं और अक्सर बड़ी पारियां ही खेलते हैं।

6. रिद्धिमान साहा:

निचले क्रम में रिद्धिमान साहा का होना भारतीय बल्लेबाजी को गहराई प्रदान करेगा © AFP
निचले क्रम में रिद्धिमान साहा का होना भारतीय बल्लेबाजी को गहराई प्रदान करेगा © AFP

आप सोच रहे होंगे यहां रोहित शर्मा का नाम आना चाहिए था लेकिन नहीं रिद्धिमान साहा का नाम बिल्कुल सही है। रोहित शर्मा को अभी भी टेस्ट क्रिकेट में खुद को साबित करना बाकी है। इस साल साहा ने जिस तरह से टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजी की है वह बिल्कुल परिपक्व बल्लेबाज बनते दिख रहे हैं। निचले क्रम के बल्लेबाजों के साथ छोटी बड़ी साझेदारियां निभाते हुए उन्होंने कई बार भारत को मुश्किल परिस्थितियों से निकाला है। मुश्किल विकेटों पर भी उनका खेल देखने लायक रहा है। तो इंग्लैंड के लिए गेंदबाज अगर भारतीय टॉप ऑर्डर को सस्ते में भी निपटा लेती है तो उन्हें साहा नाम की चुनौती से गुजरना होगा।