विराट कोहली और केन विलियमसन © AFP and Getty Images
विराट कोहली और केन विलियमसन © AFP and Getty Images

आज से भारत और न्यूजीलैंड के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज की शुरुआत होने जा रही है। दोनों देशों के बीच पहला वनडे मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा। दोनों टीमों का इरादा पहले मैच को जीतकर सीरीज की शुरुआत जीत के साथ करने की होगी। विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया जहां हर मैच के साथ नये रिकॉर्ड बना रही है तो वहीं दूसरी तरफ केन विलियमसन की कप्तानी में न्यूजीलैंड को हल्के में लेना भारतीय टीम के लिए बड़ी भूल साबित हो सकती है। कीवी टीम के लिए भारत का पिछला दौरे अच्छा रहा था और इस लिहाज से सीरीज काफी रोमांचक रहने की उम्मीद है।

सितारों से सजी है भारतीय टीम: टीम इंडिया काफी संतुलित नजर आ रही है। फिर चाहे वो बल्लेबाजी हो या फिर गेंदबाजी। दोनों ही विभागों में टीम बेहद मजबूत है। ओपनिंग की बात करें तो शिखर धवन और रोहित शर्मा की जोड़ी किसी भी टीम की गेंदबाजी की धज्जियां उड़ाने का माद्दा रखती है। तीसरे नंबर पर दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज विराट कोहली कीवी गेंदबाजों को सबक सिखाते नजर आएंगे।

नंबर-4 का पेंच: टीम इंडिया में नंबर-4 का पेंच फंसा हुआ है। भारतीय खिलाड़ियों ने पिछले कुछ सालों में कई खिलाड़ियों को इस नंबर पर खेलने का मौका दिया है लेकिन अब तक कोई भी बल्लेबाज इस नंबर पर अपनी छाप नहीं छोड़ सका है। माना जा रहा है कि कीवी टीम के खिलाफ इस नंबर पर मनीष पांडे खेलते नजर आ सकते हैं।

बेहतरीन मिडिल ऑर्डर: टीम इंडिया के पास दुनिया का सबसे शानदार मिडिल ऑर्डर है। मिडिल ऑर्डर में भारत के पास एम एस धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या जैसे खिलाड़ी हैं जो हालात के मुताबिक बल्लेबाजी करने के लिए जाने जाते हैं। इसके अलावा तीनों ही खिलाड़ी किसी भी समय गेंदों को बाउंड्री के बाहर भी भेज सकते हैं।

खिलाड़ियों को आराम देकर विदेशी दौरों पर जीतेगी टीम इंडिया?
खिलाड़ियों को आराम देकर विदेशी दौरों पर जीतेगी टीम इंडिया?

दमदार है गेंदबाजी: टीम इंडिया की गेंदबाजी की बात करें तो टीम 2 तेज गेंदबाजों और 2 स्पिन गेंदबाजों के साथ मैदान पर उतर सकती है। भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह के रूप में भारत के पात सबसे शानदार जोड़ी है और दोनों से ही भारत को शुरुआती विकेट लेने की उम्मीद होगी। वहीं स्पिन विभाग में भारत के पास कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के रूप में 2 सनसनीखेज गेंदबाज हैं। जिन्होंने अब तक बेहतरीन खेल दिखाया है। ऐसे में टीम इंडिया इस मुकाबले में जीत की प्रबल दावेदार नजर आ रही है।

आखिरी 5 मैचों में टीम इंडिया का प्रदर्शन: आखिरी 5 मैचों में टीम इंडिया के प्रदर्शन की बात करें तो टीम ने शानदार खेल दिखाया है। भारत ने अपने आखिरी 5 मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले हैं और इस दौरान टीम को 4 में जीत और 1 में हार मिली है।

भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन: रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, मनीष पांडे, केदार जाधव, एम एस धोनी, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह।

उलटफेर के इरादे से उतरेगी कीवी टीम: मुंबई वनडे से ठीक पहले न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने बड़ा बयान देते हुए कहा था कि भारत को भारत में हराना बेहद मुश्किल है। बयान से साफ है कीवी टीम को जीतने के लिए अपना बेस्ट देना होगा। हालांकि न्यूजीलैंड के पास कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो अकेले दमपर मैच का पासा पलटने का दमखम रखते हैं। टीम की तरफ से ओपनिंग का दारोमदार मार्टिन गप्टिल और कॉलिन मुनरो पर होगा। दोनों ही बल्लेबाज बेहद विस्फोटक हैं और दोनों से टीम को अच्छी शुरुआत दिलाने की उम्मीद होगी। तीसरे नंबर पर न्यूजीलैंड के कप्तान और दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज विलियमसन खेलते नजर अएंगे।

मिडिल ऑर्डर भी है मजबूत: न्यूजीलैंड के मिडिल ऑर्डर की बात करें तो टीम के पास रॉस टेलर के रूप में दुनिया का सबसे शानदार खिलाड़ी है। वहीं टॉम लैथम, हेनरी निकोल्स/ग्लेन फिलिप्स, कॉलिन डी ग्रैंडहोम अपनी बल्लेबाजी से भारतीय गेंदबाजों के लिए मुसीबत बनने की पूरी कोशिश करेंगे। टीम के पास मिचेल सैंटनर भी हैं जो आखिरी ओवरों में तेज गति से रन बनाने के लिए जाने जाते हैं।

शानदार है गेंदबाजी: न्यूजीलैंड की गेंदबाजी बेहतरीन नजर आ रही है और सबसे बड़ी बात टीम के पास ट्रेंट बोल्ट के रूप में बाएं हाथ का तेज गेंदबाज है। भारतीय टीम को बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों से परेशानी होती है और ऐसे में बोल्ट इसका पूरा फायदा उठाने की कोशिश करेंगे। बोल्ट के अलावा टीम के पास टिम साऊदी भी हैं जिनकी स्विंग और तेजी भारतीय टीम के लिए मुसीबत बन सकती है। वहीं स्पिन का जिम्मा सैंटनर और ईश सोढ़ी के कंधों पर होगा।

आखिरी 5 मैचों में कैसा रहा है प्रदर्शन: न्यूजीलैंड के आखिरी 5 मैचों के प्रदर्शन की बात करें तो टीम के लिए आखिरी 5 मैच बेहद ही खराब रहे हैं। इस दौरान टीम को 3 में हार और सिर्फ 2 में जीत मिसी है। खास बात ये है कि आखिरी तीनों मैच कीवी टीम हारी है।

न्यूजीलैंड की संभावित प्लेइंग इलेवन: मार्टिन गप्टिल, कॉलिन मुनरो, केन विलियमसन, रॉस टेलर, टॉम लैथम, हेनरी निकोलस/ ग्लेन फिलिप्स, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, मिचेल सैंटनर, ईश सोढ़ी, ट्रेंट बोल्ट, टिम साऊदी।