LIVE Cricket Score, India vs New Zealand, India vs New Zealand live score, ind vs nz 4th ODI, ind vs nz live score, india vs New Zealand live streaming, India Vs New Zealand Highlights, India Zealand Ranchi
रांची में खेला जाएगा भारत-न्यूजीलैंड के बीच चौथा वनडे मैच © Getty Images

भारतन्यूजीलैंड के बीच खेले गए तीसरे मुकाबले में दर्शकों को एक अच्छा मुकाबला देखने को मिला। अब दर्शकों को उम्मीद है कि भारतीय टीम अगले वनडे में भी पूरे जोश के साथ खेलेगी और सीरीज जीतने में कामयाब होगी। पहले मैच में जहां भारत ने न्यूजीलैंड को हरा दिया था तो दूसरे मुकाबले में न्यूजीलैंड ने वापसी करते हुए भारत को पटखनी दे दी थी सीरीज के तीसरे मैच में एक बार फिर भारत ने जबर्दस्त वापसी की और मुकाबले को सात विकेट से जीतकर सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली। जाहुर है अब तक सीरीज काफी रोमांचक रही है, तो आइए नजर डालते हैं दोनों टीमों के ऐसे खिलाड़ियों पर जिनके बीच जबर्दस्त टक्कर देखने को मिलेगी।

5. मार्टिन गप्टिल बनाम उमेश यादव:

पहले तीनों वनडे में गप्टिल एक बार फिर लंबी पारी खेलने में असफल रहे। मार्टिन गप्टिल और उमेश यादव के बीच जबर्दस्त जंग देखने को मिलेगी। एक बल्लेबाजी में पारी की शुरुआत करता है तो एक गेंदबाजी में। वैसे दोनों ने सीरीज में अब तक तीन पबार एक-दूसरे का सामना किया है, जिसमें दो बार उमेश यादव ने पार्टिन गप्टिल को आउट करने में सफलता प्राप्त की है। तो कह सकते हैं मार्टिन गप्टिल के मुकाबले यादव का पलड़ा भारी रहेगा। चौथे वनडे में भी उमेश यादव गप्टिल को जल्द पवेलियन भेजने का भरकस प्रयास करेंगे। वहीं दूसरी तरफ गप्टिल बल्ले से प्रहार कर उमेश यादव से बदला लेने की पूरी कोशिश करेंगे। ये भी पढ़ें: भारत बनाम न्यूजीलैंड, चौथा वनडे(प्रिव्यू): सीरीज जीतने के होंगे इरादे 

3. कोरी एंडरसन बनाम अक्षर पटेल:

वनडे सीरीज के लिए टीम का हिस्सा बने कोरी एंडरसन पहले तीनों मैचों में कोई खास कमाल नहीं दिखा पाए। वहीं दूसरी ओर अक्षर पटेल का भी कुछ यही हाल है, उन्हें भी इस सीरीज के हर मैच में अच्छा प्रदर्शन कर खुद को टीम में ऑल राउंडर के रूप में स्थापित करना है। ऐसे में चौथे मैच मैच में ये दोनों खिलाड़ी न केवल टीम के लिए बल्कि अपने लिए भी खेलेंगे। दोनों के बीच खुद को साबित करने के लिए कड़ा मुकाबला होगा।

2. केन विलियमसन बनाम अमित मिश्रा:

पहले तीनों वनडे में अमित मिश्रा ने शानदार गेंदबाजी की, कीवी टीम के तीन-तीन और दो महत्वपूर्ण विकेट लेकर मिश्रा ने साबित किया कि अश्विन और जडेजा के टीम से बाहर रहने पर भी भारत का स्पिन अटैक कमजोर नहीं पड़ता। वहीं कीवी कप्तान विलियमसन मुश्किल समय में अपनी टीम के लिए रन बनाने में सफल रहे और दूसरे मैच में शतक लगाया। लेकिन इसके बाद कप्तान के आउट होने पर जैसे पूरी न्यूजीलैंड पारी ताश के पत्तों की तरह बिखर गई। तीसरे वनडे में विलियमसन अच्छी लय में दिख रहे थे लेकिन तभी वह LBW आउट होकर पवेलियन लौट गए। विलियमसन को अगर चौथा वनडे जीतना है तो उन्हें एक बार फिर कप्तानी पारी खेलनी होगी। टेस्ट में अश्विन ने विलियम्सन को काफी परेशान किया था अब यही उम्मीद अमित मिश्रा से की जा सकती है। दूसरे मैच में मिश्रा को खेलना उनके लिए मुश्किल हो रहा था और अंत में मिश्रा ने विलियम्सन को आउट करने में सफलता भी पाई थी। ऐसे में चौथे मैच में फिर दोनों आमने सामने होंगे, देखना वाकई दिलचस्प होगा कि किसकी जीत होगी। ये भी पढ़ें: क्या है महेंद्र सिंह धोनी का ‘मिशन 2019 विश्वकप’?

2. महेन्द्र सिंह धोनी बनाम टिम साऊदी:

काफी समय से धोनी के बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आने की चर्चाएं हो रही थीं और धोनी ने चर्चाओं पर विराम लगाते हुए तीसरे वनडे में चौथे नंबर पर खेलने उतरे। पहले वनडें में धोनी ने पांचवें नंबर पर आकर अच्छी शुरुआत की थी लेकिन अफसोस वह इसे बड़ी पारी में बदल नहीं सके। 28वें ओवर की चौथी गेंद पर रन लेते समय तालमेल में गड़बड़ के चक्कर में धोनी रन आउट हो गए। कोटला में भी धोनी बेहद धीमे खेलते हुए 65 गेंदों में सिर्फ 39 रन ही बना सके। लेकिन तीसरे वनडे में धोनी ने जबर्दस्त वापसी करते हुए 80 रनों की पारी खेली। क्योंकि अब जब धोनी ऊपर खेलेंगे तो साऊदी और धोनी के बीच का मुकाबला काफी दिल्चस्प रहेगा। साऊदी ने दूसरे मैच में धोनी को आउट भी किया था। ऐसे में दोनों के बीच यह मुकाबला काफी रोमांचक रहेगा।

1. विराट कोहली बनाम मैट हेनरी:

पहले और तीसरे वनडे के नायक रहे विराट कोहली को यूं तो किसी भी कीवी गेंदबाज को खेलने में खास परेशानी नहीं हुई थी। लेकिन दूसरे वनडे में वह अपनी गलती से आउट हो गए थे। वहीं तीसरे वनडे की बात करें तो कोहली एक बार फिर नाबाद रहे। लेकिन तीसरे वनडे में एक क्षण ऐसा भी आया था जब हेनरी के ओवर में कोहली का आसान सा कैच टेलर ने टपका दिया था। इस बात को हेनरी भूले नहीं होंगे और चौथे वनडे में वह फिर से कोहली को परेशान करने के इरादे से मैदान पर उतरेंगे। कोहली और हेनरी दोनों ही युवा हैं ऐसे में दोनों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिलेगी।