India Vs New Zealand, ODI series: Kuldeep, Shami, Chahal, Shikhar shine in India’s comprehensive win

भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड में तीन लगातार वनडे मुकाबले में जीत दर्ज कर सीरीज पर अजेय बढ़त हासिल कर ली। माउंट मानगुनई में जीत का मतलब था की मेजबान के सीरीज में वापसी की उम्मीद खत्म। विराट कोहली न्यूजीलैंड में वनडे सीरीज जीतने वाले महेंद्र सिंह धोनी के बाद दूसरे भारतीय कप्तान बन गए।

टीम इंडिया को न्यूजीलैंड में मिली जीत में कोहली एंड कंपनी का ऑलराउंडर प्रदर्शन सबसे अहम रहा। टीम की ओपनिंग ने काम किया तो तेज गेंदबाजी को स्पिन जोड़ी का भरपूर साथ मिला।

भारतीय ओपनर्स ने निभाई जिम्मेदारी

न्यूजीलैंड और भारत के बीच का सीरीज में सबसे बड़ा फासला टीम की शुरुआत ने पैदा की। भारतीय टीम के लिए रोहित शर्मा और शिखर धवन ने जहां रन बनाए वहीं मेजबान ओपनर मार्टिन गुप्टिल और कॉलिन मुनरो ऐसा करने में नाकाम रहे। नेपियर में रोहित-धवन ने 41 जबकि माउंट मानगुनई में 154 और 39 रन की साझेदारी निभाई। गुप्टिल और मुनरो ने तीनों वनडे में 5 रन, 23 और 10 रन की साझेदारी की।

पढ़ें:- चैंपियंस ट्रॉफी की हार के बाद भारत ने दर्ज की 11वीं सीरीज जीत

शिखर धवन ने 75, 66 और 28 रन की पारी खेलते हुए तीन मैचों में 169 रन बनाए जबकि रोहित शर्मा ने 11, 87 और 62 रन की पारी खेल पहले वनडे में कुल 160 रन का योगदान दिया। मुनरो ने अब तक 46 जबकि गुप्टिल ने 33 रन बनाए हैं।

तेज गेंदबाजी में लय

टीम इंडिया का ताकतवर पहलू बनकर सामने आई तेज गेंदबाजी ने न्यजीलैंड में भी धमाकेदार प्रदर्शन किया। मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार ने तीनों ही मैच में कीवी टीम के अच्छी शुरुआत के सपने पर पानी फेरा। पहले वनडे और तीसरे वनडे में शमी ने टीम को झकझोरा तो दूसरे मुकाबले में भुवी ने मेजबान को शुरुआती झटके दिए।

पढ़ें:- कोहली की कप्तानी में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के बाद न्यूजीलैंड को हराया

पहले वनडे में जहां शमी ने 19 रन देकर तीन विकेट चटकाए उसी मुकाबले में न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ड और टिम साउदी एक भी विकेट नहीं हासिल कर पाए। तीन मैच के बाद सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की लिस्ट में पहले चार नाम भारतीय गेंदबाज के हैं।

फिरकी जोड़ी ने चलाया जादू

कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी ने न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों की एक नहीं चलने दी। नेपियर के पहले मुकाबले में कुलदीप ने चार जबकि चहल ने दो विकेट हासिल किए। दूसरे मुकाबले में भी नतीजा बिल्कुल ऐसा ही रहा दोनों ने छह विकेट अपने नाम कर कीवी टीम की कमर तोड़ दी।