विराट कोहली © IANS
विराट कोहली © IANS

पहले वनडे में दांबुला में 9 विकेट से जीत और दूसरे वनडे में श्रीलंका को पल्लेकेले में 3 विकेट से हराया। टीम इंडिया ने 5 मैचों की सीरीज में दो वनडे जीत लिए हैं। अब उसका मकसद तीसरे वनडे में भी जीत हासिल कर सीरीज में अजेय बढ़त हासिल करना होगा। टीम इंडिया अगर तीसरा वनडे भी जीत लेती है तो ये विराट कोहली के फुल टाइम वनडे कप्तान बनने के बाद उनकी लगातार तीसरी सीरीज जीत होगी। विराट कोहली ने फुल टाइम वनडे कप्तान बनने के बाद पहली सीरीज इंग्लैंड के खिलाफ खेली थी, जिसमें टीम इंडिया ने जीत हासिल की थी। इसके बाद विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज में 3-1 से वनडे सीरीज जीती और अब श्रीलंका के खिलाफ उसके पास सीरीज पर कब्जा करने का मौका है।

वैसे तो विराट की कप्तानी का सफर अभी शुरू ही हुआ है, लेकिन अबतक के उनके प्रदर्शन को देखकर साफ है कि वो टीम इंडिया के सबसे बड़े कप्तानों में शूमार हो सकते हैं, विराट की कप्तानी के आंकड़े भी इसकी तस्दीक करते हैं। साल 2016 से विराट की कप्तानी में टीम इंडिया टेस्ट और वनडे फॉर्मेट में एक भी सीरीज नहीं हारी है। विराट की कप्तानी में टीम इंडिया 2016 से कुल 9 सीरीज जीत चुकी है। तीसरे वनडे में एमएस धोनी बनाएंगे ‘2 शतक’?

2016 में विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने वेस्टइंडीज को टेस्ट सीरीज में 2-0 से मात दी। इसके बाद न्यूजीलैंड को टेस्ट सीरीज में 3-0 और वनडे सीरीज में 3-2 से हराया। विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने अगली जीत इंग्लैंड के खिलाफ दर्ज की। इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज में 4-0 और वनडे सीरीज में 2-1 से हराया। विराट की कप्तानी में बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 1-0 से और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-1 से जीत मिली। 2017 में टीम इंडिया ने विराट की कप्तानी में वेस्टइंडीज में 3-1 से वनडे सीरीज जीती। श्रीलंका दौरे पर विराट की कप्तानी में 3-0 से टेस्ट सीरीज में जीत मिली और अब वनडे सीरीज में भी विराट सेना जीत की राह पर खड़ी है। विराट अगल पल्लेकेले में रविवार को तीसरा वनडे जीत लेते हैं तो विराट की वनडे और टेस्ट को मिलाकर ये लगातार 10वीं सीरीज जीत होगी।