India vs Sri Lanka, 3rd Test: preview and likely XI for Hosts and Visitors
टीम इंडिया 1-0 से टेस्ट सीरीज में आगे है © Getty Images

कोलकाता टेस्ट में जीत के करीब पहुंच चुकी टीम इंडिया को ड्रॉ तक लाने वाली श्रीलंका टीम को नागपुर टेस्ट में मुंह की खानी पड़ी। हालांकि अब भी श्रीलंका टीम के पास सीरीज ड्रॉ करना का मौका है, अगर मेहमान टीम दिल्ली के फिरोज शाह कोटला में कल खेले जाने वाले तीसरा टेस्ट मैच में जीत जाती है तो वह सीरीज में बराबरी हासिल कर लेगी। हालांकि मैच हारने या ड्रॉ होने से दोनों ही सूरतों में भारत विजेता बन जाएगा। पहले दोनों टेस्ट मैचों में श्रीलंका की सबसे बड़ी परेशानी उनकी बल्लेबाजी रही है। कोलकाता टेस्ट में जहां ये कमी हल्की नजर आई थी, वहीं नागपुर में भारतीय गेंदबाजों ने श्रीलंकाई बल्लेबाजी क्रम को बिखेर कर रख दिया।

नागुपर टेस्ट की पहली पारी में 205 रन बनाने के बाद मेहमान टीम दूसरी पारी में केवल 166 रन पर सिमट गई। भारत की ओर से जहां तीन शतक और एक दोहरा शतक लगा, वहीं कप्तान दिनेश चांदीमल और दिमुथ करुणारत्ने को छोड़कर श्रीलंका का कोई भी बल्लेबाज दोनों पारियों में 50 का आंकड़ा नहीं पार कर सका। चांदीमल और टीम मैनेजमेंट को इस बात पर गौर फरमाने की जरूरत है कि एक ही पिच पर दोनों टीमों की बल्लेबाजी में इस तरह का फर्क क्यों आया। गेंदबाजी की बात करें तो दिलरुवान परेरा के अलावा कोई भी खिलाड़ी छाप नहीं छोड़ पाया। साथ ही श्रीलंका के प्रमुख स्पिनर रंगना हैराथ की चोट टीम के लिए बड़ा झटका साबित हो सकती है। ऐसे में दूसरे टेस्ट के लिए श्रीलंका टीम में कई बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

श्रीलंका की संभावित प्लेइंग इलेवन: दिमुथ करुणारत्ने, सदीरा समरविक्रमा, लाहिरु थिरिमाने, एंजेलो मैथ्यूज, दिनेश चांदीमल (कप्तान), निरोशन डिकवेला (विकेटकीपर), दसुन शानका, दिलरुवान परेरा, लक्षण संदकन (रंगना हैराथ की जगह), सुरंगा लकमल, लाहिरु गमजे।

तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से आगे चल रही टीम इंडिया के लिए ये सीरीज जीतने का सुनहरा मौका है। नागपुर टेस्ट के बाद पूरी तरह बिखरी श्रीलंका टीम को हराना भारत के लिए कोई बड़ी बात नहीं होगी। टीम इंडिया के लगभग सभी बल्लेबाज इस समय फॉर्म में हैं। विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा, मुरली विजय और रोहित शर्मा ने नागुपर टेस्ट में शतकीय पारियां खेली थी। वहीं टीम मैनेजमेंट के सामने दूसरे टेस्ट में ब्रेक लेने के बाद टीम में वापसी कर रहे शिखर धवन को प्लेइंग इलेवन में शामिल करने की परेशानी जरूर होगी। धवन पहले टेस्ट में केवल 6 रन से शतक से चूक गए थे, वहीं दूसरे मैच में उनकी जगह आए विजय ने शानदार शतक लगाया। ऐसे में केएल राहुल का बाहर जाना मुमकिन है क्योंकि उन्होंने दोनो मैचों में कुछ खास बड़ी पारी नहीं खेली है।

पहले टेस्ट में जहां टीम इंडिया के पेस अटैक ने धमाल मचाया था, वहीं दूसरे मैच में स्पिन गेंदबाजों ने भी विकेटों की झड़ी लगा दी। रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा ने मिलकर नागुपर टेस्ट में कुल 13 विकेट लिए, इस दौरान अश्विन ने 300 टेस्ट विकेट भी पूरे किए। चोट की वजह से बाहर हुए मोहम्मद शमी की जगह टीम में आए ईशांत शर्मा ने भी 5 विकेट झटके, हालांकि शमी अब ठीक हैं और दिल्ली टेस्ट में उनके खेलने की संभावना है। शमी को प्लेइंग इलेवन में लाने के लिए ईशांत और उमेश यादव में से किसी एक तेज गेंदबाज को बाहर बैठना पड़ सकता है।

भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन: शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविंद्र जडेजा, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी।

गौरतलब है कि टीम इंडिया फिरोज शाह कोटला के मैदान पर 1990 के बाद से एक भी टेस्ट मैच नहीं हारी है। ऐसे में कल के मैच में श्रीलंका की जीत की उम्मीदें काफी कम हैं। अगर भारत ये मैच जीत या ड्रॉ करा सीरीज पर कब्जा कर लेता है तो ये टीम की लगातार नौंवी टेस्ट सीरीज जीत होगी। टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के लगातार 9 टेस्ट सीरीज जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेगी।