© Getty Images
© Getty Images

भारत बनाम श्रीलंका वनडे सीरीज का आखिरी मैच रविवार 3 सितंबर को कोलंबो के प्रेमदासा स्टेडियम में खेला जाएगा। टीम इंडिया 4-0 से जीत चुकी है, वहीं श्रीलंका के पास क्लीन स्वीप से बचने का मौका है। साथ इस मैच में दोनों टीमों के खिलाड़ी कई रिकॉर्ड बना सकते हैं। हम यहां आपको कोलंबो वनडे में बनने वाले रिकॉर्डों के बारे में बताने जा रहे हैं।

महेंद्र सिंह धोनी: हाल ही में अपना 300वां वनडे खेल चुके टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी कोलंबो वनडे में कई बड़े रिकॉर्ड बना सकते हैं। धोनी अपनी 100वीं वनडे स्टंपिंग से केवल एक कदम दूर हैं। कोलंबो वनडे में एक और स्टंपिंग कर धोनी वनडे में 100 स्टंपिंग करने वाले पहले विकेटकीपर बन जाएंगे।

धोनी मोहम्मद अजहरूद्दीन को पीछे छोड़कर भारत के लिए पांचवें सर्वाधिक वनडे रन बनाने वाले बल्लेबाज बनने से केवल 24 रन दूर हैं। वहीं धोनी अपना 100वां अंतर्राष्ट्रीय अर्धशतक करने से एक कदम दूर हैं।

विराट कोहली: टीम इंडिया के कप्तान 15,000 रन पूरे करने से 117 रन दूर हैं। कप्तान कोहली एक शतक लगाकर सबसे ज्यादा वनडे शतक लगाने के मामले में रिकी पॉन्टिंग की बराबरी कर लेंगे। कोहली इस मैच में शतक लगाकार कोलंबो में तीन लगातार शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन जाएंगे।

कोहली तीन कैच लेकर युवराज सिंह को पीछे छोड़ भारत की ओर से सबसे ज्यादा वनडे कैच लेने वाले आठवें फील्डर बन जाएंगे। साथ ही 133 रन बनाकर कोहली भारत के सबसे ज्यादा वनडे रन बनाने वाले छठें बल्लेबाज बन जाएंगे।

रोहित शर्मा: टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा एक और शतक लगाकर जहीर अब्बास, सईद अनवर, क्वींटन डी कॉक, रॉस टेलर, बाबर आजम, एबी डीविलियर्स और हर्शेल गिब्स के लगातार तीन शतक लगाने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। साथ ही रोहित कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम पर लगातार शतक लगाने वाले पांचवें खिलाड़ी बन जाएंगे।

जसप्रीत बुमराह: एक और विकेट लेकर बुमराह भारत बनाम श्रीलंका वनडे सीरीज में सर्वाधिक 13 विकेट लेने का अजंता मेंडिस का रिकॉर्ड तोड़ देंगे।

कुसल मेंडिस: श्रीलंका टीम के लिए ये 250वां वनडे मैच होगा। कुसल मेंडिस 31 रन बनाकर सबसे तेज 1,000 रन बनाने वाले तीसरे श्रीलंकन खिलाड़ी बन जाएंगे।

टीम इंडिया: भारत अगर पांचवां वनडे भी जीत जाता है तो वह पहली बार दो लगातार दो वनडे सीरीज क्लीन स्वीप कर जीत सकेगा। अगर टीम इंडिया इस मैच में भी 350 से ज्यादा का स्कोर बनाता है, तो भारत सबसे ज्यादा 25 बार वनडे में 350 से ज्यादा स्कोर बनाने वाली टीम का रिकॉर्ड हासिल कर सकता है।