wi vs ind

भारत और वेस्टइंडीज संयुक्त राज्य अमेरिका में खेली जाने वाली टी20 सीरीज के पहले टी20 मैच में एक दूसरे से शनिवार को भिड़ेंगे। भारत के हाथों 2-0 से टेस्ट सीरीज गंवाने के बाद वेस्टइंडीज अपने मुख्य खिलाड़ियों की उपस्थिति में वापसी करते हुए भारतीय टीम को पटखनी देना चाहेगी। वेस्टइंडीज अमेरिका में दो बार खेल चुका है ऐसे में वह जाहिर तौर पर भारतीय टीम के समक्ष कड़ी चुनौती पेश करने के लिए आमादा होगा। भारत के बल्लेबाज आजकल अच्छी फॉर्म में हैं वहीं टी20 में वेस्टइंडीज की धाक खूब जमी है। चूंकि, वेस्टइंडीज की आंखे टी20 रैंकिंग में दूसरा स्थान हासिल करने पर है तो वह भारत को 2-0 से पटखनी देने का भरसक प्रयास करेगा। तो आइए जानते हैं शनिवार को होने वाले पहले मैच में कुछ खास खिलाड़ियों की भिड़ंत के बारे में।

रोहित शर्मा बनाम सैमुअल बद्री: भारतीय टीम के बेहतरीन ओपनर रोहित शर्मा हाल फिलहाल में लिमिटेड ओवर क्रिकेट में खासे सफल रहे हैं। हालांकि, आईसीसी टी20 2016 में वह आशाओं पर उतना खरा नहीं उतर पाए थे। सेमीफाइनल में रोहित ने भारतीय टीम को धमाकेदार शुरुआत दी थी जिसकी बदौलत ही टीम इंडिया एक बड़ा स्कोर बना पाई थी। रोहित से एक बार फिर से उसी तरह की शुरुआत की आशा भारतीय टीम को यहां फ्लोरिडा में खेले जाने वाले पहले टी20 मैच में होगी। लेकिन बद्री इस मैच में उनके सामने कड़ी चुनौती पेश कर सकते हैं। टी20 में बद्री पावरप्ले में बॉलिंग करते हैं और अक्सर अपनी विविधताओं से बल्लेबाजों को भौंचक्का छोड़ देते हैं। जाहिर है कि रोहित को उनकी गेंदों को शुरुआत में पढ़ने की जरूरत होगी ताकि वह मौका मिलने पर वह उनकी लय बिगाड़ दें।

विराट कोहली बनाम सुनिल नरेन: टी20 विश्व कप में सुनिल नरेन वेस्टइंडीज स्क्वाड में शामिल नहीं थे। नरेन की वापसी के साथ ही वेस्टइंडीज टी20 टीम और भी मजबूत बन गई है। विराट कोहली ने इस साल टी20 क्रिकेट में रनों का अंबार लगाया है औ वह टी20 में पहले नंबर पर हैं ऐसे में कोहली और नरेन की भिड़ंत दिलचस्प हो सकती है। नरेन अभी टी20 गेंदबाजी रैंकिंग में दूसरे नंबर पर हैं और विराट कोहली बल्लेबाजी रैंकिंग में पहले स्थान पर हैं। जाहिर है कि नरेन विराट कोहली को आउट करने के लिए एक विस्तृत रणनीति के साथ मैदान पर उतरेंगे। विराट कोहली को ही नहीं इस गेंदबाज से भारतीय टीम के सभी बल्लेबाजों को सतर्क रहना होगा।

एमएस धोनी बनाम ड्वेन ब्रावो: एमएस धोनी की ब्रावो से भिड़ंत होने की ज्यादा संभावनाएं इसलिए भी ज्यादा हैं क्योंकि वह डेथ ओवरों में बल्लेबाजी करने के लिए आते हैं तो ब्रावो भी डेथ ओवरों में अपनी स्लो गेंदों का चमत्कार दिखाने के लिए आ ही जाते हैं। आईपीएल में कई मौकों पर देखा गया है कि कभी धोनी ब्रावो की बखिया उधेड़ देते हैं तो कभी ब्रावो कप्तान कूल को सस्ते में आउट करते हुए अपनी टीम को सौगात देते हैं। लेकिन ये बात भी सही है कि इन दोनों खिलाड़ियों के बीच टक्कर हमेशा दिलचस्प रहती है। ब्रावो ऑफ कटर डालने में उस्ताद है ऐसे में धोनी को आंखे गड़ाकर उन्हें खेलने की जरूरत होगी तभी बात बन पाएगी। ये देखना दिलचस्प होगा कि धोनी किस तरह से ब्रावो की विविधताओं को भांपते हैं।

रविचंद्रन अश्विन बनाम लेंडल सिमंस: ये वही लेंडल सिमंस हैं जो टी20 विश्व कप 2016 के सेमीफाइनल में भारतीय टीम के मुंह से जीत छीन कर ले गए थे। सिमंस को रोकने का जिम्मा इस बार आर. अश्विन के जिम्मे होगा। अश्विन ने हाल ही में संपन्न हुई टेस्ट सीरीज में 17 विकेट झटके हैं और वह अपने प्रदर्शन को अमेरिका में भी जारी रखना चाहेंगे। सिमंस चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए आते हैं ऐसे में शुरुआत से ही उनका सामना अश्विन से हो सकता है। गौरतलब है कि टी20 विश्व कप 2016 सेमीफाइनल में अश्विन की गेंद पर ही सिमंस का कैच पकड़ा गया था लेकिन वह नो बॉल हो गई थी और अंततः सिमंस ने 82* रन ठोकते हुए वेस्टइंडीज को जीत दिलवा दी थी। अश्विन जरूर पुरानी हार का बदला लेने के लिए उतावले होंगे और अपनी विविधतता भरी गेंदों से सिमंस समेत अन्य बल्लेबाजो को परेशान करना चाहेंगे।

क्रिस गेल बनाम जसप्रीत बुमराह: जसप्रीत बुमराह और क्रिस गेल के बीच इसी साल की शुरुआत में वर्ल्ड कप टी20 में वॉर्म अप मैच और सेमीफाइनल मैच में मुकाबला हुआ था और दोनों मौकों पर बुमराह ने गेल को सस्ते में आउट करने में सफलता अर्जित की थी। जाहिर है कि गेल इस बार बुमराह की ट्रिक को भांपते हुए उन्हें करारा जवाब देना चाहेंगे। वहीं, बुमराह एक बार फिर से गेल को सस्ते में आउट करते हुए भारतीय टीम की राह को आसान बनाने का भरसक प्रयास करेंगे। ऐसे में इन दोनों के बीच एक दिलचस्प मुकाबला होने की संभावनाएं हैं।

आंद्रे रसेल बनाम रवींद्र जडेजा: ये दोनों खिलाड़ी ही अपनी- अपनी टीम से बतौर ऑलराउंडर खेलते हैं। लेकिन हाल के सालों में प्रदर्शन की बात करें तो रसेल जडेजा से दो कदम आगे दिखाई देते हैं। जाहिर है कि जडेजा अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए भारतीय टीम को अपना बड़ा योगदान देना चाहेंगे और अपनी गेंदबाजी से रसेल के बड़े स्ट्रोक पर नकेल कसने में पूरा प्रयास करेंगे।

इसमें कोई दो राय नहीं है कि इन दोनों टीमों में टक्कर दिलचस्प होगी। लेकिन भारतीय टीम की ओर से अंतिम 11 खिलाड़ी कौन होंगे इसको लेकर जरूर गहमागहमी देखने को मिलेगी। ओपनिंग में रोहित शर्मा के साथ कौन उतरेगा इसके लिए अजिंक्य रहाणे और शिखर धवन में से किसी एक को चुनना होगा जो कप्तान एमएस धोनी के लिए एक कठिन निर्णय होगा।

दोनों टीमें इस प्रकार हैं:

इंडिया

महेंद्र सिंह धोनी(कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, लोकेश राहुल, रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, अमित मिश्रा, स्टुअर्ट बिन्नी।

वेस्टइंडीज

आंद्रे फ्लेचर, आंद्रे रसेल, कार्लोस ब्रेथवेट(कप्तान), क्रिस गेल, ड्वेन ब्रावो, इविन लुईस, जेसन होल्डर, जॉनसन चार्ल्स, कीरोन पोलार्ड, लेंडल सिमंस, मार्लोन सैमुअल्स, सैमुअल बद्री, सुनील नरेन।