India when set target of 200+ in Tests outside Asia
(Getty Images)

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में बने रहने के लिए भारतीय टीम को साउथम्टन का मुकाबला जीतना बेहद जरूरी है। इस मैच में टीम इंडिया को जीत के लिए 200 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल करना होगा। अब तक ऐसा महज तीन मौकों पर हुआ है जब भारतीय टीम ने एशिया के बाहर 200 रन से ज्यादा का लक्ष्य हासिल किया हो।

अब तक 61 मैच में एशिया के बाहर भारत को 200 से ज्यादा रन का पीछा करना पड़ा है। इसमें भारत ने सिर्फ तीन मैच जीता है, 36 में उसे हार मिली है तो 22 मुकाबले ड्रॉ रहे हैं। भारत ने अब तक एशिया के बाहर सिर्फ तीन बार 200 रन या उससे ज्यादा के लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत हासिल की है। न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया को रन चेज में भारत ने मात दी है।

साल 1968 में न्यूजीलैंड में कमाल

भारतीय टीम ने साल 1968 में सीरीज के पहले टेस्ट में न्यूजीलैंड के खिलाफ चौथी पारी में 5 विकेट पर 200 बनाकर 5 विकेट से जीत दर्ज की थी। इस मैच में अजीत वाडेकर ने 71 रन की मैच विनिंग पारी खेली थी।

वेस्टइंडीज के खिलाफ सबसे बड़ा चेज

साल 1976 में चौथी पारी में भारतीय टीम ने सुनील गावस्कर और गुंडप्पा विश्वनाथ की शतकीय पारी की बदौलत 406 रन की स्कोर बनाकर मुकाबला जीता था।

ऑस्ट्रेलिया को दी 4 विकेट से मात

साल 2003 में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के मिले लक्ष्य का पीछा करते हुए 6 विकेट पर 233 रन बनाए थे। राहुल द्रविड़ ने नाबाद 72 रन की पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई थी। वीरेंद्र सहवाग ने इस मैच में 81 गेंद पर 47 रन बनाए थे।