Indian Captain Virat Kohli’s Countless achievements in International cricket
Virat Kohli © AFP

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अनगिनत उपलब्धियां हासिल की हैं। टेस्ट और वनडे क्रिकेट के नंबर एक बल्लेबाज कोहली दोनों फॉर्मेट में 50 से ज्यादा का औसत रखते हैं। पद्मश्री से सम्मानित इस भारतीय क्रिकेटर को आज राजीव गांधी खेल रत्न के लिए नामांकित किया गया है। अगर कोहली को ये खिताब मिलता है तो वो सचिन तेंदुलकर (1997) और महेंद्र सिंह धोनी (2007) के बाद इस उपलब्धि को पाने वाले तीसरे क्रिकेटर होंगे।

कोहली ने अपने करियर की शुरुआत कई बड़े खिताबों को जीतकर की थी। साल 2008 में युवा कोहली की कप्तानी में भारतीय अंडर-19 टीम में विश्व कप जीता था। यहां से शुरू हुआ कोहली का सफर कभी नहीं रुका। 2008 में ही कोहली ने पहली बार भारतीय जर्सी पहनी। तब से आजतक कुल 211 वनडे मैच खेल चुके कोहली 9,779 रन बना चुके हैं। कोहली भारत के लिए 10,000 रन पूरे करने के बेहद करीब हैं।

इतना ही नहीं 35 शतक लगा चुके कोहली वनडे में सर्वाधिक शतक के मामले में केवल सचिन तेंदुलकर (49) से पीछे हैं। कोहली वनडे में सबसे तेज 9,000 रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं और उनके पास सचिन तेंदुलकर (259 पारियां) के सबसे 10,000 रन पूरे करने के रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका है।

टेस्ट क्रिकेट में कोहली के नाम कई कीर्तिमान हैं। 71 मैचों में 6,147 रन बना चुके कोहली के नाम 6 दोहरे शतक बनाने का कीर्तिमान है। कोहली का 53.92 का टेस्ट औसत शानदार है। साल 2012 और 2017 में आईसीसी क्रिकेटर ऑफ द ईयर का खिताब पा चुके कोहली के नाम टेस्ट में सबसे तेज 6,000 रन बनाने का रिकॉर्ड है। कोहली ने दिग्गज वेस्टइंडीज विवियन रिचर्ड्स को पीछे छोड़कर ये कीर्तमान हासिल किया।

कोहली ने ये सारे कीर्तिमान केवल 29 साल की उम्र में हासिल किए हैं जो कि अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है। कोहली के सामने अभी और लंबे समय तक क्रिकेट खेलने का मौका है। इस दौरान कोहली क्रिकेट इतिहास के कई बड़े कीर्तिमान अपने नाम कर सकते हैं।