Inzamam ul haq received 6 Crore (pakistan rupees) in three Years as the chief selector of pakistan team
Inzamam-ul-Haq @AFP

इंजमाम-उल-हक को पाकिस्तान क्रिकेट का राष्ट्रीय चयनकर्ता रहने के दौरान कुल मिलाकर लगभग छह करोड़ रुपये (पाकिस्तानी मुद्रा) मिले। उनके कार्यकाल में पाकिस्तान की टीम टेस्ट में नंबर वन से खिसककर 7वें स्थान पर पहुंच गई।

पढ़ें: बांग्‍लादेश के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए श्रीलंका ने 22 सदस्‍यीय टीम चुनी

हर महीने मिलते थे 12 लाख रुपये

हालांकि, चैंपियन्स ट्रॉफी की जीत और टी-20 टीम का शीर्ष पर पहुंचना भी उनके कार्यकाल में हुआ। ‘एक्सप्रेस न्यूज’ की रिपोर्ट के मुताबिक, इंजमाम ने अप्रैल 2016 में मुख्य चयनकर्ता का पद संभाला। विश्व कप 2019 के मद्देनजर उनके करार को तीन महीने बढ़ाया गया। उन्हें हर महीने 12 लाख रुपये का वेतन और अन्य भत्ते मिले।

चैंपियन्‍स ट्रॉफी जीतने पर मिले 1 करोड़ रुपये

करार के मुताबिक, इंजमाम को टीम के किसी सीरीज को जीतने पर उन्हें मिलने वाले मेहनताने का 25 फीसदी और आईसीसी इवेंट में टीम की खिताबी फतह पर मेहनताने का सौ फीसदी मिलता था। चैंपियन्स ट्रॉफी जीतने पर उन्हें भी सरकार से एक करोड़ रुपये मिले थे। इस तरह कुल मिलाकर उन्हें तीन साल में लगभग छह करोड़ रुपये मिले।

पढ़ें: जिम्बाब्वे के खिलाफ सीरीज पर फैसले के लिए अक्टूबर तक इंतजार करेगा BCCI

इंजमाम के कार्यकाल में पाक को 10 में जीत जबकि 17 टेस्‍ट में हार मिली

रिपोर्ट के मुताबिक, इंजमाम जब मुख्य चयनकर्ता बने, उस वक्त पाकिस्तान की क्रिकेट टीम नंबर वन थी। लेकिन, लगातार हार के कारण टीम टेस्ट रैंकिंग में फिसलकर 7वें स्थान तक जा पहुंची। इनके कार्यकाल के दौरान टीम ने 28 टेस्ट मैच खेले जिसमें से 10 में उसे जीत और 17 में हार मिली। एक टेस्ट ड्रॉ रहा।