स्टीवन स्मिथ और गौतम गंभीर © AFP
स्टीवन स्मिथ और गौतम गंभीर © AFP

आईपीएल 10 में आज एक तरफ होगी राइजिंग पुणे सुपरजायंट जिसने अपने पिछले तीनों मुकाबले जीते हैं और एक तरफ होगी कोलकाता नाइट राइडर्स जिसके गेंदबाजों ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर जैसी मजबूत टीम को सिर्फ 49 रनों पर ढेर कर दिया था। पुणे के एमसीए स्टेडियम में रात 8 बजे से खेले जाने वाले मुकाबले में कड़ी टक्कर देखने को मिल सकती है क्योंकि दोनों ही टीमों ने पिछले कुछ मैचों से बेहतरीन प्रदर्शन किया है। एम एस धोनी के फॉर्म में लौटने से पुणे को खासा सुकून पहुंचा है वहीं कोलकाता ने भी अबतक आक्रामक क्रिकेट खेली है। इन दोनों टीमों की टक्कर में जीत किसकी होगी ये तो मैच के बाद ही पता चलेगा लेकिन कुछ ऐसे आंकड़े हैं जो इशारा करते हैं कि इस मुकाबले में जीत कोलकाता की होगी।

कोलकाता के आगे पुणे फेल: आईपीएल 10 में कोलकाता नाइट राइडर्स और पुणे सुपरजायंट की पहली बार टक्कर होगी, लेकिन पिछले सीजन में इन दोनों टीमों का दो बार आमना-सामना हुआ था। जिसमें दोनों ही बार कोलकाता नाइट राइडर्स को जीत मिली थी। साल 2016 में इन दोनों टीमों के बीच पहला मैच एमसीए स्टेडियम में ही खेला गया था जिसमें पुणे की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 160 रन बनाए थे। इस लक्ष्य को कोलकाता की टीम ने 3 गेंद रहते 2 विकेट से जीत लिया था। दूसरे मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स ने डकवर्थ लुईस नियम के आधार पर 8 विकेट से जीत हासिल की थी। [ये भी पढ़ें: पुणे के विजयरथ को रोकने उतरेगी कोलकाता नाइट राइडर्स]

सुनील नरेन के आगे धोनी कमजोर: पुणे सुपरजायंट के विकेटकीपर एम एस धोनी भले ही रंग में आ गए हों लेकिन ये भी एक सच है कि उनका बल्ला कोलकाता के स्पिनर सुनील नरेन की गेंदों के आगे खामोश सा रहता है। एम एस धोनी का सुनील नरेन के खिलाफ सिर्फ 50 का स्ट्राइक रेट है। धोनी ने अबतक आईपीएल में सुनील नरेन की 54 गेंदों का सामना किया है जिसमें उन्होंने अबतक सिर्फ 27 रन बनाए हैं। वैसे पुणे के लिए खेलते हुए धोनी अबतक कोलकाता के खिलाफ आउट नहीं हुए हैं। धोनी ने कोलकाता के खिलाफ दो मैचों में कुल 31 रन बनाए हैं।

बीच के ओवरों में कोलकाता की जबर्दस्त गेंदबाजी: कोलकाता नाइट राइडर्स के गेंदबाज मौजूदा सीजन में शानदार फॉर्म में हैं। बीच के ओवर यानि 7वें ओवर से 15वें ओवर के बीच में कोलकाता के गेंदबाज सबसे ज्यादा विकेट झटक चुके हैं। कोलकाता ने 7वें से 15वें ओवर के बीच कुल 28 विकेट झटके हैं। अकेले क्रिस वोक्स ने सबसे ज्यादा 6 विकेट हासिल किए हैं। यही नहीं कोलकाता के तेज गेंदबाजों ने अबतक 19.82 के औसत से कुल 34 विकेट झटके हैं जबकि राइजिंग पुणे सुपरजायंट के तेज गेंदबाज 32.54 के महंगे औसत से 24 विकेट ही झटक सके हैं। ऐसे में साफ है कोलकाता की गेंदबाजी पुणे पर खासा भारी है और एमएसीए मैदान पर ये जीत दिलाने में अहम रोल अदा कर सकती है।