IPL 2019, DC vs KXIP: Talking points from Delhi vs Punjab match

किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच में दिल्ली कैपिटल्स ने टीम आखिरकार फिरोज शाह कोटला की मुश्किल हल कर ली और घरेलू मैदान पर दूसरी जीत दर्ज की। शनिवार रात खेले गए इस मैच में श्रेयस अय्यर की अगुवाई में दिल्ली ने पांच विकेट से मैच जीता और अंकतालिका में तीसरे नंबर पर कब्जा किया। आखिरी ओवर तक चले इस रोमांचक मैच में कप्तान अय्यर ने दिल्ली को सीमा रेखा पार कराई।

संदीप लामिछाने-अक्षर पटेल की शानदार गेंदबाजी:

पंजाब के खिलाफ मैच से पहले दिल्ली की प्लेइंग इलेवन में संदीप लामिछाने की वापसी हुई और नेपाल के इस लेग स्पिनर ने कप्तान के फैसले को सही साबित किया। लामिछाने ने कोटला की धीमी पिच का फायदा उठाया और पंजाब के दोनों सलामी बल्लेबाजों को चला किया। लामिछाने ने 4 ओवर के स्पेल में 40 रन देकर केएल राहुल और क्रिस गेल समेत तीन विकेट झटके।

लामिछाने के अलावा एक और स्पिन गेंदबाज ने कल के मैच में अच्छी गेंदबाजी की और वो हैं अक्षर पटेल। पटेल बीच के ओवरों में अटैक में आए और साझेदारियां तोड़ने का काम किया। पटेल ने 3 ओवर में 22 रन देकर दो विकेट लिए। पहले पटेल ने डेविड मिलर को सस्ते में आउट किया और फिर मनदीप सिंह को आउट कर अश्विन के साथ बन रही साझेदारी को तोड़ा। तेज गेंदबाज कगीसो रबाडा ने भी 4 ओवर में 23 रन देकर दो अहम विकेट लिए।

ये भी पढ़ें: पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन पर लगा जुर्माना

शिखर धवन का अर्धशतक:

पंजाब के दिए 164 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली टीम को सीनियर खिलाड़ी शिखर धवन ने शानदार शुरुआत दिलाई। धवन ने पृथ्वी शॉ के साथ पहले विकेट के लिए 24 रन जोड़े और शॉ के चौथे ओवर में आउट होने के बाद एक छोर से पारी संभाले रहे। धवन ने 41 गेंदो पर सात चौकों और एक छक्के की मदद से 56 रनों की शानदार पारी खेली। कप्तान अय्यर के साथ उनकी 92 रनों की साझेदारी ने दिल्ली की जीत की नींव रखी।

ये भी पढ़ें: पंजाब को हरा तीसरे नंबर पर पहुंची दिल्ली, गेल ने दी वार्नर को चुनौती

श्रेयस अय्यर की कप्तानी पारी:

दूसरे विकेट के लिए धवन के साथ अय्यर की बनाई अर्धशतकीय साझेदारी से दिल्ली टीम जीत के करीब पहुंच गई लेकिन 15 ओवर के बाद पंजाब के गेंदबाजी ने खेल में वापसी की। रिषभ पंत एक बार फिर खराब शॉट खेलकर आउट हुए और कॉलिन इंग्राम भी मैच खत्म नहीं कर सके। एक छोर से लगातार विकेट गिरने के बावजूद अय्यर ने पारी को संभाले रखा। उन्होंने कप्तानी पारी खेलते हुए टीम का आगे से नेतृत्व किया। अय्यर ने 49 गेंदो पर पांच चौकों और एक छक्के की मदद से 58 रनों की नाबाद पारी खेली और टीम को जीत दिलाकर ही मैदान से लौटे।