IPL 2019, Delhi Capitals vs  Kolkata Knight Riders: What to expect from the clash

दिल्ली के फिरोज शाह कोटला स्टेडियम में आज दिल्ली कैपिटल्स का मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स से होगा। टूर्नामेंट लगातार दो मैच जीत चुकी केकेआर की नजर जीत की हैट्रिक लगाने पर होगी। वहीं दिल्ली के खिलाफ कोलकाता का रिकॉर्ड भी कुछ यही कहता है। केकआर ने दिल्ली के खिलाफ खेले 21 मैचों में 13 में जीत दर्ज की है। ऐसे में श्रेयस अय्यर के लिए अपना किला बचाना मुश्किल काम होगा।

ये भी पढ़ें: संजू सैमसन ने जड़ा सीजन का पहला शतक, वार्नर ने खेली मैचविनिंग पारी

दिल्ली कैपिटल्स ने अपना पिछला मैच चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ कोटला के मैदान पर ही हारा था, इसलिए ये कहना कि घरेलू मैदान पर दिल्ली अजेय है, गलत होगा। कोटला की पिच बल्लेबाजों की पसंदीदा पिचों में से नहीं है। यहां पर 150-170 तक का स्कोर जीत के लिए पर्याप्त होगा। वहीं स्पिन गेंदबाज बड़ी भूमिका निभाएंगे।

स्पिनर होंगे जीत के फैक्टर

दिल्ली के लिए आज के मैच में अमित मिश्रा अहम खिलाड़ी साबित होंगे। मिश्रा ने पिछले मैच में सीएसक के खिलाफ 4 ओवर में 35 रन देकर 2 विकेट झटके थे। आज के मैच में उनसे इसी तरह के प्रदर्शन की उम्मीद होगी। वहीं संदीप लामिचाने के प्रदर्शन पर भी काफी कुछ निर्भर करेगा। केकेआर के लिए यही काम कुलदीप यादव और सुनील नरेन कर सकते हैं। दोनों ही गेंदबाज पिछले मैच में खाता नहीं खोल पाए थे लेकिन वो ईडन गार्डन की घास वाली पिच थी, कोटला में स्पिनर्स को ज्यादा मदद मिलने की उम्मीद है।

आंद्रे रसेल:

कोलकाता नाइट राइडर्स के इस ऑलराउंडर खिलाड़ी ने पिछले मैच में 17 गेंदों पर 48 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली थी। 200 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए रसेल ने 5 गगनचुंबी छक्के जड़े थे। आज के मैच में अगर रसेल का बल्ला बोलता है तो दिल्ली के गेंदबाजों की खैर नहीं रहेगी।

ये भी पढ़ें: विवादों से घिरी मुंबई-पंजाब के मैच में अहम साबित होंगे ये खिलाड़ी

रिषभ पंत:

कोलकाता टीम के पास जहां रसेल के अलावा भी कई इन-फॉर्म बल्लेबाज हैं, वहीं दिल्ली का बल्लेबाजी क्रम काफी हद तक रिषभ पंत पर निर्भर है। सीएसके के खिलाफ पिछले मैच में पंत केवल 25 रन बनाकर आउट हुए थे, जिसके बाद टीम बड़े स्कोर तक नहीं पहुंच पाई थी। आज अगर दिल्ली को जीत हासिल करनी है तो पंत के बल्ले का चलना जरूरी है। वहीं संजू सैमसन और अजिंक्य रहाणे के शानदार फॉर्म के सामने पंत अगर विश्व कप के लिए नंबर चार के बल्लेबाज बनना चाहते हैं तो उन्हें जल्द बड़ी पारी खेलनी होगी।