IPL 2019, KKR vs MI: Andre Russell, Hardik Pandya’s six hitting contest at Eden and other talking point of Kolkata vs Mumbai, 47th Match

ईडन गार्डन्स में रविवार शाम मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग के 47वें मैच में कुल 430 रन बने। कोलकाता की ओर से जहां आंद्रे रसेल, क्रिस लिन और शुभमन गिल ने शानदार अर्धशतक जड़े, वहीं मुंबई की ओर से हार्दिक पांड्या अकेले ही संघर्ष करते रहे। इस मुकाबले में कोलकाता की जीत और मुंबई की हार के अहम कारण ये रहे-

कोलकाता को मिली सेट सलामी जोड़ी:

12वें सीजन की शुरुआत से ही सुनील नरेन को बतौर सलामी बल्लेबाज खिलाने का कोलकाता टीम का दांव असफल हो रहा था लेकिन बावजूद इसके कप्तान दिनेश कार्तिक इसे बदलने को तैयार नहीं थे। टीम में शुभमन गिल जैसे शानदार शीर्ष क्रम बल्लेबाज के रहते हुए भी क्रिस लिन के साथ नरेन ही पारी की शुरुआत कर रहे थे। नरेन के चोटिल होने पर गिल को एक मैच में सलामी बल्लेबाजी करने का मौका जहां उन्होंने अर्धशतक जड़ा लेकिन नरेन की वापसी के बाद गिल एक बार फिर निचले क्रम में आ गए। लगातार हार या कड़ी आलोचना, कारण जो भी हो कप्तान कार्तिक ने आखिरकार गिल को बल्लेबाजी क्रम में उनकी सही जगह दी। मुंबई के खिलाफ मैच में गिल ने लिन के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 96 रनों की धमाकेदार साझेदारी बनाई। लिन ने 29 गेंदो पर 54 रन जड़े और गिल ने 45 गेंदो पर 76 रन बनाए।

तीसरे नंबर पर आए आंद्रे रसेल:

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ मैच में 10 रनों से हारने के बाद आंद्रे रसेल ने बयान दिया था कि वो शीर्ष क्रम में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हैं। जब रसेल इतने शानदार फॉर्म में हैं तो उन्हें छह या सात नंबर पर खिलाकर कोलकाता टीम अपना नुकसान ही कर रही थी। मुंबई के खिलाफ मैच में जब 96 के स्कोर पर टीम का पहला विकेट गिरा तो कार्तिक ने रसेल को बल्लेबाजी करने के लिए भेजा जो कि सही फैसला साबित हुआ। रसेल ने लिन और गिल के बनाए रन रेट को बरकरार रखा। 200 की स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए रसेल ने 40 गेंदो पर 6 चौकों और 8 छक्कों की मदद से 80 रन जड़े और कोलकाता को 232 के स्कोर तक पहुंचाया।

ये भी पढ़ें: कोलकाता के खिलाफ हार के बाद रोहित ने कहा- सही शुरुआत नहीं मिली

मुंबई के लिए हार्दिक पांड्या का सबसे तेज अर्धशतक:

233 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई इंडियंस टीम के लिए कुछ भी नहीं हुआ सिवाय हार्दिक पांड्या की धमाकेदार पारी के। शीर्ष क्रम के ढेर होने के बाद पांड्या ने अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी ईडन गार्डन्स में मौजूद दर्शकों का खूब मनोरंजन किया, साथ ही मुंबई को जीत के काफी करीब ले गए। हार्दिक ने 267.65 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए 34 गेंदो पर 91 रनों की पारी खेली, इस दौरान उन्होंने 6 चौके और 9 छक्के जड़े। इस पारी के दौरान हार्दिक ने मात्र 17 गेंदो पर 50 रन बनाए और मुंबई के लिए सबसे तेज अर्धशतक जड़ने के मामले में कीरोन पोलार्ड और ईशान किशन की बराबरी कर ली।

ये भी पढ़ें: रसेल ने कोलकाता को दिया मौका, मुंबई को नहीं मिली सही शुरुआत

गेंदबाज आंद्रे रसेल की वापसी:

आईपीएल के 12वें सीजन में रसेल ने अपने बल्ले से काफी धमाल मचाया लेकिन इस ऑलराउंडर खिलाड़ी की गेंदबाजी कुछ खास नहीं रही थी। लेकिन मुंबई के खिलाफ मैच में बल्लेबाज रसेल के साथ साथ गेंदबाज रसेल भी दिखाए दिए। रसेल ने अपने 4 ओवर के स्पेल में 25 रन देकर इविन लुईस और सूर्यकुमार यादव के विकेट लिए। 6.25 की इकोनॉमी रेट के साथ रसेल इस मैच में सबसे किफायती गेंदबाज बने। प्लेऑफ के करीब पहुंच रही कोलकाता टीम के लिए रसेल का ये स्पेल बेहद सकारात्मक है।