IPL 2019, Mumbai vs Rajasthan: Things to watch out for in 27th match

इंडियन प्रीमियर लीग का 27वां मैच आज मुंबई और राजस्थान के बीच मशहूर वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा। चेन्नई के खिलाफ पिछला मैच हार चुकी राजस्थान के पास आज वापसी का मौका है, वहीं मुंबई घरेलू मैदान पर जीत का सिलसिला बरकरार रखा चाहेगी।

आईपीएल टूर्नामेंट में राजस्थान के खिलाफ मुंबई का रिकॉर्ड शानदार है। मुंबई-राजस्थान के बीच खेले गए कुल 18 मैचों में से 10 मुंबई टीम ने जीते हैं और 8 मैच राजस्थान के पक्ष में गए। वहीं घरेलू मैदान वानखड़े पर मुंबई टीम अजेय है।

रोहित शर्मा:

आज के मुकाबले में मुंबई टीम में कप्तान रोहित शर्मा की वापसी होगी और नतीजतन सिद्धेश लाड को बाहर बैठना पड़ेगा। मुंबई की प्लेइंग इलेवन में और किसी बदलाव की उम्मीद नहीं है। चोट की वजह से पंजाब के खिलाफ मैच में नहीं खेले रोहित शर्मा लीग में अब तक लय में नहीं दिखे हैं।

पिछले सीजन में मध्यक्रम में खेलने के बाद अब रोहित ने अपनी स्वाभाविक जगह, बतौर सलामी बल्लेबाज खेल रहे हैं। लगभग आधा टूर्नामेंट निकल चुका है लेकिन रोहित के बल्ले से एक भी बड़ी पारी नहीं आई। आज के मैच में घरेलू मैदान पर रोहित पर फैंस के साथ साथ भारतीय चयनकर्ताओं की भी नजर होगी।

जोस बटलर-जसप्रीत बुमराह:

राजस्थान का बल्लेबाजी क्रम इस इंग्लिश खिलाड़ी पर काफी निर्भर है। टीम पिछले दो मैचों में कोलकाता और चेन्नई के खिलाफ हारी है और दोनों ही मैचों में बटलर जल्दी आउट हुए थे। आज के मैच में मुंबई के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का लक्ष्य बटलर को जल्द से जल्द पवेलियन भेजने का होगा। बुमराह अगर ऐसा करने में सफल हो जाते हैं तो मुंबई की जीत की संभावना बढ़ जाएगी, वहीं अगर बटलर बड़ी पारी खेल जाते हैं तो मुंबई की मुश्किलें बढ़ जाएंगी।

कीरोन पोलार्ड के बल्लेबाजी क्रम में बदलाव:

रोहित शर्मा की गैर मौजूदगी में कीरोन पोलार्ड ने पंजाब के खिलाफ मैच में ना केवल अच्छी कप्तानी की बल्कि 83 रनों की शाानदार पारी खेलकर मुंबई को जीत दिलाई। राजस्थान के खिलाफ मैच में भी पोलार्ड से बड़ी पारी की उम्मीद रहेगी। अच्छे फॉर्म में चल रहे पोलार्ड को अगर बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा जाता है तो मुंबई को और बेहतर नतीजे मिलने की संभावना है।

श्रेयस गोपाल:

12वें सीजन में राजस्थान के सबसे सफल गेंदबाज श्रेयस गोपाल आज बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। वानखेड़े की पिच बल्लेबाजों की मददगार है लेकिन स्पिन गेंदबाजों को भी यहां अच्छी खासी मदद मिलती है। ऐसे में गोपाल राजस्थान के लिए बड़े मैच विनर के तौर पर उभर सकते हैं।