IPL 2019 (Preview): Rajasthan Royals eyeing title after return of Steven Smith

राजस्‍थान रॉयल्‍स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) खिताब जीतने वाली पहली टीम है। इस टीम ने पहली बार वर्ष 2008 में आयोजित इस टी-20 टूर्नामेंट को अपने नाम किया था। चैंपियन बनने के बाद से रॉयल्‍स को कई बार उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ा है जिसमें दो साल का निलंबन भी शामिल है।

पढ़ें: गौतम गंभीर ने कोहली की कप्तानी पर उठाए सवाल, गांगुली ने दिया जवाब

ऑस्‍ट्रेलियाई लीजैंड शेन वॉर्न की अगुवाई में आईपीएल का उद्घाटन टूर्नामेंट जीतने के बाद से रॉयल्‍स टीम कभी भी फिर फाइनल में नहीं पहुंच सकी है। पिछले सीजन (2018) में राजस्‍थान ने प्‍लेऑफ के लिए जरूर क्‍वालीफाई किया था लेकिन फाइनल में पहुंचने में टीम असफल रही थी।

आगामी सीजन (2019) में अजिंक्‍य रहाणे की अगुवाई वाली टीम पिछले सीजन से बेहतर प्रदर्शन की कोशिश करेगी। 23 मार्च, 2019 से शुरू हो रहे आईपीएल के 12वें एडिशन में राजस्‍थान टीम अपने अभियान की शुरुआत 25 मार्च को किंग्‍स इलेवन पंजाब के खिलाफ अपने घर जयपुर से करेगी।

कप्‍तान: अजिंक्‍य रहाणे

ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाज स्‍टीवन स्मिथ की मौजूदगी में अजिंक्‍य रहाणे राजस्‍थान रॉयल्‍स की अगुवाई करेंगे। हालांकि रहाणे टीम इंडिया के लिए लिमिटेड ओवर के क्रिकेट में अपनी छाप छोड़ने में अब तक असफल रहे हैं।

रहाणे ने आईपीएल में अब तक 126 मैचों में 120.33 के स्‍ट्राइक रेट से कुल 3, 427 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक और 26 अर्धशतक शामिल हैं। इस दौरान उनका सर्वोच्‍च निजी स्‍कोर नाबाद 103 रन रहा है। टूर्नामेंट के इतिहास में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्‍लेबाजों की सूची में वो 11वें स्‍थान पर हैं।

पढ़ें: पहली बार खिताब जिताने के लिए दिल्‍ली को इन खिलाड़ियों से है आस

दाएं हाथ के अनुभवी बल्‍लेबाज रहाणे आईपीएल में शानदार प्रदर्शन कर वर्ल्‍ड कप टीम में अपनी दावेदारी पेश करने की कोशिश करेंगे।

कोच: पैडी उप्‍टन

आईपीएल के 12वें सीजन में पैडी उप्‍टन फिर से राजस्‍थान रॉयल्‍स के कोच होंगे। उप्‍टन 2013 से 2015 तक राजस्‍थान रॉयल्‍स टीम के कोच रह चुके हैं। उनकी देखरेख में राजस्‍थान रॉयलस ने 2013 में चैंपियंस लीग के फाइनल में जगह बनाई थी। उप्‍टन के मार्गदर्शन में राजस्‍थान ने अपने घर में लगातार 13 मैच जीते हैं।

देखना दिलचस्‍प होगा कि दक्षिण अफ्रीका के उप्‍टन आईपीएल के अगामी सीजन में राजस्‍थान रॉयल्‍स को कहां तक पहुंचाते हैं। उप्‍टन 2011 में विश्‍व कप जीतने वाली भारतीय टीम के हिस्‍सा थे।

स्‍क्‍वॉड

अजिंक्‍य रहाणे, कृष्‍णाप्‍पा गौतम, संजू सैमसन, मनन वोहरा, श्रेयस गोपाल, आर्यमन बिरला, सुदेशन मिधुन, प्रशांत चोपड़ा, स्‍टुअर्ट बिन्‍नी, राहुल त्रिपाठी, बेन स्‍टोक्‍स, स्‍टीव स्मिथ, जोस बटलर, एश्‍टन टर्नर, लियाम लिविंगस्‍टोन, जोफ्रा आर्चर, जयदेव उनादकट, वरुण एरोन, ओशाने थॉमस, ईश सोढ़ी, धवल कुलकर्णी, महिपाल लोमरोर, शशांक सिंह, रियान पराग, शुभमन रंजने।

ऐसा रहा आईपीएल का सफर

वर्ष 2008 में राजस्‍थान रॉयल्‍स टीम आईपीएल चैंपियन बनी। इसके बाद 2009 में टीम छठे जबकि 2010 में सातवें स्‍थान पर रही। 2011 में रॉयल्‍स छठे वहीं 2012 में सातवें स्‍थान पर फिनिश की। राजस्‍थान टीम इसके बाद जबरदस्‍त वापसी करते हुए 2013 में तीसरे वहीं 2014 में पांचवें और 2015 में चौथे स्‍थान पर रही। 2016 और 2017 में रॉयल्‍स टीम आईपीएल में निलंबन की वजह से नहीं खेल सकी।

पिछले साल का प्रदर्शन

राजस्‍थान रॉयल्‍स ने पिछले सीजन में धीमी शुरुआत की थी। टीम ने शुरुआत में कई मैच गंवाए लेकिन बाद में रॉयल्‍स जीत की पटरी पर लौटते हुए कई मैच अपने नाम किए। यहां तक की रॉयल्‍स ने अपने आखिरी लीग मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) को हराकर प्‍लेऑफ के लिए क्‍वालीफाई किया।

पढ़ें: एक्शन बदलने के बाद भी सुनील नरेन की गेंदबाजी टॉप पर बरकरार

इंग्‍लैंड के विकेटकीपर बल्‍लेबाज जोस बटलर ने शानदार प्रदर्शन किया था। बटर ने पिछले वर्ष कुल 548 रन बटोरे थे। टूर्नामेंट के फाइनल स्‍टेज में टीम को उनकी कमी काफी खली। बेन स्‍टोक्‍स जैसे ऑलराउंडर की मौजूदगी से टीम काफी संतुलित नजर आ रही है। हालांकि पिछले सीजन स्‍टोक्‍स का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा था।

नए खिलाड़ी

राजस्‍थान रॉयल्‍स ने 2019 की नीलामी में कुल 9 खिलाडि़यों को अपने साथ जोड़ा है जिसमें जयदेव उनादकट भी शामिल हैं। उनादकट को राजस्‍थान ने 8.4 करोड़ रुपये में खरीदा है।

टीम की गेंदबाजी बेहद मजबूत है। रॉयल्‍स टीम में वेस्‍टइंडीज के पेसर ओशाने थॉमस भी शामिल हैं जिन्‍होंने हाल में भारत के खिलाफ उसके घर में अपनी बेहतरीन गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया था। एश्‍टन टर्नर ने पिछले दिनों मोहाली में धमाकेदार पारी खेल ऑस्‍ट्रेलिया को वनडे सीरीज में बराबरी दिलाई थी।

अहम खिलाड़ी

    • Jofra-Archer @ AFP

जोफ्रा आर्चर ने हाल में ऑस्‍ट्रेलिया की बिग बैश लीग (बीबीएल) टी-20 टूर्नामेंट में 12 मैचों में 14 विकेट अपने नाम किए थे जिसमें होबार्ट हरिकेंस के लिए हैट्रिक भी शामिल है। ये बेहद प्रतिभावान पेसर राजस्‍थान रॉयल्‍स के लिए अहम खिलाड़ी साबित हो सकता है।

पिछले सीजन में आर्चर ने 10 मैचों में 15 खिलाडि़यों को पवेलियन की राह दिखाई थी। ऑस्‍ट्रेलियाई ऑलराउंडर एश्‍टन टर्नर से राजस्‍थान को काफी उम्‍मीदें होंगी जिन्‍होंने मोहाली वनडे में भारतीय गेंदबाजी अटैक को तहस-नहस कर दिया था।

विस्‍फोटक बल्‍लेबाज के रूप में अपनी पहचान बना चुके टर्नर ने इससे पहले बिग बैश लीग में भी कमाल का प्रदर्शन किया था। वो आईपीएल में बेहतरीन फॉर्म को जारी रखना चाहेंगे।

इस बार कुछ ऐसा रह सकता है प्रदर्शन

टूर्नामेंट के आखिर में इस टीम को अहम खिलाडि़यों का साथ नहीं मिलता है जिसकी वजह से टीम आखिर में लड़खड़ाने लगती है। बड़े खिलाडि़यों के बगैर टीम प्‍लेऑफ में दम तोड़ती हुई नजर आती है। ऐसे में इस बार यदि भारतीय खिलाड़ी चल निकले तो उसका टॉप फोर में फिनिश करना तय है।