IPL 2019, RR VS DC: Ajinkya Rahane’s ton, Rishabh Pant’s match winning knock and other talking points

इंडियन प्रीमियर लीग के 40वें मैच में कुछ ऐसा हुआ जो इस टूर्नामेंट के पिछले सात सात के इतिहास में नहीं हुआ था। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ उसके घरेलू मैदान में 6 विकेट से जीत हासिल कर दिल्ली कैपिटल्स टीम ने अंकतालिका में पहले नंबर पर कब्जा कर लिया है। दिल्ली की इस जीत के नायक रहे बल्लेबाज रिषभ पंत और तेज गेंदबाज कगीसो रबाडा। इन दोनों युवा खिलाड़ियों के अलावा राजस्थान-दिल्ली मुकाबले में और भी कई शानदार प्रदर्शन देखने को मिले।

अजिंक्य रहाणे का दूसरा आईपीएल शतक:

राजस्थान रॉयल्स के पूर्व कप्तान और शीर्ष क्रम बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे की शतकीय पारी उनकी टीम के लिए सबसे सकारात्मक चीज रही। रहाणे जिन्हें हाल ही में कप्तान पद से हटाया गया था, ने टूर्नामेंट में सात साल बाद शतकीय पारी खेली। संजू सैमसन के साथ पारी की शुरुआत करने आए रहाणे ने 63 गेंदो पर 105 रनों की नाबाद पारी खेली। दूसरे ओवर में सैमसन के शून्य पर आउट होने के बाद रहाणे ने कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 130 रनों की शानदार साझेदारी बनाई।

खली जोस बटलर की कमी:

दिल्ली के खिलाफ मैच में राजस्थान अपने प्रमुख बल्लेबाज जोस बटलर के बिना खेल रही थी, जिसका असर बल्लेबाजी क्रम में साफ नजर आया। 14वें ओवर में स्मिथ के अर्धशतक बनाकर आउट होने के बाद रहाणे को दूसरे छोर पर किसी बल्लेबाज का साथ नहीं मिला। हालांकि रहाणे आखिरी गेंद पर नाबाद रहे और राजस्थान को 191/6 के स्कोर तक पहुंचाया लेकिन अगर रहाणे को मध्य क्रम बल्लेबाजों का साथ मिलता तो राजस्थान टीम 200 का आंकड़ा आसानी से पार कर सकती थी। अगर दिल्ली के सामने 230-250 का लक्ष्य होता तो राजस्थान की जीत की संभावना बढ़ जाती।

ये भी पढ़ें: राजस्थान को हरा पहले नंबर पर पहुंची दिल्ली, रबाडा-वार्नर शीर्ष पर

कगीसो रबाडा:

दिल्ली के तेज गेंदबाज कगीसो रबाडा से ज्यादा कंसिसटेंट प्रदर्शन टीम का कोई और खिलाड़ी नहीं कर रहा है। टूर्नामेंट की शुरुआत से पर्पल कैप पर कब्जा जमाकर बैठे रबाडा ने राजस्थान के खिलाफ मैच में एक शानदार स्पेल डाला। उन्होंने 4 ओवर में 37 रन देकर दो विकेट लिए। साथ ही सैमसन को शून्य पर रन आउट करने में भी रबाडा की ही हाथ था।

शिखर धवन-पृथ्वी शॉ की साझेदारी:

लगभग 200 के लक्ष्य का पीछा करते हुए किसी भी टीम को एक मजबूत शुरुआत की जरूरत होती है और राजस्थान के खिलाफ दिल्ली के लिए ये काम शिखर धवन और पृथ्वी शॉ। धवन पिछले कुछ मैच में लगातार रन बना रहे हैं लेकिन शॉ कोलकाता के 99 रनों की पारी खेलने के बाद से कुछ खास नहीं कर पाए थे। हालांकि बल्लेबाजों के लिए बेहतरीन, सवाई मानसिंह की पिच पर शॉ ने धवन के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 72 रन जोड़े। धवन एक और शानदार अर्धशतक जड़ा, वहीं शॉ ने 39 गेंदो पर 42 रन बनाए। नौवें ओवर में आउट होकर शॉ अर्धशतक से चूक गए लेकिन इस साझेदारी ने दिल्ली की जीत की नींव रखी।

ये भी पढ़ें: कोच पोंटिंग ने कहा, जिस बल्लेबाज को अच्छी शुरुआत मिले वो आखिर तक खेले: श्रेयस अय्यर

रिषभ पंत ने धमाकेदार पारी:

मुंबई इंडियंस के खिलाफ पहले मैच में नाबाद अर्धशतक जड़ने के बाद से रिषभ पंत ना कोई बड़ी पारी खेल पा रहे थे और ना ही फिनिशर की भूमिका अदा कर रहे थे, जिसकी उनसे उम्मीद की जा रही है। लगातार कम स्कोर पर आउट होने से पंत को काफी आलोचना झेलनी पड़ रही थी और फिर विश्व कप स्क्वाड में चयन ना होना उनके लिए एक और बुरी खबर थी। हालांकि पंत ने राजस्थान के खिलाफ खेली धमाकेदार पारी से सभी आलोचकों को करारा जवाब दिया। पंत ने रनों का पीछा करते हुए 36 गेंदो पर 6 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 78 रन बनाकर और नाबाद लौटे। पंत की इस पारी के बाद एक सवाल भारतीय फैंस के जहन में आ रहा है कि क्या विश्व कप स्क्वाड में पंत को ना लेकर बीसीसीआई ने बड़ी गलती तो नहीं कर दी।