पंजाब किंग्स इलेवन © Getty Images & designed by Paulami Chakraborty
पंजाब किंग्स इलेवन © Getty Images & designed by Paulami Chakraborty

साल 2014 में खिताब से एक कदम दूर रहने वाली किंग्स इलेवन पंजाब के प्रशंसकों को इस बार टीम से खासा उम्मीदें होंगी। टीम आईपीएल के इतिहास में अब तक कुछ खास नहीं कर पाई है, लेकिन इस बार टीम का इरादा अपने खेल से प्रशंसकों का खोया विश्वास दोबारा हासिल करने का होगा। पंजाब का आईपीएल का इतिहास अब तक कुछ पाना और बहुत कुछ खोने जैसा रहा है। आखिरी दो सीजन समेत कुल तीन बार टीम को सबसे निचले स्थान पर रहना पड़ा है। साल 2014 में जॉर्ज बेली की कप्तानी में टीम ने सिर्फ एक ही बार फाइनल तक का सफर तय किया है, वहीं टीम ने एक बार सेमीफाइनल में भी जगह बनाने में कामयाबी हासिल की है। साल 2009 और साल 2011 में टीम ने पांचवां स्थान हासिल किया था और 2012, 2013 में टीम को छठे स्थान पर रहना पड़ा था।

साल

टीम का प्रदर्शन

2008

सेमी फाइनल

2009

पांचवां स्थान

2010

आखिरी स्थान

2011

पांचवां स्थान

2012

छठा स्थान

2013

छठा स्थान

2014

फाइनल

2015

आखिरी स्थान

2016

आखिरी स्थान

2017

लेकिन क्रिकेट के खेल में पिछले रिकॉर्ड के कोई मायने नहीं रहते, क्योंकि हर साल टीम में बड़े बदलाव होते रहते हैं और इस लिहाज से हर साल एक नया साल और नये मौके की तरह होता है। अब जब आईपीएल-10 के लिए कुछ ही समय बाकी रह गया है, ऐसे में पंजाब की टीम पुराने प्रदर्शन को भुलाकर कुछ नया करने के इरादे से मैदान पर उतरेगी। आईपीएल-10 में इस बार टीम की कमान ग्लेन मैक्सवेल के हाथों में होगी।

भले ही पिछले दो सीजनों में टीम का प्रदर्शन बेहद खराब रहा हो, इसके बावजूद टीम ने अपने ज्यादातर खिलाड़ियों को बरकरार रखा है। टीम ने मिचेल जॉनसन, काइल एबॉट, फरहान बेहरदीन और ऋषि धवन को नीलामी से ठीक पहले रिलीज कर दिया था। इसके बाद टीम ने ऑयन मॉर्गन, डैरेन सैमी और मार्टिन गप्टिल सरीखे खिलाड़ियों को अपनी टीम में शामिल किया। पंजाब की टीम टूर्नामेंट शुरू होने से पहले पेपर पर काफी संतुलित नजर आ रही है। लेकिन देखना ये होगा कि क्या उनके खिलाड़ी अपने नाम के मुताबिक खेल दिखा पाएंगे या फिर नहीं।

टीम की मजबूती

1. टीम में मैच जिताऊ खिलाड़ियों की भरमार: टीम में बड़े और अहम खिलाड़ियों का होना टीम की सबसे बड़ी मजबूती है। टीम के पास ग्लेन मैक्सवेल, डेविड मिलर, ऑयन मॉर्गन, डैरेन सैमी, रिद्धिमान साहा, मार्कस स्टोइनिस, अक्षर पटेल और शॉन मार्श जैसे बड़े मैच विनर हैं, जो अपने दम पर मैच का रुख पलट सकते हैं। मिलर टीम के लिए मुख्य हथियार साबित हो सकते हैं, साल 2013 में उन्होंने अपने बल्ले का दम दिखाया भी था। मिलर ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 38 गेंदों में शतक ठोक दिया था।

2. मैक्सवेल और सहवाग की मौजूदगी: इस बार पंजाब की देखरेख पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग करेंगे और उन्होंने अपनी मौजूदगी का अहसास मैक्सवेल को कप्तानी दिलाकर करा भी दिया है। सहवाग और मैक्सवेल की बल्लेबाजी का तरीका लगभग एक जैसा ही है। ऐसे में दोनों की आक्रामक रणनीति टीम के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है।

टीम की कमजोरी

गेंदबाजी: पंजाब टीम के लिए उनकी गेंदबाजी सबसे कमजोर कड़ी है। टीम को अगर किसी क्षेत्र में पीछे रहना पड़ सकता है तो वो है गेंदबाजी। हालांकि टीम के पास वरुण एरॉन, नटराजन के रूप में प्रभावी गेंदबाज हैं। एरॉन पर टीम ने 2.8 करोड़ की राशि खर्च की है और ऐसे में उनके सामने खुद को साबित करने की बड़ी चुनौती होगी। वरुण एरॉन ने अब तक 36 मैचों में 34.04 की औसत से गेंदबाजी की है और उन्होंने एक बार भी चार या इससे ज्यादा विकेट नहीं लिए हैं। वहीं उनका इकॉनमी रेट 8.75 का रहा है। पंजाब के पास मोहित शर्मा और संदीप शर्मा के रूप में दो तेज गेंदबाज हैं। वहीं अनुरीत सिंह और स्टोइनिस भी टीम के लिए उपयोगी साबित हो सकते हैं। भले ही जादूई स्पिनर केसी करिअप्पा पिछले सीजन में कुछ खास नहीं कर पाए हों, लेकिन इस बार वो अक्षर पटेल का साथ देते नजर आ सकते हैं। टीम के पास रिंकू सिंह, राहुल तेवतिया, प्रदीप साहू जैसे स्पिनर भी हैं। वहीं जरूरत पड़ने पर मैक्सवेल भी स्पिन गेंदबाजी करा सकते हैं।

टीम का आईपीएल-10 का कार्यक्रम

तारीख

टीम

जगह

समय

दिन

अप्रैल-08 किंग्स इलेवन पंजाब राइजिंग पुणे सुपरजायंट इंदौर 4:00 PM शनिवार
अप्रैल-10 किंग्स इलेवन पंजाब रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर इंदौर 8:00 PM सोमवार
अप्रैल-13 कोलकाता नाइट राइडर्स किंग्स इलेवन पंजाब  कोलकाता 8:00 PM गुरुवार
अप्रैल-15 दिल्ली डेयरडेविल्स किंग्स इलेवन पंजाब  दिल्ली 8:00 PM शनिवार
अप्रैल-17 सनराइजर्स हैदराबाद किंग्स इलेवन पंजाब  हैदराबाद 8:00 PM सोमवार
अप्रैल-20 किंग्स इलेवन पंजाब मुंबई इंडियंस  इंदौर 8:00 PM गुरुवार
अप्रैल-23 गुजरात लायंस किंग्स इलेवन पंजाब  राजकोट 4:00 PM रविवार
अप्रैल-28 किंग्स इलेवन पंजाब सनराइजर्स हैदराबाद  मोहाली 8:00 PM शुक्रवार
अप्रैल-30 किंग्स इलेवन पंजाब दिल्ली डेयरडेविल्स  मोहाली 4:00 PM रविवार
मई-05 रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर किंग्स इलेवन पंजाब  बैंगलोर 8:00 PM शुक्रवार
मई-07 किंग्स इलेवन पंजाब गुजरात लायंस  मोहाली 8:00 PM रविवार
मई-09 किंग्स इलेवन पंजाब कोलकाता नाइट राइडर्स  मोहाली 8:00 PM मंगलवार
मई-11 मुंबई इंडियंस किंग्स इलेवन पंजाब  मुंबई 8:00 PM गुरुवार
मई-14 राइजिंग पुणे सुपरजायंट किंग्स इलेवन पंजाब  पुणे 4:00 PM रविवार

इन खिलाड़ियों पर होगा टीम को जीत दिलाने का दारोमदार: टीम के तरकश में इस बार ऐसे कई तीर हैं जो विरोधी टीमों के लिए खतरे की घंटी बजा सकते हैं। विस्फोटक बल्लेबाजों की पूरी कतार टीम को मजबूती प्रदान करती है, जिसका नेतृत्व दुनिया के सबसे आक्रामक बल्लेबाज ग्लेन मैक्लवेल करेंगे। टीम के पास ग्लेन मैक्सवेल, डेविड मिलर, रिद्धिमान साहा, ऑयन मॉर्गन, शॉन मार्श जैसे खिलाड़ी हैं जो टीम को मजबूती प्रदान करते हैं।

इस बार टीम से कितनी उम्मीद?: पंजाब की टीम के लिए अब तक आईपीएल का टूर्नामेंट कुछ खास नहीं रहा है। सिर्फ दो ही मौकों पर टीम ने अपने प्रदर्शन से सभी को चौंकाया था। लेकिन इस बार सहवाग की देखरेख और मैक्सवेल की कप्तानी में टीम से टूर्नामेंट में लंबा सफर तय करने की उम्मीद है। टीम की मजबूती उनके विस्फोटक बल्लेबाजों का होना है। लेकिन टीम के लिए भारतीय खिलाड़ियों का चलना काफी अहम रहेगा। अगर टीम इस बार अपनी पूरी ताकत से खेल दिखाने में कामयाब हो पाती है तो वो निश्चित रूप से इस सीजन में कई टीमों को चौंका सकती है।

आईपीएल-10 के लिए पंजाब किंग्स इलेवन की टीम: मनन वोहरा, शॉन मार्श/ऑयन मॉर्गन, ग्लेन मैक्सवेल, डेविड मिलर, रिद्धिमान साहा, डैरेन सैमी/मार्कस स्टोइनिस, गुरकीरत सिंह, अक्षर पटेल, संदीप शर्मा, मोहित शर्मा, टी नटराजन, प्रदीप साहू, अनुरीत सिंह, हाशिम आमला, स्वप्निल सिंह, मनन वोहरा, निखिल नायक, केसी करिअप्पा, अरमान जाफर, मार्टिन गप्टिल, मेट हेनरी, ऑयन मॉर्गन, मार्कस स्टोइनिस, राहिल तेवतिया, रिंकू सिंह

इस प्रकार हो सकती है प्लेइंग इलेवन: मनन वोहरा, शॉन मार्श/ऑयन मॉर्गन, ग्लेन मैक्सवेल, डेविड मिलर, रिद्धिमान साहा, डैरेन सैमी/मार्कस स्टोइनिस, गुरकीरत सिंह, अक्षर पटेल, संदीप शर्मा, मोहित शर्मा, टी नटराजन