Mohammad Nabi, Bairstow and Warner combine to horrify Bangalore in Hyderabad

इंडियन टी20 लीग में रविवार को पहले मुकाबले में हैदराबाद की टीम ने ऐसी धाक जमाई की बैंगलुरू की टीम कहीं टिक नहीं पाई। बल्लेबाजी में पहले जॉनी बेयरस्टो और डेविड वार्नर ने तूफानी शतक बनाया तो उसके बाद मोहम्मद नबी की कातिलाना गेंदबाजी ने बैंगलुरू को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया।

जॉनी बेयरस्टो और वार्नर की आतिशी बल्लेबाजी

बैंगलुरू की टीम के सामने 231 रन का स्कोर खड़ा करने के बाद ही तय हो गया था कि मुकाबला बहुत हद तक हैदराबाद ने अपने हक में कर लिया है। शुरुआत जॉनी बेयरस्टो और डेविड वार्नर ने धमाकेदार अंदाज में की।

पढ़ें:- 16 साल 157 दिन में किया आईपीएल डेब्यू, जानिए, कौन हैं प्रयास रे बर्मन

बेयरस्टो ने 28 गेंद पर अर्धशतक जमाया तो वार्नर ने 32 गेंद पर पचास रन पूरे किए। इसके बाद भी दोनों ने बैंगलुरू के गेंदबाजों की पिटाई जारी रखी। बेयरस्टो ने 52 गेंद पर 12 चौके और 5 छक्के की मदद से शतक पूरा किया तो वार्नर ने 54 गेंद पर 5 चौके और इतने ही छक्के लगाकर शतक पूरा किया। दोनों ने पहले विकेट के लिए रिकॉर्ड 185 रन की साझेदारी निभाई और यह मैच में अहम साबित हुआ।

मोहम्मद नबी के चार विकेट  

बैंगलुरू की टीम को मोहम्मद नबी ने शुरुआती झटके दिए, पार्थिव पटेल, शिमरोन हेटमेयर और एबी डिविलियर्स का विकेट हासिल कर मैच पर हैदराबाद की पकड़ मजबूत कर दी। नबी की शानदार गेंदबाजी की नतीजा था की बैंगलुरू सिर्फ 30 रन पर अपने पांच बड़े बल्लेबाजों का विकेट खो चुकी थी।

कोहली और डिविलियर्स फ्लॉप

232 रन के पहाड़ जैसे बड़े स्कोर का पीछा करते हुए बैंगलुरू को आतिशी शुरुआत के साथ दिग्गजों से बड़ी पारी की उम्मीद थी। विराट कोहली को ओपनिंग में बल्लेबाजी का जिम्मा संभालना चाहिए था। वैसे भी विराट को तीसरे ओवर में ही मैदान पर बल्लेबाजी के लिए आना पड़ा। एबी डिविलियर्स महज 1 रन बनाकर नबी की गेंद पर बोल्ड हो गए। यह विकेट बैंगलुरू की हार में फर्क लेकर आया। अगर कोहली और डिविलियर्स की जोड़ी टिक जाती तो मैच बदलने का माद्दा रखती थी।