MS Dhoni’s international career nearing end, BCCI bets on Rishabh Pant
MS Dhoni and Rishabh Pant

वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली जाने वाली सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान कर दिया गया। रविवार को मुंबई में हुई बैठक के बाद मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने टीम चयन की घोषणा की। यह चयन युवा विकेटकीपर रिषभ पंत के लिए अहम रहा क्योंकि महेंद्र सिंह धोनी की गैरहाजरी में उनको तीनों फॉर्मेट में विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

मुंबई में रविवार को हुई टीम चयन मीटिंग के बाद मुख्य चयनकर्ता प्रसाद ने यह साफ कर दिया कि धोनी की जगह लेने के लिए पंत तैयार हैं। उनको विंडीज दौरे पर तीनो फॉर्मेट में विकेटकीपर की भूमिका निभानी है और खुद को बेहतर साबित करने का उन्हें भरपूर मौका मिलेगा।

Rishabh Pant vs New Zealand in World cup Semi final

पंत के सामने अब वनडे और टी20 की चुनौती

टेस्ट में भारत की पहली पसंद बन चुके पंत को विंडीज दौरे पर टी20 और वनडे में भी विकेट के पीछे अहम भूमिका निभानी है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू वनडे सीरीज में दो मैचों में वह यह काम कर चुके हैं लेकिन अब वक्त है खुद को बेहतर और बेहतर साबित करने का। चयनकर्ताओं ने इशारा कर दिया है कि पंत को मौके दिए जाएंगे, जरूरत है उन्हें अच्छा करने की। विश्व कप में बतौर बल्लेबाज चौथे नंबर पर पंत ने 32, 48 और 32 रन की कुछ उपयोगी पारियां खेली थी लेकिन अब उनको इसमें सुधार करना होगा।

टेस्ट में पंत ने किया खुद को साबित

इंग्लैंड सीरीज के दौरान रिषभ पंत को टेस्ट डेब्यू करने का मौका मिला था। पहले मैच में पहली ही गेंद पर छक्का लगाकर उन्होंने यह जता दिया था वह धोनी की तरह ही आक्रामक बल्लेबाजी कर उनकी जगह को भरने के लिए तैयार हैं। इंग्लैंड में भले टीम इंडिया सीरीज हार गई लेकिन आखिरी मैच में उन्होंने 146 गेंद खेलकर 114 रन की पारी खेल जताया वह इस फॉर्मेट के लिए तैयार हैं।

Virat Kohli and Rishabh pant

इसके बाद भारत में वेस्टइंडीज के खिलाफ पंत के बल्ले से दो शानदार पारियां देखने को मिली। पहले राजकोट टेस्ट में महज 84 गेंद पर 92 रन बनाए और फिर हैदराबाद टेस्ट में भी 92 रन की पारी खेली। इन दोनों पारियों के बाद उनकी बड़ी पारी खेलने की क्षमता पर बात की जाने लगी।

पढ़ें:- ‘महेंद्र सिंह धोनी जैसे महान क्रिकेटर जानते हैं, कब संन्यास लिया जाए’

परिपक्वता की कमी जरूर नजर आई लेकिन इसमें सुधार करते हुए उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में सिडनी में आखिरी टेस्ट में धमाकेदार पारी खेली। इस मैच में पंत ने ना सिर्फ शतक जमाया बल्कि नाबाद 159 रन बनाकर वापस लौटे। 189 गेंद का सामना कर उन्होंने जताया कि वह वक्त के साथ बेहतर हो सकते हैं।

Rishabh Pant at Trent Bridge

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में शतक से रचा इतिहास

पंत भारत के एक मात्र विकेटकीपर हैं जिन्होंने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में शतक जमाया हो। पंत इतिहास रचते जा रहे हैं और धोनी की जगह लेने के लिए दावेदारी के मजबूत कर रहे हैं।

छोटे से टेस्ट करियर में बड़ा धमाल

पंत ने 9 टेस्ट मैच के छोटे से टेस्ट करियर में 49.71 की औसत से अब तक कुल 696 बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने दो शतक और दो अर्धशतक बनाए हैं। अगर वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट में वह 92 रन पर आउट नहीं होते तो यह आंकड़ा चार शतक का होता। खैर बतौर विकेटकीपर भी वह काफी सुधार कर रहे हैं। अब तक वह टेस्ट में 40 कैच पकड़ चुके हैं और दो स्टंपिंग भी किया है।