Mumbai Indians in IPL 2019, Preview: Rohit Sharma and Co wants to return on success path

तीन बार इंडियन प्रीमियर लीग का खिताब जीत चुकी मुंबई इंडियंस के लिए 2018 सीजन बुरे सपने जैसा था। रोहित शर्मा की कप्तानी में मुंबई फ्रेंचाइजी 11वें सीजन में खेले 14 मैचों में केवल 6 में जीत हासिल कर पाई। वहीं 8 मैचों में हारकर मुंबई इंडियंस प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो गई। रोहित की टीम के लिए आईपीएल का 12वां सीजन अपने खोए सम्मान को वापस पाने और सफलता की राह पर लौटने का मौका है।

कप्तान-रोहित शर्मा

मुंबई इंडियंस के कप्तान और शीर्ष क्रम बल्लेबाज रोहित शर्मा की फॉर्म पर टीम की सफलता काफी निर्भर करती है। 2018 सीजन रोहित के लिए रनों के हिसाब (14 मैच में 286 रन) से अच्छा नहीं रहा था और नतीजा मुंबई इंडियंस के अंकों पर भी पड़ा। आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रोहित (3,596 रन) फिलहाल अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं दिख रहे हैं। 12वें सीजन में मुंबई को अगर चौथे खिताब तक पहुंचना है तो रोहित के बल्ले से रन निकलने जरूरी होंगे।

पढ़ें:- IPL 2019 (प्रीव्यू): चौथे खिताब की तलाश में चेन्नई सुपरकिंग्स

कोच-महेला जयर्वधने

बतौर खिलाड़ी मुंबई इंडियंस के लिए खेल चुके श्रीलंकाई दिग्गज महेला जयवर्धने ने 2017 सीजन में मुंबई इंडियंस को तीसरे खिताब तक पहुंचाया था। लेकिन जयवर्धने के कार्यकाल में ही अगले सीजन में मुंबई प्लेऑफ से दौड़ से बाहर भी हुई। 12वें सीजन में कोच जयवर्धने पर मुंबई को एक बार फिर अपने शीर्ष खेल पर पहुंचाने की जिम्मेदारी होगी।

Mumbai Indians

मुंबई इंडियंस स्क्वाड: भारतीय खिलाड़ी- रोहित शर्मा (कप्तान), आदित्य तरे (विकेटकीपर), अनुकुल रॉय, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, जसप्रीत बुमराह, ईशान किशन (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, मयंक मारकंडे, राहुल चाहर, सिद्धेश लाड, बरिंदर सरां, युवराज सिंह, अनमोलप्रीत सिंह, पंकज जसवाल, रसिख डार। विदेशी खिलाड़ी- एडम मिल्ने, बेन कटिंग, कीरोन पोलार्ड, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), इविन लुईस, मिशेल मैक्लेनाघन, जेसन बेहरेनडॉर्फ, लसिथ मलिंगा।

पढ़ें:- IPL 2019: 12वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स के 5 अहम खिलाड़ी

इंडियन प्रीमियर लीग में अब तक का सफर

मुंबई इंडियंस 2013, 2015 और 2017 में आईपीएल खिताब की विजेता रही। साल 2010 में मुंबई उपविजेता रही और 2011, 2012 और 2014 में प्लेऑफ तक पहुंची। 2008, 2009, 2016 और 2018 आईपीएल सीजन में मुंबई फ्रेंचाइजी शीर्ष चार में जगह बनाने में विफल रही।

अहम खिलाड़ी

कप्तान रोहित शर्मा, तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के अलावा हार्दिक और क्रुणाल पांड्या मुंबई इंडियंस के अहम खिलाड़ियों में हैं। विदेशी क्रिकेटरों में कीरोन पोलार्ड मुंबई के सबसे मंझे हुए बल्लेबाज हैं। मिचेल मैक्लेनाघन भी लंबे समय से मुंबई टीम के पेस अटैक का हिस्सा हैं। 12वें सीजन में मुंबई के पास ईशान किशन और क्विंटन डी कॉक जैसे दो विकेटकीपर बल्लेबाज हैं, एक अनुभवी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर और दूसरा भारतीय स्थितियों से अच्छी तरह वाकिफ प्रतिभाशाली युवा बल्लेबाज। सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में झारखंड की कप्तानी करते हुए किशन ने शानदार बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया।

2019 सीजन में शामिल हुए नए खिलाड़ी

मुंबई इंडियंस ने 12वें सीजन की नीलामी के दौरान कई नए खिलाड़ियों को स्क्वाड में शामिल किया है। जिसमें दक्षिण अफ्रीकी विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक शामिल हैं, जो कि शीर्ष क्रम की जिम्मेदारी संभालेंगे। भारतीय खिलाड़ियों में सबसे पहला नाम है युवराज सिंह का, जिन्हें इस सीजन में कोई खरीददार ना मिलने की आशंका लग रही थी। युवराज के पास इस सीजन अपने आपको साबित करने का सुनहरा मौका है। युवी के अलावा मुंबई टीम ने बरिंदर सरां, अनमोलप्रीत सिंह, पंकज जायसवाल, रसिख डार को स्क्वाड में शामिल किया है।

12वें सीजन की भविष्यवाणी

मुंबई इंडियंस जैसी टीम से हर सीजन की तरह इस बार भी कड़ी प्रतिद्वंदिता की उम्मीद है, लेकिन पिछले सीजन में टीम के निराशाजनक प्रदर्शन को देखते हुए कुछ कहा नहीं जा सकता है। मुंबई इंडियंस के पास टीम इंडिया के विश्व कप स्क्वाड के उम्मीदवार हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह हैं। बीसीसीआई के बयान की मानें तो मुमकिन है कि तेज गेंदबाज बुमराह और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या टूर्नामेंट के आधे भाग का हिस्सा ना हों। ऐसे में मुंबई इंडियंस की परेशानी बढ़ सकती है। कोच और कप्तान को टूर्नामेंट की शुरुआत से ही ऐसा अटैक तैयार करना होगा जो कि इन दो खिलाड़ियों पर ज्यादा निर्भर ना हो।