English

निदास ट्रॉफी 2018: श्रीलंका में धमाल मचाएंगे ये सात भारतीय युवा खिलाड़ी

By Gunjan Tripathi | Updated:Mon, March 05, 2018 6:55pm

श्रीलंका में होने वाली टी20 ट्राई सीरीज में दीपक हुड्डा, मोहम्मद सिराज, जयदेव उनादकट, शार्दुल ठाकुर जैसे युवा खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं।

कल से शुरू होने जा रही निदास ट्रॉफी में एक युवा भारतीय टीम श्रीलंका और बांग्लादेश से भिड़ेगी। 6 से 18 मार्च तक चलने वाली इस टी20 सीरीज में भारतीय टीम को कुल 4 मैच खेलने हैं। विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी की गैर मौजूदगी में रोहित शर्मा की कप्तानी में एक नहीं बल्कि सात युवा भारतीय क्रिकेटर इस टूर्नामेंट के जरिए अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए तैयार हैं। दीपक हुड्डा, विजय शंकर, वाशिंगटन सुंदर, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज, ऋषभ पंत और जयदेव उनादकट ऐसे खिलाड़ियों में से है जिनकी किस्मत इस टूर्नामेंट से तय होगी। आइए इन सात युवा क्रिकेटर से आपकी पहचान कराते हैं।

जयदेव उनादकट: दाएं हाथ के तेज गेंदबाज उनादकट इन सातों खिलाड़ियों में से सबसे ज्यादा अनुभवी कहे जा सकते हैं। 26 साल के इस खिलाड़ी ने भारतीय टीम के लिए तीनों फॉर्मेट खेले हैं। हालांकि टी20 को छोड़ किसी भी फॉर्मेट में उनादकट की जगह पक्की नहीं हो पाई है। उनादकट ने साल 2013 में जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे मैच से टीम इंडिया के लिए अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू किया था लेकिन पिछले पांच साल से उनादकट एक भी वनडे मैच नहीं खेले हैं। ऐसे में इस टी20 सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर उनादकट वनडे टीम में वापसी करना चाहते हैं। हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में भी उनादकट ने अच्छा प्रदर्शन किया था। और अब जबकि जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार टीम से बाहर हैं तो तेज गेंदबाजी अटैक की अगुवाई उनादकट ही करेंगे।

वाशिंगटन सुंदर: 18 साल की उम्र में भारत के लिए डेब्यू कर चर्चा में आए तमिलनाडु के वाशिंगटन सुंदर ने भारत के लिए अब तक केवल दो मैच (एक वनडे, एक टी20) खेले हैं। सुंदर पिछले आईपीएल सीजन के दौरान लाइमलाइमट में आए थे। स्टीवन स्मिथ की कप्तानी में राइजिंग पुणे सुपरजायंट के लिए खेलते हुए सुंदर ने सभी को प्रभावित किया था। 2017 में सुंदर ने श्रीलंका के खिलाफ सीरीज के दौरान वनडे और टी20 डेब्यू किया था। भले ही सुंदर के पास अंतर्राष्ट्रीय टी20 मैच का ज्यादा अनुभव ना हो लेकिन आईपीएल में उन्होने कई विदेशी बल्लेबाजों को धूल चटाई है।

मोहम्मद सिराज: हैदराबाद के मोहम्मज सिराज 2017 में चर्चा में आए थे जब सनराइजर्स हैदराबाद टीम ने उन्हें 2.6 करोड़ रुपए में खरीदा था। उसके कुछ ही महीनों बाद सिराज को टीम इंडिया के लिए खेलने का मौका मिला। हालांकि सिराज का डेब्यू मैच कुछ खास नहीं रहा था लेकिन विजय हजारे टूर्नामेंट में उनका हालिया प्रदर्शन कमाल का रहा है। सिराज ने हैदराबाद की तरफ से खेलते हुए 7 मैचों में 23 विकेट लिए, जिसमें तीन पांच विकेट हॉल शामिल हैं। सिराज के लिए ये सीरीज भारतीय टी20 टीम में जगह पक्की करने का सुनहरा मौका है।

ऋषभ पंत: शायद ये बात आपको हैरान करेगी कि भारतीय क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी के उत्तराधिकारी माने जा रहे ऋषभ पंत ने टीम इंडिया के लिए केवल एक अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला है। पंत ने 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ टी20 मैच से अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू किया था। जिसके बाद से वो टीम इंडिया से बाहर हैं। अब जबकि पंत को राष्ट्रीय टीम में वापसी का मौका मिला है तो वो इसे आसानी से जाने नहीं देंगे। पंत ने हाल ही में खेली गई विजय हजारे ट्रॉफी में हिमांचल प्रदेश के खिलाफ मैच में 135 रनों की शानदार पारी खेली थी। जिससे साफ होता है कि वो शानदार फॉर्म में हैं। वैसे तो दिनेश कार्तिक के टीम में रहते पंत को मौका मिलने की संभावना कम है लेकिन उन्हे जो भी मौका मिलेगा वो उसका पूरा फायदा उठाना चाहेंगे।

शार्दुल ठाकुर: दक्षिण अफ्रीका दौरे पर अपने पहले ही वनडे मैच में 4 विकेट लेकर शार्दुल ठाकुर ने क्रिकेट समीक्षकों को अपनी प्रतिभा का कायल बना दिया। इसी दौरे पर खेले दो टी20 मैचों में भी ठाकुर ने अच्छी गेंदबाजी की। बुमराह-भुवनेश्वर की गैर मौजूदगी में ठाकुर उनादकट के साथ मिलकर भारतीय पेस अटैक को संभालेंगे। हालांकि उन्होंने अब तक भारतीय टीम के लिए केवल 5 ही मैच खेले हैं लेकिन ठाकुर को प्रथम श्रेणी और लिस्ट ए मैचों का काफी अनुभव है। ठाकुर नई गेंद के साथ शुरुआती ओवरों में विकेट निकालने का माद्दा रखते हैं, वहीं डेथ ओवरों में भी उनकी लाइन और लेंथ सटीक रहती है।

विजय शंकर: तमिलनाडु के इस युवा ऑलराउंडर को भारतीय टीम का बुलावा पहले भी आया था लेकिन टीम इंडिया के लिए डेब्यू करने का मौका शंकर को अभी तक नहीं मिला है। लेकिन टी20 ट्राई सीरीज में हार्दिक पांड्या की गैर मौजूदगी में शंकर ही भारतीय टीम के प्रमुख ऑलराउंडर होंगे। शंकर के हालिया प्रदर्शन की बात करें तो तमिलनाडु के लिए विजय हजारे ट्रॉफी में खेले 4 मैचों में उन्होंने 2 विकेट लेकर 200 रन बनाए हैं।

दीपक हुड्डा: विजय शंकर की तरह ही दीपक हुड्डा  भी इस दौरे पर अपने अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू का इंतजार कर रहे हैं। हरीकेन के नाम से मशहूर हुड्डा ने आईपीएल और बाकी घरेलू टूर्नामेंट्स में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। हुड्डा ने 31 प्रथण श्रेणी मैचों में 50.18 की औसत से 2,208 रन बनाए। जिसमें उनका सर्वाधिक स्को 293 का है। हुड्डा ने विजय हजारे ट्रॉफी में बड़ौदा के लिए खेलते हुए 7 मैचों में 352 रन बनाए हैं। जिसमें एक शतक और एक अर्धशतक शामिल है। निदास टी20 सीरीज में हुड्डा भारतीय बल्लेबाजी क्रम को और भी मजबूत बना सकते हैं।

Published:Mon, March 05, 2018 6:55pm | Updated:Mon, March 05, 2018 6:55pm

Tags

Jaydev Unadkat Vijay Shankar Team India Shardul Thakur Deepak Hooda Rishabh Pant Mohammed Siraj washington sundar Nidahas Trophy 2018
Outbrain

More From Articles

भारत के लिए आज मुसीबत बन सकते हैं ये अफगानिस्तानी खिलाड़ी
जानिए, किस टीम के खिलाफ भारत खेलेगा एशिया कप का फाइनल
फैन का दावा- एशिया कप फाइनल में भारत को हराएगा पाकिस्तान
रोहित शर्मा ने ओपनिंग में मचाया धमाल, तोड़ा सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड
रोहित के नाबाद शतक ने बताया, रो 'हिट' मैन जिम्मेदार हो गया

More From Cricketcountry

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने विराट कोहली को खेल रत्‍न अवार्ड से किया सम्‍मानित
दीपक चाहर को मिला ODI डेब्‍यू का मौका, जाने उनका सफर
जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे सीरीज से बाहर हुए हाशिम आमला, डीन एल्गर को मिला मौका
200वें वनडे मैच में भारत की कप्तानी करने उतरे महेंद्र सिंह धोनी
एशिया कप: मोहम्मद शहजाद शतक के करीब, अफगानिस्तान 109/3

Explore more