सचिन तेंदुलकर © AFP
सचिन तेंदुलकर © AFP

29 जून ये वो तारीख है जब क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर ने इतिहास रचा था। आज से ठीक 10 साल पहले सचिन ने 15 हजार वनडे रनों का आंकड़ा छुआ था। सचिन ने आयरलैंड के बेलफास्ट में द.अफ्रीका के खिलाफ खेलते हुए सीरीज के दूसरे मैच में 15 हजार रनों का जादुई आंकड़ा छुआ था। इस मैच के 18वें ओवर की छठी गेंद पर एक रन लेते ही सचिन ने नया इतिहास रच दिया था।

शतक से चूके थे सचिन

2007 में 3 मैचों की सीरीज में द.अफ्रीका के खिलाफ पहला मैच गंवाने के बाद टीम इंडिया ने दूसरे मैच में पलटवार किया और इसकी सबसे बड़ी वजह रहे सचिन तेंदुलकर। सचिन ने इस मुकाबले में 15 हजार वनडे रनों का जादुई आंकड़ा तो छुआ ही साथ ही उन्होंने इस मुकाबले में मैच जिताऊ पारी भी खेली। 227 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया को सचिन और सौरव गांगुली की जोड़ी ने जबर्दस्त शुरुआत दिलाई। दोनों के बीच 28.1 ओवर में 134 रनों की साझेदारी हुई। इस साझेदारी के दौरान 18वें ओवर में सचिन ने आंद्रे नेल की छठी गेंद पर कवर्स की ओर शॉट खेलकर एक रन चुराने की कोशिश की। इस दौरान फील्डर ने थ्रो फेंका और गेंद बाउंड्री की ओर चली गई, सचिन को इससे 5 रन मिले और इसी के साथ उन्होंने वनडे क्रिकेट में अपने 15 हजार रन भी पूरे कर लिए।

हालांकि सचिन इस मुकाबले में शतक बनाने से चूक गए थे। सचिन ने इस मैच में 93 रन की पारी खेली, जिसमें उन्होंने 13 चौके और 2 छक्के लगाए। सचिन की इसी पारी की बदौलत टीम इंडिया ने जीत दर्ज की और साथ में सीरीज भी 1-1 से बराबर हुई। सचिन पहले मैच में भी अपने शतक से चूक गए थे। सचिन ने 99 रन की पारी खेली थी। वैसे सीरीज के तीसरे मैच में टीम इंडिया ने जीत दर्ज कर सीरीज को अपने नाम किया था।

सचिन तेंदुलकर का करियर

2007 में 15 हजार वनडे रन पूरे करने वाले सचिन तेंदुलकर ने वनडे करियर में सबसे ज्यादा 18426 रन बनाए। वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में सचिन के नाम 49 शतक हैं, जबकि दूसरा कोई बल्लेबाज उनके आसपास भी नहीं है। वनडे क्रिकेट में सचिन के नाम 96 अर्धशतक हैं। यही नहीं वनडे क्रिकेट में सचिन 2 हजार से ज्यादा चौके लगाने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं। फटाफट क्रिकेट में उनके नाम 2016 चौके दर्ज हैं।