भारतीय टीम के गब्बर आज 31 साल के हो गए हैं © Getty Images
भारतीय टीम के गब्बर आज 31 साल के हो गए हैं © Getty Images

भारतीय क्रिकेट टीम के ‘गब्बर’ शिखर धवन आज 32 साल के हो गए हैं। 5 दिसंबर 1985 को दिल्ली में जन्मे धवन को इंटरनेशनल क्रिकेट में आने के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ा। मगर जैसे ही इस खब्बू बल्लेबाज को मौका मिला इसने धमाल मचाने का एक भी मौका नहीं गंवाया। शुरूआती दिनों में एक विकेटकीपर के तौर पर क्रिकेट खेलने वाले धवन को आज दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में गिना जाता है। शतक बनाने के बाद उनका मूझों को ताव देते हुए जश्न मनाने का अंदाज पूरी दुनिया को पसंद है। तो आइए धवन के जन्मदिन पर उनके जीवन के रोचक किस्सों पर नजर डालते हैं।

अंडर-19 विश्व कप में मचाया था धमाल:

2003 में दिल्ली अंडर-19 टीम की कप्तानी संभालने वाले धवन ने शानदार प्रदर्शन किया। 2004 में उनकी कप्तानी में भारतीय अंडर-19 टीम ने विश्व कप में हिस्सा लिया। इस सीरीज में धवन ने बल्ले से ऐसा कोहराम मचाया कि विरोधी गेंदबाज पानी मांगते दिखे। इस टूर्नामेंट में उन्होंने सबसे ज्यादा रन बनाए थे। इस टूर्नामेंट के 7 मैचों 505 का स्कोर बनाया जिसमें 3 शतक और 1 अर्धशतक शामिल था।

2010 में मिला डेब्यू करने का मौका:

अंडर 19 विश्व कप 2004 में धमाल मचाने के बाद भी धवन को भारत के लिए खेलने का मौका नहीं मिल पाया। मगर उन्होंने हार नहीं मानी और अंततः 2010 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विशाखापत्तनम में खेले गए वनडे मैच में उनको भारत के लिए नीली जर्सी पहनने का मौका मिला। हालांकि धवन इस मौके को भुनाने में नाकाम रहे और बिना कोई रन बनाए पवेलियन लौट गए। वेस्टइंडीज के खिलाफ अगली सीरीज में फिर से उनका बल्ला कुछ खास नहीं कर सका और उन्हें वनडे टीम में अपनी जगह गंवानी पड़ी। [Also Read: नंबर 1 से नंबर 11 तक सभी पोजीशन पर बल्लेबाजी करने वाले खिलाड़ी]

चैंपियंस ट्रॉफी में की शानदार वापसी:

2013 में धवन ने फिर से भारतीय टीम में वापसी की और क्या शानदार वापसी की। उन्होंने 2013 चैंपियंस ट्रॉफी में 2 शतक जमाते हुए 363 रन के साथ टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने। यह धवन ही थे जिनकी बदौलत भारत ने यह खिताब अपने नाम किया।

पहले ही टेस्ट में बनाया विश्व रिकॉर्ड:

वनडे क्रिकेट में डेब्यू करने के 3 साल बाद धवन को टेस्ट खेलने का मौका मिला। पहले वनडे में शून्य पर आउट होने वाले धवन ने इस मौके को दोनों हाथों से भुनाया। मोहाली में 14-18 मार्च 2013 को उन्होंने भारत के लिए पहला टेस्ट खेलते हुए 187 रनों की पारी खेली। इस पारी के दौरान धवन ने सिर्फ 85 गेंदों में शतक पूरा कर लिया था। जो डेब्यू टेस्ट में बनाया गया सबसे तेज शतक है। इससे पहले किसी भी बल्लेबाज ने अपने पहले मैच में इतना तेज शतक नहीं जमाया था। [Also Read: महेन्द्र सिंह धोनी के लिए खास है दिसंबर का महीना]

फिल्मी कहानी की तरह है जिंदगी:

क्रिकेट करियर की तरह ही धवन की निजी जिंदगी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है। धवन की अपनी पत्नी आयशा से मुलाकात सोशल नेटवर्किंग साइट से हुई थी और पहली ही मुलाकात में आयशा अपने गब्बर को पसंद आ गई थी। दोनों की लव स्टोरी को आगे बढ़ाने में हरभजन सिंह का हाथ है। हरभजन ने दोनों की मुलाकात कराई जिसके बाद दोनों ने शादी के बंधन में बंधने का फैसला किया।

अपनी बीवी से 10 साल छोटे हैं गब्बर:

बहुत कम लोग जानते हैं कि धवन की पत्नी आयशा उनसे 10 साल बड़ी हैं। धवन से उनकी दूसरी शादी है। आयशा को पहले पति से दो बेटियां हैं जबकि धवन से एक बेटा है।